Breaking News

हिमाचल: मौत के चंद मिनटों पहले फोटो खींचे, लिखा-प्रकृति मां के बिना जीवन कुछ भी नहीं, और फिर

हिमाचल: मौत के चंद मिनटों पहले फोटो खींचे, लिखा-प्रकृति मां के बिना जीवन कुछ भी नहीं, और फिर

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में रविवार को हुए भू-स्खलन में 9 लोगों की मौत हो गई. मरने वालों में जयपुर में गुर्जर की थड़ी स्थि‍त शांति नगर की रहने वाली 34 वर्षीय दीपा शर्मा भी थीं. वह पेशे से आयुर्वेदिक चिकित्सक (Ayurvedic Doctor) थीं और घर पर ही क्लीनिक चलाती थीं. वह एक ट्रेवलर में हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) घूमने आई थीं. दीपा हिमाचल यात्रा के अनुभवों को लगातार सोशल मीडिया पर शेयर कर रही थीं. इनमें एक ट्वीट में अपने फोटो के साथ लिखा कि प्रकृति मां के बिना जीवन कुछ भी नहीं है. इसके कुछ घंटों बाद ही डॉ. दीपा शर्मा प्रकृति की गोद में हमेशा के लिए समा गईं.

बता दें कि डॉ. दीपा शर्मा ने हादसे के कुछ घंटे पहले ही घटनास्थल के आसपास काफी फोटोग्राफी की थी. इनमें कुछ फोटो अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट भी की थी. मौत से महज कुछ मिनट पहले उन्‍होंने अपना एक फोटो भी ट्वीट किया था. इस फोटो के साथ उन्‍होंने लिखा था, 'भारत के उस आखिरी पॉइंट पर खड़ी हूं जिसके आगे जाने की नागरिकों को अनुमति नहीं है. इस जगह से करीब 80 किलोमीटर दूर तिब्‍ब्‍त का बॉर्डर है, जिस पर चीन ने अवैध कब्‍जा कर रखा है.'


डॉ. दीपा ने ये फोटो की थी ट्वीट

कैसे हुआ हादसा बता दें कि हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में बटसेरी के पहाड़ी से पत्थर टूट कर नीचे गिर रहे थे. चट्टान गिरने से कई वाहन उसकी चपेट में आए हैं. इस दुर्घटना में पर्यटकों से भरी गाड़ी पर भारी पत्थर गिर गया जिससे उसमें सवार नौ लोगों की मौत हो गई. जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं. घायलों को सीएचसी सांगला रेफर किया गया है.

सीएम ने दुख जाहिर किया मुख्यमंत्री जयराम सिंह ठाकुर ने इस दर्दनाक घटना पर दुख जाहिर किया. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'किन्नौर के बटसेरी में पहाड़ी दरकने से हुआ हादसा हृदयविदारक है. इसकी चपेट में आया पर्यटकों से सवार वाहन जिसमें 9 की मृत्यु व 2 घायल तथा 1 अन्य राहगीर के घायल होने की खबर अत्यंत दुखद है. ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति तथा शोकग्रस्त परिवार को संबल प्रदान करें. मैंने फोन के माध्यम से किन्नौर जिला प्रशासन से हादसे की जानकारी ली व उन्हें दिशानिर्देश दिए. प्रशासन घटनास्थल पर राहत कार्य में जुट गया है तथा प्रभावितों को फौरी राहत प्रदान की जा रही है. घायल हुए व्यक्तियों को स्वास्थ्य लाभ शीघ्र प्राप्त हो, ईश्वर से यही कामना करता हूं. ॐ शांति!'

No comments