Breaking News

पहले ही दौर में ऑस्ट्रेलिया-साउथ अफ्रीका पर मंडराया खतरा

पहले ही दौर में ऑस्ट्रेलिया-साउथ अफ्रीका पर मंडराया खतरा

अक्टूबर महीने में 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) के ग्रुपों की घोषणा आईसीसी (ICC) ने कर दी है. सुपर 12 में 2 ग्रुप (Team Groups) को रखा गया है. दूसरे ग्रुप में भारत-पाकिस्तान की टीमें शामिल हैं. इसी समूह का हिस्सा न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान भी है. इसके साथ ही राउंड 1 से क्वालिफाई करने वाली ग्रुप ए और ग्रुप बी की दूसरी टीम भी इसी ग्रुप में शामिल होंगी.

टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup)में इन दो टीमों की बढ़ सकती हैं मुश्किलें: सुपर 12 राउंड के ग्रुप 1 को ग्रुप ऑफ डेथ भी कहना गलत नहीं होगा क्योंकि इसमें शामिल 4 टीमें ऐसी भी हैं जो बेहतरीन क्रिकेट खेलती हैं. ग्रुप 1 में ऑस्ट्रेलिया, साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज को रखा गया है. लेकिन, सुपर 12 राउंड में ऑस्ट्रेलिया (Australia) और साउथ अफ्रीका (South Africa) की मुश्किलें अभी से ही बढ़ती हुई दिखाई दे रही हैं. क्योंकि दो बार ट्रॉफी को अपने नाम कर चुकी वेस्टइंडीज और टी20 क्रिकेट में विस्फोटक प्रदर्शन करने वाली इंग्लैंड को इसी ग्रुप में शामिल किया गया है.

इन दोनों टीमों के हिसाब से ऑस्ट्रेलिया की मौजूदा टी20 टीम कुछ खास मजबूत स्थिति में नजर नहीं आ रही है. इसका अंदाजा आप ऑस्ट्रेलियाई टीम के हालिया प्रदर्शन से लगा सकते हैं. क्योंकि वेस्टइंडीज के खिलाफ टीम को लगातार तीन टी20 मैच में शिकस्त का सामना करना पड़ा है और सीरीज से भी हाथ धो बैठी है. इस समय कंगारू टीम के कई सीनियर खिलाड़ी वर्ल्ड कप से पहले आराम कर रहे हैं.

टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में इस वजह से मुसीबत में है ऑस्ट्रेलिया-साउथ अफ्रीका: ग्लेन मैक्सवेल से लेकर मार्कस स्टोयनिस समेत कई खिलाड़ियों का नाम इस लिस्ट में शामिल है, जो वेस्टइंडीज के दौरे पर नहीं पहुंचे हैं. लेकिन, ऑस्ट्रेलिया की गेंदबाजी भी पहले की तरह धारदार नहीं रही है, जिसके जरिए वो पहले विरोधियों को घुटने टेकने पर मजबूर करती थी. इसी कमजोरी का पूरा फायदा कैरेबियाई टीम उठा रही है. इतना ही नहीं कंगारू की ही कैटेगरी में साउथ अफ्रीका भी शामिल है.

टीम की सबसे बड़ी कमजोरी बल्लेबाजी लाइनअप है. जिसके कारण उनका पहले ही दौर से बाहर होने का संकट मंडराने लगा है. ऐसे में आपको ये भी बताते हैं कि, ग्रुप 1 में शामिल टीमों का बीते एक साल में कैसा प्रदर्शन रहा है. बीते एक साल के रिकॉर्ड को पलटकर देखें तो ऑस्ट्रेलिया ने 15 में से 10 टी20 मैच गंवा दिए हैं. सिर्फ मुकाबले में ही जीत हासिल कर सकी है. वेस्टइंडीज के बीते एक साल के परफॉर्मेंस की बात करें तो कुछ खास उपलब्धि टीम हासिल नहीं कर सकी है.

ऐसे रहा ग्रुप 1 में शामिल टीमों का टी20 में प्रदर्शन वेस्टइंडीज को अब तक खेले 15 मैच में से 7 टी20 मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है. जबकि 7 में जीत हासिल की है और 1 मैच बेनतीजा रहा. जबकि इंग्लैंड का टी20 प्रारूप में शानदार प्रदर्शन रहा. एक साल में इंग्लैंड ने 17 मैच खेले और 11 में जीत हासिल की. जबकि 5 में हार और 1 मैच बेनतीजा रहा. साउथ अफ्रीका ने बीते एक साल में 15 मैच खेले और ऑस्ट्रेलिया की तरह 10 मैच गंवा दिए और सिर्फ 5 में जीत हाथ लगी.

नजर डालें टी20 वर्ल्ड कप 2021 (T20 World Cup 2021) के जारी नियमों पर तो हर ग्रुप की टॉप 2 टीमें सेमीफाइनल में पहुंचेगी. ऐसे में ग्रुप 1 में ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका को बेहतरीन प्रदर्शन करना होगा तभी वो इंग्लैंड और वेस्टइंडीज जैसी मजबूत टी20 टीमों को शिकस्त देकर अंतिम 4 में जगह पक्की कर पाएंगी.

No comments