Breaking News

आज से बदल जाएंगे आपकी जेब से जुड़े ये नियम, अब घर, कार या बैंक ट्रांजैक्शन से पहले पढ़ लें ये खबर!

आज से बदल जाएंगे आपकी जेब से जुड़े ये नियम, अब घर, कार या बैंक ट्रांजैक्शन से पहले पढ़ लें ये खबर!

Rules Changed From 1st August: जुलाई का महीना खत्म हो चुका है और अगस्त का महीना शुरू हो गया है। नया महीना कुछ नए नियमों के साथ शुरू हुआ है। इस महीने के पहले ही दिन से कुछ नियम बदल गए हैं। इन नियमों में आपकी सैलरी (new rule about salary credit) से लेकर आपको पेंशन मिलने, भुगतान करने, कैश निकालने, डोर-स्टेप बैंकिंग (Door step banking) का फायदा उठाने आदि से जुड़े नियम शामिल हैं। गाड़ियां खरीदने की सोच रहे हैं तो अब आपको अधिक पैसे (Car Bike Price Hike) चुकाने पड़ सकते हैं। आइए जानते हैं 1 अगस्त से कौन-कौन से नियम बदल गए हैं।

1- आज से बिना केवाईसी का ट्रेडिंग अकाउंट बंद डीमैट या ट्रेडिंग अकाउंट वाले निवेशकों ने अगर 31 जुलाई तक केवाईसी पूरी नहीं की है तो उनके अकाउंट आज यानी 1 अगस्त से निष्क्रिय हो जाएंगे। अप्रैल में सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज (सीडीएसएल) और नैशनल सिक्यॉरिटीज डिपॉजिटरीज लिमिटेड (एनएसडीएल) ने इस बारे में सर्कुलर जारी किया था। निवेशकों को केवाईसी डिटेल में नाम, पता, मोबाइल नंबर, पैन नंबर, ईमेल आईडी और इनकम रेंज के बारे में बताना है। बहुत सी स्टॉक ब्रोकिंग कंपनियों ने अपने क्लाइंट्स को इस बारे में ईमेल या लेटर भेजकर आगाह किया है।

2- अब छुट्टी के दिन भी मिलेगी सैलरी-पेंशन आज से सैलरी, पेंशन और ईएमआई का भुगतान सातों दिन (24×7) यानी छुट्टी के दिन भी हो सकेगा। नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस यानी एनएसीएच की सुविधा अब सप्ताह के सभी दिन मिलेगी। एनएसीएच का काम सिर्फ सैलरी और ब्याज आदि देना नहीं होता है, बल्कि एनएसीएच बिजली, गैस, टेलीफोन, पानी, लोन की किस्तों यानी ईएमआई, म्यूचुअल फंड में निवेश और बीमा प्रीमियम के भुगतान का संग्रहण भी करता है। अभी तक यह सुविधा बैंकों के वर्किंग डेज पर ही मिलती थी।

3- दूसरे बैंक के एटीएम से कैश निकालना हो सकता है महंगा भारतीय रिजर्व बैंक ने दूसरे बैंक के एटीएम से कैश निकालने पर लगने वाली इंटरचेंज फीस 15 से बढ़कर 17 रुपये करने का ऐलान किया था। उसके मुताबिक, गैर-वित्तीय ट्रांजैक्शन के लिए इंटरचेंज फीस 5 से बढ़कर 6 रुपये होगी। करीब 9 साल बाद यह फीस बढ़ी है। बैंक इस फीस का बोझ ग्राहकों पर डालेंगे। हालांकि ग्राहकों पर कितना बोझ बढ़ेगा, यह बैंकों को ही तय करना है। आज से एटीएम से कैश निकालना हो सकता है महंगा।

4- डोरस्टेप बैंकिंग का बढ़ गया चार्ज आज यानी 1 अगस्त से इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक ग्राहकों से डोरस्टेप बैंकिंग के लिए चार्ज लेगा। चुनिंदा प्रॉडक्ट और सर्विसेज के लिए हर रिक्वेस्ट पर 20 रुपये और अतिरिक्त जीएसटी देना होगा। इन सेवाओं में कैश निकालना, कैश जमा करना, अपने या दूसरे के खाते में पैसे ट्रांसफर करना, सुकन्या समृद्धि खाता, पीपीएफ, आरडी से जुड़ी सेवाएं आएंगी। तो अगर आप भी इनमें से किसी सेवा की डोरस्टेप बैंकिंग का फायदा लेना चाहते हैं तो अधिक पैसे चुकाने के लिए तैयार रहिए।

5- कार-बाइक की कीमतों में जाफा टोयोटा ने 1 अगस्त से इनोवा क्रिस्टा की कीमतों में 2 फीसदी इजाफे का ऐलान किया है। जापान की दिग्गज दोपहिया वाहन निर्माता कंपनी कावासाकी इंडिया अपनी मोटरसाइकिलों को 6,000 रुपये से लेकर 15,000 रुपये तक महंगा करने जा रही है। टाटा मोटर्स ने भी अपने कारों को महंगा करने की बात कही है। स्टील समेत ऑटोमोबाइल सेक्टर में इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल की बढ़ती कीमतों के चलते कारें और बाइक महंगे हो रहे हैं।

6- ICICI बैंक बढ़ा रहा है ये चार्ज ICICI बैंक 1 अगस्त 2021 से कुछ शुल्कों में बढ़ोतरी करने वाला है। ये नियम बचत खातों के लेनदेन एटीएम ट्रांजेक्शन इंटरचेंज और चेकबुक से जुड़े हुए हैं। ICICI बैंक ने हर महीने 4 मुफ्त नकद लेन-देन की छूट दी है। इस लिमिट को क्रॉस करने पर 150 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन का चार्ज चुकाना होगा। 1 अगस्त से होम ब्रांच से हर महीने 1 लाख रुपये तक का नकद लेन-देन किया जा सकेगा। उससे अधिक के लेन-देन पर 5 रुपये प्रति 1000 रुपये का चार्ज लगेगा और न्यूनतम 150 रुपये देना ही होगा। वहीं नॉन होम ब्रांच से एक दिन में 25 हजार रुपये तक के लेन-देन पर कोई शुल्क नहीं लगेगा। इससे अधिक के लेन-देन पर 5 रुपये प्रति 1000 रुपये का शुल्क लगेगा। इसमें भी न्यूनतम 150 रुपये का चार्ज देना ही होगा।

एक साल में ICICI बैंक के ग्राहक को 25 चेक के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा। इसके बाद प्रति 10 चेक के लिए 20 रुपये का अतिरिक्त चार्ज देना होगा। मुंबई, नई दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु और हैदराबाद जैसे 6 मेट्रो शहरों में महीने में 3 फाइनेंशियल और नॉन-फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन मुफ्त रहेंगे। वहीं बाकी सभी शहरों में महीने में 5 ट्रांजेक्शन मुफ्त मिलेंगे। इससे अधिक एटीएम ट्रांजेक्शन करते हैं तो हर फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन के लिए 20 रुपये चुकाने होंगे, जबकि नॉन-फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन के लिए 8.50 रुपये का चार्ज लगेगा।

No comments