Breaking News

जानिएं नीम किस प्रकार सेहत के लिए गुणकारी है

जानिएं नीम किस प्रकार सेहत के लिए गुणकारी है

नीम एक ऐसा पेड़ जिसके बारे में हर एक व्यक्ति जनता है कि कैसे इसका हर एक भाग हमारे लिए कितना लाभदायक है चाहे वो नीम की जड़ें, तना ,पत्तियां, या फिर इसका फल हर एक चीज़ किसी न किसी रूप में हमारे उपयोग में आती है और हम सब ये बातें अपने बचपन से सुनते और देखते आ रहे है. तो आइये दोस्तों जानते है, कि नीम हमारे लिए किस प्रकार से लाभकारी है.

नीम का पेड़ जो की आसानी से कही भी मिल जाता है जैसे घर ,पार्क कही भी. ये आसानी से मिल जाने वाला पेड़ हमारे शरीर में होने वाले कई तरह की बीमारियों को को ख़त्म करने में हमारी मददगार सिद्ध होता है. एक मात्र यही कारण है कि नीम का प्रयोग पिछले करीब पांच हज़ार सालों से दवाइयों के रूप में किया जा रहा है. नीम का नाम सुनने में जितना कड़वा होता है उसके गुणों की उतनी ही महत्व है .

सामान्य रूप में पाएं जाने वाले नीम के पेड़ जिसको ढूँढना कोई भी मुश्किल काम नहीं है उस बहुगुणी और सर्वाधित महत्व वाले पेड़ के बारे में हम आपको बतातें है की ये किस -किस तरह से हम सब के लिए फायदेमंद सिद्ध होता है .

नीम के उपयोग (Neem Uses) जीवाणुरोधी घटक ( Antibacterial Compounds ) : नीम में ऐसे जीवाणुरोधी घटक भी पाएं जाते जो हमारे दाँतो के लिए अत्यंत फायदेमंद होते है जैसा हम सब अपने दातों को स्वच्छ और सुन्दर बनाने के लिए नीम युक्त टूथपेस्ट का यूज़ करना ज्यादा पसंद करते है जो हमारे मसूड़ों को मजबूत और केविटी जैसी कई समस्याओं को दूर कर हमे सुंदर मुस्कान देता है .

फंगीरोधी गुण ( Anti-fungal property ) : नीम में फंगल रोधी होने का गुण भी होता है जो हमे फंगस की वजह से होने वाली संक्रमणजनित रोगों से बचाता है. नीम रिंगवर्म (Ringworm ) जैसी संक्रमण से होने वाले बीमारियों को पनपने से भी रोकने का काम करता है .नीम कई प्रकार के इन्फेक्शन से भी बचाने में हमारी सहायता करता है एक बात हम कभी नहीं भूल सकते है कि कभी कभी प्राकृतिक उपचार हमारे लिए ज्यादा असरदार होता है जबकी आर्टिफिशल दवाईयां इन जगहों पर काम असरदार होती है .

भरपूर एंटीऑक्सीडेंट्स (Rich in Antioxidants ) : एंटीऑक्सीडेंट की जगह पर हम नीम भी यूज़ कर सकते है क्योंकि नीम बॉडी में पहुंच कर फ्री रेडिकल्स से लड़ने में मदद करता है जो हमे बहुत से रोगों से बचाने में हमारी मदद करता है.

नीम में एंटीवायरस ( Antivirus Compounds ) : नीम में डेंगू से फैलने वाले वायरस को बॉडी में फैलने से रोकने में मदद करता है नीम इबोला नामक वाइरस से लड़ कर बुखार को काम करता है ऐसे बहुत से वायरस से होने वाले बुखार या बिमारियों से बचाता है .

कैंसर में नीम ( Neem uses in Cancer ) : कैंसर जैसे भयानक रोग में नीम का योगदान अविश्वसनीय है. जैसा की हम जानते है कि कैंसर जैसे रोग में हमारी शरीर कोशिकाओं को बहुत क्षति पहुंचाती है पर इस क्षतिग्रस्त कोशिकाओं सुधारने में बहुत मदद करता है और कैंसर से उबरने में भी बहुत तेजी से मदद करता है

लिवर की सुरक्षा के लिए नीम (Liver protection with Neem) : हम सब जानते है कि हमारे लिवर में अगर किसी भी प्रकार की कोई भी परबोलेम होती है तो नीम इसमें बहुत सहायक सिद्ध होता है. नीम को रक्तशोधक भी कह सकते है क्योंकि इसमें रक्त में होने वाली किसी भी अशुद्धि को नीम के इस्तेमाल से दूर किया जा सकता है. आप नीम का जूस या पतियों का सेवन करके या किसी अन्य तरीके से नीम का प्रयोग कर इन रक्त सम्बधी बीमारियों से बच सकते है.

No comments