Breaking News

हिमाचल के जवान का आज राजकीय सम्मान के साथ किया अंतिम संस्कार, सड़क से मलबा हटाने के दौरान टूटकर गिरा था पहाड़

जवान का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, हिमाचल प्रदेश में हुए भूस्खलन में सड़क से मलबा हटाने के दौरान टूटकर गिरा था पहाड़

हिमाचल प्रदेश के भूस्खलन में शहीद हुए प्रतापगढ़ के रितेश पाल को नम आंखों से अंतिम विदाई दी गई। रविवार देर शाम उनका शव पैतृक गांव अंतू पहुंचा था। एक झलक पाने के लिए गांव के लोग इकट्ठा हुए। रविवार दोपहर को देशभक्ति गीतों के बीच शहीद की शव यात्रा निकाली गई, जिसमें साथ में गांव के लोगों का हुजूम रहा। राजकीय सम्मान के साथ शहीद का अंतिम संस्कार हुआ। पूरे गांव में गम का माहौल है।

2010 में भर्ती हुए थे सेना में अंतू थाना क्षेत्र के पूरेभैया गांव निवासी रितेश पाल (32) वर्ष 2010 में सेना में भर्ती हुए थे। वह सेना की इंजीनियरिंग कोर में नायब थे। इन दिनों उनकी तैनाती हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के मनाली में थी। शुक्रवार सुबह बारिश के कारण सड़क बाधित हो गई थी। वह अपने साथियों के साथ जेसीबी से सड़क ठीक करने में लगे थे। तभी भूस्खलन के कारण उनके ऊपर टूटकर पहाड़ गिर पड़ा। वह जेसीबी समेत गहरी खाई में गिर गए।

शहीद की शव यात्रा में गांव के लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। पूरे गांव में गम का माहौल है।

मनाली में थे तैनात रितेश पिछले महीने ही अपने घर पूरेभैया आए थे। करीब डेढ़ साल से वह मनाली में तैनात थे। रितेश का छोटा भाई भी सेना में है। जवान के परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट करने जिलाधिकारी नितिन बंसल व एसपी सतपाल अंतिल भी पहुंचे।

No comments