Breaking News

PUBG खेलते हुए दिल दे बैठीं दो बहनें, शादी के लिए पहुंचीं उत्तराखंड

two-sisters-reach-uttarakhand-from-himachal-to-marry-a-young-man

उत्तराखंड को चमोली जिले में प्यार मोहब्बत का एक अजीब-गरीब मामला आया है. हिमाचल की दो बहनें थराली के लड़के के साथ PUBG गेम खेलते हुए दिल दे बैठीं और शादी करने के लिए हिमाचल के कांगड़ा से उत्तराखंड के थराली पहुंच गईं. इस अजब प्रेम कहानी के बीच तीनों शादी के लिए थराली कोर्ट भी गए. लेकिन उनका दिल तब टूटा जब उन्हें पता चला कि लड़का नाबालिग है. इसीलिए उनकी शादी नहीं हो पाई. वहीं हिमाचल पुलिस भी लड़कियों की तलाश में थराली पहुंच गई.

दरअसल, कांगड़ा जिले के बैजनाथ थाना क्षेत्र से दो सगी बहनें गायब हो गई थीं. लड़कियों के परिजनों ने बैजनाथ थाने में उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. बैजनाथ पुलिस ने दोनों लड़कियों की तलाश शुरू की. बैजनाथ पुलिस ने जब गुमशुदा लड़कियों की मोबाइल लोकेशन ट्रेस की तो उत्तराखंड के थराली में मिली. बैजनाथ से सीधे हिमाचल पुलिस थराली पहुंची. दोनों बहनें ग्वालदम में एक नेपाली मूल की महिला के घर पर रूकी हुई थी. दोनों बहनें अपने साथ घर से कुछ नगदी और जेवरात लेकर फरार हुई थीं. दोनों ग्वालदम में रहने वाले नेपाली मूल के लड़के से शादी करने यहां पहुंची थी.

जानकारी के मुताबित दोनों बहनों की दोस्ती युवक से पबजी गेम खेलने के दौरान हुई थी. इसके बाद दोनों ने एक-दूसरे को अपना फोन नंबर शेयर किया. धीरे-धीरे ये दोस्ती प्यार में बदल गई. बात शादी तक पहुंच गई थी. इतना ही नहीं दोनों बहनें लड़के से शादी करने के लिए थराली के ग्वालदम तक पहुंच गईं. यहां शादी के लिए तीनों थराली कोर्ट परिसर में भी पहुंचे थे, लेकिन लड़के के नाबालिग होने के कारण दोनों की शादी नहीं हो सकी और दिल टूट गया.

हिमाचल पुलिस के एएसाई सुरजीत कुमार ने बताया कि 23 जुलाई को लड़कियों के भाई ने बैजनाथ थाने में उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. तभी से पुलिस की तालाश कर रही थी, लेकिन उन्हें कोई सुराग नहीं लग रहा था, कुछ दिनों पहले ही उनकी मोबाइल लोकेशन थराली तहसील के ग्वालदम थाना क्षेत्र में मिली. इसके बाद पुलिस ग्वालदम पहुंची और थराली पुलिस से संपर्क किया करते हुए दोनों लड़कियों को सकुशल बरामद किया.


अब हिमाचल पुलिस दोनों लड़कियों को कांगड़ा के उपजिलाधिकारी के समक्ष पेश करने की तैयारी में जुटी हुई है. हिमाचल पुलिस के अधिकारियों के मुताबिक उपजिलाधिकारी के समक्ष लड़कियां जो बयान देगी, उसी के हिसाब के आगे की कार्रवाई की जाएगी. लड़कियों ने बताया कि वे अपनी मर्जी के यहां आई थी. लड़कियां अपने साथ जो जेवरात लेकर आई थी, उसकी बरामदगी नहीं हुई है.




No comments