Breaking News

'I am Sorry मां, गेम में 40 हजार हार गया, आप रोना मत' लिखकर फंदे पर झूला 13 साल का बच्चा

'I am Sorry मां, गेम में 40 हजार हार गया, आप रोना मत' लिखकर फंदे पर झूला 13 साल का बच्चा

हर माता पिता यही चाहते हैं कि उनके बच्चे पढ़ाई लिखाई पर ज्यादा ध्यान दें और फालतू समय बर्बाद न करें। वैसे तो बच्चों के लिए खेल कूद भी उतना ही जरूरी है जितना कि पढ़ाई लिखाई, लेकिन आज के स्मार्टफोन और सोशल मीडिया के जमाने में बच्चे आउटडोर गेम्स खेलना कम पसंद करते हैं और सारा दिन मोबाईल में घुसे रहते हैं। खासकर बच्चों को मोबाईल में गेम्स खेलना बड़ा अच्छा लगता है। वे माता पिता से चोरी छिपे या उनके सामने घंटों गेम्स खेला करते हैं।

ऐसी ही मोबाईल गेम खेलने की लत मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के 13 साल के कृष्णा को भी थी। वह लॉकडाउन में अपनी माँ के मोबाईल से ऑनलाइन क्लास लेता था, लेकिन चोरी छिपे गेम भी खेलने लगा। अब बात गेम खेलने तक तो फिर भी थी थी लेकिन वह इस गेम में पैसे भी लगाने लगा। कृष्णा को फ्री फायर गेम खेलने का बड़ा शौक था। हालांकि इस गेम में वह 40 हजार रुपए हार गया था। ये पैसे उसकी माँ के बैंक अकाउंट से कटे थे।

जब माँ प्रीति पांडेय को मोबाईल पर बैंक से पैसे काटने का मैसेज आया तो उसने बेटे को कॉल किया। बेटे ने बताया कि उनके पैसे फ्री फायर गेम से कटे हैं। ये सुन मां बहुत नाराज हुई और उसने बेटे को डांट लगा दी। मां की डांट सुनकर बेटा इतना डिप्रेशन में चला गया कि उसने फंदे पर लटक फांसी ही लगा ली। खुदखुशी करने से पहले उसने एक सुसाइड नोट भी लिखा है जिसे पढ़ आपकी आंखों से भी आंसू छलक जाएंगे।

सागर रोड पर रहने वाला कृष्णा विवेक पांडेय और प्रीति पांडेय का इकलौता बेटा था। उसके पिता पैथालॉजी संचालक हैं जबकि माँ जिला अस्पताल में कार्यरत हैं। कृष्णा 6वीं क्लास में था। उसकी एक बहन भी है। शुक्रवार दोपहर 3 बजे वह घर में अपनी बहन के साथ अकेला था। उसके पिता पैथोलॉजी में थे जबकि माँ अस्पताल में थी। माँ के मोबाईल पर 1500 रुपए कटने का मैसेज आया था। ऐसे में माँ ने बेटे को फोन कर पूछा कि पैसे कैसे कटे? इस पर बेटे ने ऑनलाइन गेम की बात बताई, इस पर नाराज माँ ने उसे फटकार लगा दी।

माँ की डांट सुनने के बाद कृष्णा कमरे में चला गया और अंदर से दरवाजा बंद कर लिया। कुछ देर बाद उसकी बड़ी बहन ने दरवाजा खटखटाया। जब अंदर से कृष्णा की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई तो उसने मम्मी पापा को कॉल किया। पेरेंट्स जब घर आए तो उन्होंने कृष्णा के कमरे का दरवाजा तोड़ दिया। लेकिन अंदर का नजारा देख उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। उनका 13 साल का बेटा फंदे पर लटका था।



कृष्णा के कमरे से एक सुसाइड नोट भी मिला जिसमें उसने फ्री फायर गेम में 40 हजार रुपए हारने की बात लिखी। साथ ही उसने बताया कि वह डिप्रेशन में जाने की वजह से खुदखुशी कर रहा है। उसने अपनी माँ के लिए लिखा ‘एम सॉरी मां, डोंट क्राइ।’ बच्चे का यह सुसाइड नोट अब सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हो रहा है।

No comments