Breaking News

हिमाचल के पूर्व कांग्रेस MLA जगजीवन पाल को ‘BJP वर्कर’ ने जड़ा थप्पड़, हुई धक्का-मुक्की

हिमाचल के पूर्व कांग्रेस MLA जगजीवन पाल को ‘BJP वर्कर’ ने जड़ा थप्पड़, हुई धक्का-मुक्की

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में पूर्व कांग्रेस विधायक और सीपीएस को थप्पड़ जड़ने का एक वीडियो सामने आया है. इस दौरान एक शख्स ने जगजीवन पाल को पहले तो एक तरफ से थप्पड़ जड़ा फिर धक्का दिया. घटना का वीडियो सामने आने पर अब मामले ने तूल पकड़ा है. हालांकि, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. घटना तीन दिन पहले की बताई जा रही है. कांग्रेस का दावा है कि भाजपा वर्कर ने पूर्व विधायक से बदसलूकी की है.

जानकारी के अनुसार, कांगड़ा के सुलह विधानसभा क्षेत्र का यह मामला है. सुलह की रड़ा पंचायत में पंचायत भवन का शिलान्यास हो रहा था. मौजूदा भाजपा विधायक और विधानसभा स्पीकर विपिन सिंह परमार शिलान्यास करने पहुंचे थे. बताया जा रहा है कि पंचायत प्रधान और बाकी सदस्यों को शिलान्यास की जानकारी नहीं थी और इसी बात पर पूर्व CPS परमार का विरोध करने जा रहे थे. इससे पहले कि जगजीवन पाल शिलान्यास स्थल तक पहुंचते, पुलिस ने उन्हें बीच में ही रोक लिया था. इसी बीच जगजीवन पाल को एक शख्स ने पीछे से थप्पड़ जड़ दिया और धक्का भी दिया. बाद में जगजीवन पाल मौके पर ही ही धरने पर बैठ गए. वहीं, पुलिस ने आरोपी को गिरफ़्तार कर लिया है.

एक तरफ हुआ शिलान्यास तो सड़क पर आमरण अनशन पर बैठे पूर्व विधायक पूर्व विधायक जगजीवन पाल ने इस शिलान्यास का विरोध जताया, क्योंकि ना तो पंचायत के प्रधान को इसकी सूचना दी गई थी और न ही वार्ड पंचों को. पूर्व विधायक जगजीवन पाल ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष परमार अपनी मर्जी कर जनता को गुमराह कर रहे हैं. 

पूर्व विधायक ने कहा है कि भीड़ में गांव के लड़के जसवीर कुमार ने उनके सिर पर किसी चीज से चोट मारी है, जिसकी शिकायत पुलिस को दी गई है. और जगजीवन पाल ने कहा कि जब तक न्याय नहीं होता, तब तक आमरण अनशन जारी रहेगा. मामले में विधान सभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार का कहना है कि मैंने जो भी किया है, ठीक किया है और मुझे किसी प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं है. बाद में मीडिया से दूरी बनाने के लिए में विधानसभा अध्यक्ष ने अपना रास्ता ही बदल दिया.

No comments