Breaking News

गुजरात में आज नए मंत्रिमंडल का गठन: 27 विधायक बनेंगे मंत्री, रुपाणी कैबिनेट में शामिल रहे दिग्गज बाहर होंगे

gujarat-cabinet-latest-news





गुजरात में मुख्यमंत्री बदलने के बाद नए मंत्रिमंडल को लेकर कलह जारी है। सोमवार को मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के शपथ ग्रहण के ठीक दो दिन बाद मंत्रिमंडल का गठन होना था, लेकिन BJP के वरिष्ठ नेताओं की नाराजगी की वजह से मंगलवार को टाल दिया गया था। इसके बाद रात भर विधायकों और वरिष्ठ नेताओं के बीच बैठकों का दौर जारी रहा और बुधवार को शपथ ग्रहण की खबर आई, लेकिन एक बार फिर टाल दी गई।

अब कहा जा रहा है कि आज दोपहर 1.30 बजे शपथ ग्रहण समारोह होगा। इसमें सभी पुराने मंत्रियों को हटाया जाएगा और 27 नए विधायकों को मंत्री बनाया जाएगा। तीन महिला विधायकों- संगीता पाटिल, मनीषा वकील और निमाबेन आचार्य को भी कैबिनेट में शामिल किए जाने की चर्चा है, हालांकि मंत्रिमंडल में महिलाओं की संख्या ज्यादा भी हो सकती है।

वहीं अब नाराजगी के बीच मान-मनौव्वल जारी है। ऐसा बताया जा रहा है कि नाराज साथियों को मनाने का जिम्मा पूर्व मुख्यमंत्री विजय रुपाणी को दिया गया है, लेकिन सीएम भूपेंद्र पटेल की नई टीम को लेकर रुपाणी और पूर्व उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल खुद ही नाराज हैं।

दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल पूरा मंत्रिमंडल नया चाहते हैं। कैबिनेट में महिलाओं की संख्या भी बढ़ाई जा सकती है। रुपाणी सरकार में शामिल रहे 11 कैबिनेट मंत्रियों में से सिर्फ दिलीप ठाकोर, गणपत वसावा और जयेश रादडिया को ही नए मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की उम्मीद है।

BJP अध्यक्ष के बंगले पर विधायकों की आवाजाही जारी गुजरात BJP प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल के बंगले पर बुधवार को भी विधायकों की आवाजाही बनी रही। इनमें से हर्ष सिंघवी, मनीषा वकील, मनीषा सुधार, सांसद रामभाई मोकरिया और विधायक गोविंद पटेल की सीआर पाटिल से काफी देर तक चर्चा हुई। मुलाकातों के इस सिलसिले को देखते हुए कई तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं।

पुराने मंत्रियों को भी 'नो रिपीट' की आशंका, दफ्तर खाली करने लगे मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण के पहले ही पुराने मंत्रियों ने अपने आवास और ऑफिस खाली करने शुरू कर दिए हैं। उन्हें 'नो रिपीट' की आशंका है। दरअसल, नए मंत्रियों की घोषणा और शपथ ग्रहण के बाद जल्द से जल्द ऑफिस खाली करने होंगे। इसलिए कई पुराने मंत्री पहले ही ये काम पूरा कर रहे हैं।

जाति समीकरणों को भी ध्यान में रखा जाएगा BJP से जुड़े एक वरिष्ठ नेता का कहना है भूपेंद्र पटेल नए मुख्यमंत्री हैं, इसलिए उनकी टीम में भी नए सदस्यों के जुड़ने की संभावना ज्यादा है। पहले कहा जा रहा था कि उनकी कैबिनेट में कुछ वरिष्ठ मंत्री होंगे, लेकिन अब ऐसा नहीं लग रहा। विधानसभा चुनाव को देखते हुए जातिगत और क्षेत्रीय समीकरणों को भी ध्यान में रखा जाएगा।

इन विधायकों को बनाया जा सकता है मंत्री

  • निमाबेन आचार्य- भुज
  • जगदीश पटेल- अमराईवाड़ी
  • शशिकांत पंड्या- दीसा
  • ऋषिकेश पटेल- विसनगर
  • गजेंद्र सिंह परमार-प्रांतिज
  • गोविंद पटेल- राजकोट
  • आरसी मकवाना- महुवा
  • जीतू वरानी- भावनगर
  • पंकज देसाई- नडियाड
  • कुबेर डिंडोर- संतरामपुर
  • केतन इनामदार- सावली
  • मनीषा वकील- वडोदरा
  • दुष्यंत पटेल- भरूच
  • संगीता पाटिल- सूरत
  • नरेश पटेल- गणदेवी
  • कनुभाई देसाई- पारदी

No comments