Breaking News

दुकान-दफ्तर में भूलकर भी न लगाएं देवी-देवताओं की ऐसी तस्वीरें, रूठ जाएंगी लक्ष्मी

दुकान-दफ्तर में भूलकर भी न लगाएं देवी-देवताओं की ऐसी तस्वीरें, रूठ जाएंगी लक्ष्मी

मनुष्य के जीवन में वास्तु शास्त्र हर तरह से महत्व रखता है. घर से लेकर ऑफिस तक मनुष्य की हर गतिविधियों में वास्तु शास्त्र अपना महत्व रखता है. पूजा घर और वास्तु शास्त्र का आपस में खास संबंध है. अगर व्यक्ति के घर में किसी प्रकार का वास्तु दोष है तो उसका प्रभाव व्यक्ति के जीवन पर पड़ता है, लेकिन अगर वास्तु दोष पूजा घर में हो तो इसका सीधा असर व्यक्ति की किस्मत पर पड़ता है.

वास्तु शास्त्र में पूजा घर से जुड़े कुछ नियम बताए गए हैं. पूजा घर अगर वास्तु शास्त्र के अनुसार है तो व्यक्ति के जीवन में सुख-समृद्धि आती है और किस्मत भी चमक जाती है. इसी प्रकार दुकान, फैक्ट्री, ऑफिस आदि में बना पूजा घर बहुत महत्व रखता है. इसमें हुई एक गलती भी व्यक्ति के भाग्योदय में रुकावट पैदा कर सकती है. आइए जानते हैं पंडित कमल नंदलाल से कि वास्तु अनुसार ऑफिस, दुकान या फैक्ट्री के पूजा घर में किन देवी-दैवताओं की बैठी हुई तस्वीर नुकसान पहुंचा सकती है.

अक्सर लोग ये गलती करते हैं कि वे दुकान, फैक्ट्री या ऑफिस में बने पूजा घर में देवी-देवताओं की कई तस्वीरें लगा देते हैं जो नहीं लगानी चाहिए. वास्तु के अनुसार, इन जगहों के पूजा घर में भगवान गणेश, मां सरस्वती और मां लक्ष्मी की बैठी हुई तस्वीर कभी नहीं लगानी चाहिए.

वास्तु के अनुसार, दुकान, फैक्ट्री या ऑफिस में इन तीनों भगवान की बैठी हुई तस्वीर अशुभ मानी जाती है. माता सरस्वती की बैठी हुई तस्वीर का अर्थ होता है ज्ञान का बैठ जाना यानी आपके अंदर बुद्धि, विवेक और ज्ञान अभाव हो जाना.

गणपति का अर्थ होता है श्री गणेश करना यानी रिद्धि और सिद्धि के साथ शुभ और लाभ का आगमन होना. ऐसे में गणेश जी की बैठी हुई तस्वीर से ना तो शुभ होगा और ना ही लाभ आएगा. इसलिए दुकान, फैक्ट्री या ऑफिस आदि में जहां आप धन अर्जित करने के लिए काम करते हैं वहां इन भगवान की बैठी हुई तस्वीर नहीं लगानी चाहिए.

वास्तु के अनुसार, दुकान, फैक्ट्री और व्यवसाय प्रतिष्ठान के पूजा घर में गणपति, माता सरस्वती और लक्ष्मी जी की तस्वीर हमेशा खड़ी हुई स्थिति में होनी चाहिए. इन जगहों पर बहुत ही धीमी रोशनी होनी चाहिए. इन जगहों पर कभी अंधेरा ना रखें.

वास्तु के अनुसार, दुकान और व्यवसाय प्रतिष्ठान के पूजा घर में सीलन नहीं होनी चाहिए. पूजा घर के आसपास सीलन होने से आर्थिक स्थिति बेहद कमजोर होती है.

वास्तु के अनुसार, शाम की पूजा में घी का दीपक जरूर जलाएं. इसके अलावा, कपूर भी जलाएं. इससे नकारात्मक ऊर्जा खत्म हो जाती है.

पंडित कमल नंदलाल कहते हैं कि रजत पत्र पर यानी चांदी के पत्ते पर दोनों तरफ धन का बीसा यंत्र बनवा लें. इसे दस मुखी रुद्राक्ष के नीचे सेट करवाएं और इसके नीचे क्रिस्टल की मणि यानी शिवमणि लगवाएं. ये मणि नकारात्मकता को दूर करती है. ऐसा करने से धन में वृद्धि होगी और आर्थिक स्थिति बेहतर होगी.

No comments