Breaking News

पितृ पक्ष में आएं ऐसे सपने तो हो जाएं सावधान, गरुड़ पुराण में बताया गया है मतलब

पितृ पक्ष में आएं ऐसे सपने तो हो जाएं सावधान, गरुड़ पुराण में बताया गया है मतलब

बाकी सपनों की तरह पूर्वजों (Ancestors) का सपने (Dreams) में दिखाई देने का भी एक खास मतलब होता है. उस पर पूर्वज यदि पितृ पक्ष (Pitru Paksha) के दौरान सपने में नजर आएं तो उसका मतलब है कि वे आपको कोई खास संकेत दे रहे हैं. 20 सितंबर से शुरु हुए पितृ पक्ष (Pitru Paksha 2021) 6 अक्‍टूबर तक चलेंगे. यदि इस दौरान आपको भी सपने में अपने पूर्वज नजर आएं तो जान लीजिए यह बड़ा संकेत (Indication) है. आज हम ऐसे ही खास सपनों का मतलब जानते हैं, जिनका उल्‍लेख गरुड़ पुराण (Garuda Purana) में किया गया है.
कराएं रामायण या गीता का पाठ

मान्‍यता है कि पितृ पक्ष के दौरान पितृ अपने परिजनों को देखने के लिए धरती लोक पर आते हैं इसलिए उनकी आत्‍मा की शांति के लिए श्राद्ध-तर्पण किया जाता है. गरुड़ पुराण (Garuda Purana) में कहा गया है कि यदि पितृ पक्ष के दौरान पूर्वज बार-बार सपने में नजर आएं तो इसका मतलब है कि उनकी आत्‍मा अब भी भटक रही है. ऐसी स्थिति में उनकी आत्‍मा की शांति के लिए घर में रामायण (Ramayana) या गीता (Geeta) का पाठ करें.

इसके अलावा सपने में पूर्वज यदि हर समय अपने घर के पास नजर आएं तो इसका मतलब है कि पूर्वज अब भी अपने परिवार के मोह में हैं. ऐसे में रोज गाय को 2 रोटी खिलाएं और अमावस्‍या के दिन पितरों को भोग लगाएं. इससे आप पर उनकी कृपा बनी रहेगी.

ऐसा सपना होता है शुभ यदि पितृ पक्ष के दौरान पूर्वज सपने में आपको आशीर्वाद देते दिखें या खुश दिखें तो इसका मतलब है कि वे आपके द्वारा किए गए श्राद्ध-तर्पण, दान-पुण्‍य से प्रसन्‍न हैं. ऐसा सपना आना बहुत शुभ होता है. वहीं पूर्वजों का नंगे पैर दिखना या कुछ मांगते हुए देखने के मतलब है कि वे आपको दान करने का संकेत दे रहे हैं. ऐसा सपना आने पर पूरे मन से जरूरतमंदों को इन चीजों का दान करें.

No comments