Breaking News

हिमाचल में आज से 9वीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए खुले स्कूल, इन कोरोना नियमों का पालन जरूरी

हिमाचल प्रदेश में विद्यार्थियों के लिए सोमवार से फिर स्कूल खुल गए हैं। गत दिनों कैबिनेट बैठक में लिए गए फैसले के अनुसार सप्ताह के पहले दिन सोमवार, मंगलवार और बुधवार को 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थी स्कूल आएंगे। गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार को नौवीं और 11वीं के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खुलेंगे। विद्यार्थियों और स्कूल के तमाम स्टाफ को कोरोना को लेकर जारी एसओपी के तहत स्कूल आना होगा। स्कूलों में प्रवेश से पहले परिसर को सैनिटाइज किया जाएगा। विद्यार्थियों की प्रवेश से पहले थर्मल स्कैनिंग की जाएगी। सभी को मास्क पहनना जरूरी होगा।   विद्यार्थियों के लिए स्कूलों में लंच ब्रेक और आने-जाने का समय कक्षावार अलग-अलग रखा गया है। कक्षाओं में एक बेंच छोड़कर विद्यार्थी बिठाए जाएंगे। स्कूल के कमरे की क्षमता अनुसार 50 फीसदी विद्यार्थियों को ही एक साथ बिठाया जाएगा। शेष विद्यार्थियों की क्लास दूसरे कमरे में लगाई जाएगी। प्रार्थना सभा, खेलकूद सहित एकत्र होने वाली अन्य गतिविधियों पर भी रोक रहेगी। उच्च शिक्षा निदेशालय ने सभी स्कूल प्रिंसिपलों को विद्यार्थियों की क्षमता और कमरों की संख्या के अनुसार माइक्रो प्लान बनाने को कहा है।  शिक्षकों और विद्यार्थियों के लिए फेस मास्क पहनना अनिवार्य रहेगा। थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही स्कूल परिसरों में प्रवेश दिया जाएगा। वहीं, आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं और परीक्षाएं जारी रहेंगी।  Read more: https://www.amarujala.com/shimla/schools-reopen-for-students-of-class-9th-to-12th-in-himachal-it-is-necessary-to-follow-these-corona-protocol

हिमाचल प्रदेश में विद्यार्थियों के लिए सोमवार से फिर स्कूल खुल गए हैं। गत दिनों कैबिनेट बैठक में लिए गए फैसले के अनुसार सप्ताह के पहले दिन सोमवार, मंगलवार और बुधवार को 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थी स्कूल आएंगे। गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार को नौवीं और 11वीं के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खुलेंगे। विद्यार्थियों और स्कूल के तमाम स्टाफ को कोरोना को लेकर जारी एसओपी के तहत स्कूल आना होगा। स्कूलों में प्रवेश से पहले परिसर को सैनिटाइज किया जाएगा। विद्यार्थियों की प्रवेश से पहले थर्मल स्कैनिंग की जाएगी। सभी को मास्क पहनना जरूरी होगा।

विद्यार्थियों के लिए स्कूलों में लंच ब्रेक और आने-जाने का समय कक्षावार अलग-अलग रखा गया है। कक्षाओं में एक बेंच छोड़कर विद्यार्थी बिठाए जाएंगे। स्कूल के कमरे की क्षमता अनुसार 50 फीसदी विद्यार्थियों को ही एक साथ बिठाया जाएगा। शेष विद्यार्थियों की क्लास दूसरे कमरे में लगाई जाएगी। प्रार्थना सभा, खेलकूद सहित एकत्र होने वाली अन्य गतिविधियों पर भी रोक रहेगी। उच्च शिक्षा निदेशालय ने सभी स्कूल प्रिंसिपलों को विद्यार्थियों की क्षमता और कमरों की संख्या के अनुसार माइक्रो प्लान बनाने को कहा है। शिक्षकों और विद्यार्थियों के लिए फेस मास्क पहनना अनिवार्य रहेगा। थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही स्कूल परिसरों में प्रवेश दिया जाएगा। वहीं, आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं और परीक्षाएं जारी रहेंगी।

No comments