Breaking News

B.Com अंतिम वर्ष का परीक्षा परिणाम घोषित, सुन्नी की विभा ने प्रदेश भर में किया Top

vibha-top-in-b-com-final-year-result

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय ने बीकॉम अंतिम वर्ष का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया है जोकि 81 प्रतिशत रहा है। इस परीक्षा में 4581 विद्यार्थी बैठे थे, जिनमें से 3739 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए। परीक्षा परिणाम के तहत 513 विद्यार्थियों की कम्पार्टमैंट आई है और 72 विद्यार्थी फेल हुए हैं। इसके अलावा 257 विद्यार्थियों के परिणाम अभी सैटल नहीं हुए। बुधवार को हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय द्वारा घोषित बीकॉम अंतिम वर्ष के परिणाम के अनुसार मैरिट सूची में राजकीय कालेज सुन्नी की विभा ने प्रदेश भर में पहला स्थान हासिल किया है। 

विभा ने 9.28 सीजीपीए अंक प्राप्त कर पहला स्थान झटका। राजकीय काॅलेज दिग्गल की अंकिता ठाकुर ने 9.05 सीजीपीए अंक प्राप्त कर दूसरा तथा डीएवी काॅलेज कांगड़ा के आर्यन हांडा ने 9.01 सीजीपीए अंक प्राप्त कर तीसरा स्थान हासिल किया।

इसी तरह डीएवी काॅलेज कांगड़ा की ज्योति ने 8.94 सीजीपीए अंक प्राप्त कर चौथा, राजकीय डिग्री काॅलेज रे (कांगड़ा) की जागृति ने 8.89 सीजीपीए अंक प्राप्त कर 5वां, राजकीय कालेज ऊना की तमन्ना पुरी ने 8.80 सीजीपीए अंक प्राप्त कर छठा, राजकीय काॅलेज ठियोग की शीतल ने 8.79 सीजीपीए अंक प्राप्त कर 7वां, राजकीय काॅलेज रोहड़ू की देविका राय व राजकीय काॅलेज अम्ब की आरुषि ने 8.78 सीजीपीए अंक प्राप्त कर 8वां, डीएवी काॅलेज कांगड़ा की शिवानी ठाकुर ने 8.74 सीजीपीए अंक प्राप्त कर 9वां और राजकीय काॅलेज दौलतपुर चौक के राघव ठाकुर ने 8.73 सीजीपीए अंक प्राप्त कर 10वां स्थान हासिल किया। 

मैरिट सूची में लड़कियों का दबदबा रहा। मैरिट सूची में 9 लड़कियों और 2 लड़कों ने जगह बनाई। अब आगामी कुछ दिनों में विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा बीए अंतिम वर्ष का परिणाम भी घोषित कर दिया जाएगा।

एमकॉम करेगी टॉपर विभा बीकॉम अंतिम वर्ष के परीक्षा परिणाम में मैरिट में पहला स्थान हासिल करने वाली राजकीय काॅलेज सुन्नी की विभा एमकॉम करेगी। अब वे एमकॉम में प्रवेश लेंगी। उन्होंने कहा कि उन्होंने सोचा नहीं था कि बीकॉम में हिमाचल में टॉप करेंगी। उन्होंने कहा कि वे पहला स्थान प्राप्त करने पर खासी उत्साहित हैं। उन्होंने बताया कि उनके पिता का नाम गोपाल सिंह है और माता का नाम सीता देवी है। उन्होंने परीक्षा की तैयारी को लेकर बताया कि वे नियमित रूप से पढ़ाई करती रहीं।

No comments