Breaking News

आज है अहोई अष्टमी, भूलकर भी नहीं करें ये काम; वरना देवी हो जाएंगी नाराज

आज है अहोई अष्टमी, भूलकर भी नहीं करें ये काम; वरना देवी हो जाएंगी नाराज

आज (28 अक्टूबर को) अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtami 2021) है. कार्तिक (Kartik) माह के कृष्ण पक्ष (Krishna Paksha) की अष्टमी तिथि (Ashtami Tithi) को अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtami Vrat) मनाई जाती है. महिलाएं अपने बच्चों की सुख-समृद्धि और लंबी उम्र के लिए अहोई अष्टमी का व्रत रखती हैं. हिंदू धर्म में अहोई अष्टमी के व्रत की बहुत मान्यता है. अहोई अष्टमी को अहोई माता की पूजा की जाती है. अहोई अष्टमी के दिन महिलाएं अपने बच्चों के लिए निर्जला व्रत रखती हैं. वो पूरे दिन बिना पानी पिए और बिना कुछ खाए व्रत रखती हैं. अहोई अष्टमी को माताएं अपने बच्चों के भाग्योदय की कामना करती हैं. लेकिन आपके लिए ये जानना जरूरी है कि अहोई अष्टमी के दिन क्या गलतियां नहीं करनी चाहिए.

महिलाएं न करें मिट्टी से जुड़ा कोई काम अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtami) के व्रत के दिन महिलाओं को मिट्टी से जुड़ा कोई काम नहीं करना चाहिए. इसके अलावा भूलकर भी खुरपी का इस्तेमाल नहीं करें. अहोई अष्टमी के दिन ऐसा करना अशुभ होता है.

इन रंगों के कपड़े नहीं पहनें महिलाएं वैसे तो हिंदू धर्म की हर पूजा में सबसे पहले भगवान गणेश की पूजा होती है लेकिन अहोई अष्टमी की पूजा शुरू करने से पहले गणेश जी की पूजा करना का विशेष महत्व है. अहोई अष्टमी पर अर्घ्य के लिए कांसे के लोटे का इस्तेमाल नहीं करें. इसके अलावा महिलाएं गहरे नीले या काले रंग के कपड़े नहीं पहनें.

पूजा में सारी सामग्री होनी चाहिए नई अहोई अष्टमी की पूजा में पूजा की सारी सामग्री नई होनी चाहिए. पहले इस्तेमाल की गई पूजा सामग्री का इस्तेमाल नहीं करें. इसके अलावा फूल-फल और मिठाई ताजा होनी चाहिए.
खाना बनाने में नहीं इस्तेमाल करें ये चीजें

अहोई अष्टमी के व्रत के दिन खाना बनाने में प्याज, लहसुन और तेल आदि का इस्तेमाल नहीं करें. जो महिलाएं अहोई अष्टमी का व्रत रखें वो दिन में सोने से परहेज करें. गलती से भी घर में किसी बड़े-बुजुर्ग का अनादर न करें.

धारदार चीजों का नहीं करें इस्तेमाल अहोई अष्टमी के दिन व्रत रखने वाली महिलाएं किसी भी धारदार चीज का इस्तेमाल नहीं करें. कैंची, चाकू, सुई और ब्लेड आदि का इस्तेमाल नहीं करें. धारदार चीजों का इस्तेमाल अशुभ माना जाता है.

No comments