Breaking News

8 या 9 दिन की होगी शारदीय नवरात्रि, जानें महाअष्टमी, महानवमी व दशमी की सही तिथि

8 या 9 दिन की होगी शारदीय नवरात्रि, जानें महाअष्टमी, महानवमी व दशमी की सही तिथि

Sharadiya Navratri 2021: हिंदी पंचांग के अनुसार, शारदीय नवरात्रि आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से शुरू होकर दशमी तिथि को समाप्त होती है. कैलेंडर के अनुसार इस साल शारदीय नवरात्रि 7 अक्टूबर को शुरू होगी और 15 सितंबर को समाप्त होगी. नवरात्रि में मां दुर्गा के नव रूपों का विधि –विधान से पूजा की जाती है. इससे मां दुर्गा अति प्रसन्न होती हैं. मानयता है कि नवरात्रि के मां दुर्गा की विधि पूर्वक उपासना करने से भक्तों को आशीर्वाद प्रदान करती हैं उनके आशीर्वाद से भक्तों के सभी मनोरथ पूरे होते हैं. घर परिवार में धन-वैभव व सुख समृद्धि की बढ़ोत्तरी होती है.

नवरात्रि के दौरान कई बार तिथियों को घटने-बढ़ने के कारण नवरात्रि भी 8 या 9 दिन की होती है. ज्योतिषाचार्य के अनुसार, इस साल चतुर्थी तिथि का क्षय होने से शारदीय नवरात्रि आठ दिन की होगी. ऐसे में महाअष्टमी, महानवमी और दशमी तिथि में असमंजस की स्थिति बनी हुई है. आइये जानें महाअष्टमी, महानवमी और दशमी किस तारीख को मनाई जाएगी?

कब है महाअष्टमी?(Navratri 2021 Maha Ashtami Puja) इस साल महाअष्टमी 13 अक्टूबर (बुधवार) को पड़ रही है. चूंकि इस साल की शारदीय नवरात्रि में चतुर्थी तिथि का क्षय हो रहा है इसलिए नवरात्रि आठ दिन की होगी. ऐसे में महाअष्टमी व्रत 13 अक्टूबर को रखना उत्तम होगा. महाअष्टमी के दिन महागौरी की पूजा की जाती है.

कब है महानवमी? (Navratri 2021 Maha Navami Puja) हिंदू पंचांग के अनुसार, महानवमी 14 अक्टूबर (गुरुवार) को मनाई जाएगी. नवमी के दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा का विधान है.

शारदीय नवरात्रि 2021 की तिथियां

7 अक्टूबर (पहला दिन)- मां शैलपुत्री की पूजा
8 अक्टूबर (दूसरा दिन)- मां ब्रह्मचारिणी की पूजा
9 अक्टूबर (तीसरा दिन)- मां चंद्रघंटा व मां कुष्मांडा की पूजा
10 अक्टूबर (चौथा दिन)- मां स्कंदमाता की पूजा
11 अक्टूबर (पांचवां दिन)- मां कात्यायनी की पूजा
12 अक्टूबर (छठवां दिन)- मां कालरात्रि की पूजा
13 अक्टूबर (सातवां दिन)- मां महागौरी की पूजा
14 अक्टूबर (आठवां दिन)- मां सिद्धिदात्री की पूजा
15 अक्टूबर- दशमी तिथि ( व्रत पारण), विजयादशमी या दशहरा

कब है दशहरा (Dussehra 2021)? 
साल 2021 में दशहरा का त्योहार 15 अक्टूबर, शुक्रवार को मनाया जाएगा.

No comments