Breaking News

T20 World Cup: पाकिस्तान की तीसरी जीत से भारत का रास्ता साफ, अब नहीं होगा रन रेट का फेर

T20 World Cup: पाकिस्तान की तीसरी जीत से भारत का रास्ता साफ, अब नहीं होगा रन रेट का फेर

टी-20 वर्ल्डकप 2021 में पाकिस्तान की टीम ने लगातार तीसरा मुकाबला जीत लिया है। पाकिस्तान ने पांच विकेट से अफगानिस्तान को मात दी है। इस जीत के साथ ही पाकिस्तान का सेमीफाइनल में लगभग पहुंच चुकी है और यह टीम दूसरे ग्रुप में पहले स्थान पर भी रहेगी। वहीं दूसरे स्थान के लिए भारत और न्यूजीलैंड प्रबल दावेदार हैं। रविवार को इन दोनों टीमों के बीच मैच होना है और जो भी टीम जीतेगी, उसका सेमीफाइनल में पहुंचना लगभग तय हो जाएगा। अगर पाकिस्तान की टीम अफगानिस्तान के खिलाफ हार जाती तो भारत के लिए सेमीफाइनल की राम मुश्किल हो सकती थी और मामला नेट रन रेट में भी उलझ सकता था। दूसरे ग्रुप में अब भारत के लिए क्या समीकरण हैं यह हम आपको बता रहे हैं।

दूसरे ग्रुप में भारत, पाकिस्तान और न्यूजीलैंड ही बड़ी टीमें हैं। ऐसे में हम मानकर चल रहे हैं कि ये तीनों टीमें बाकी तीन टीमों अफगानिस्तान, स्कॉटलैंड और नामीबिया के खिलाफ अपने सभी मैच जीत लेंगी। इसी आधार पर आगे के समीकरण बताए गए हैं।

1. अगर टीम इंडिया न्यूजीलैंड को हराती है तो पाकिस्तान टीम के 10 अंक होंगे और वह दूसरे ग्रुप में पहले स्थान पर रहेगी। वहीं, भारत आठ अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहेगा। न्यूजीलैंड के छह अंक रहेंगे। ऐसे में पाकिस्तान और भारत की टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर जाएंगी। इस स्थिति में भारत का सामना ग्रुप-1 में टॉप पर रहने वाली टीम से होगा। ग्रुप-1 में टॉप पर रहने की दावेदार इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की टीम है।

2. अगर न्यूजीलैंड भारत को हरा देता है तो पाकिस्तान की स्थिति में कोई बदलाव नहीं होगा। यह टीम 10 अंकों के साथ सेमीफाइनल में पहुंचेगी और पहले ग्रुप की दूसरी टीम का सामना करेगी। वहीं भारत के छह अंक रहेंगे और वह सेमीफाइनल में नहीं पहुंच पाएगा, जबकि न्यूजीलैंड के पास आठ अंक होंगे और यह टीम सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर जाएगी।

पाकिस्तान के हारने पर क्या होता ? अगर पाकिस्तान की टीम अफगानिस्तान से हार जाती तो अफगानिस्तान भी सेमीफाइनल में पहुंचने की दावदार बन जाती। ऐसे में यदि भारत अफगानिस्तान को हरा भी देता तब भी अफगानिस्तान अपने बाकी मैच जीतकर सेमीफाइनल की रेस में बनी रहती और मौजूदा समय में अफगानिस्तान का रन रेट जैसा है, उस हिसाब से वह बराबर अंक होने पर भारत से पहले सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर जाती।

भारत का शेड्यूल अब क्या है? भारत को अब 31 अक्तूबर को न्यूजीलैंड, 3 नवंबर को अफगानिस्तान, 5 नवंबर को स्कॉटलैंड से और 8 नवंबर को नामीबिया से भिड़ना है। भारत के लिए सबसे मुश्किल मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ है। टीम इंडिया टी-20 विश्व कप में न्यूजीलैंड को कभी हरा नहीं पाई है। हालांकि पिछले पांच सालों में भारत का रिकॉर्ड इस टीम के खिलाफ काफी बेहतर रहा है।

अफगानिस्तान के लिए उलटफेर करना मुश्किल अफगानिस्तान ने अपने पहले मैच में जिस तरह से स्कॉटलैंड को हराया था उसके बाद इस टीम से काफी उम्मीदें लगाई जा रही थी, लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ अफगानिस्तान ने मैच अपनी मुट्ठी से जाने दिया। अफगान टीम ने वही गलतियां दोहराई जो एक कम अनुभव वाली टीम करती है। इस टीम के खिलाड़ी दबाव में आए और कई कैच छोड़े, जिसका फायदा उठाकर पाकिस्तान ने मैच जीत लिया। अब अफगान खिलाड़ियों का मनोबल गिरा हुआ रहेगा और आने वाले मैचों में अफगानिस्तान को न्यूजीलैंड और भारत के खिलाफ भी मुश्किल होगी। हालांकि उलटफेर की संभावना अब कम है, लेकिन दोनों टीमों को अफगानिस्तान से सावधान रहना होगा।

दूसरे नंबर पर रहे तो दूसरे ग्रुप की टॉप टीम से भिड़ना होगा भारत के दूसरे स्थान पर रहने पर उन्हें ग्रुप-1 की टॉप पर रहने वाली टीम से भिड़ना होगा। ग्रुप-1 में इसकी दावेदार दो टीमें हैं। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया। वार्नर के फॉर्म में लौटने के साथ ही ऑस्ट्रेलिया की टीम भी लय पकड़ रही है। वहीं इंग्लैंड फिलहाल उस ग्रुप में सबसे मजबूत टीम है। उनका पहले नंबर पर रहना तय माना जा रहा है। भारत इंग्लैंड को वार्म अप मैच में हरा चुका है। ऐसे में टीम एकबार फिर उन्हें हराकर फाइनल में जगह बना सकती है।

No comments