Breaking News

कुछ ही देर में लगने जा रहा है सदी का सबसे बड़ा 'चंद्र ग्रहण', जानें इससे जुड़ी 10 बड़ी बातें

कुछ ही देर में लगने जा रहा है सदी का सबसे बड़ा 'चंद्र ग्रहण', जानें इससे जुड़ी 10 बड़ी बातें

Chandra Grahan 2021 : चंद्र ग्रहण लगने में अब कुछ ही घंटे शेष रह गए हैं. चंद्र ग्रहण को एक बड़ी खगोलीय घटना के तौर पर देखा जाता है. ज्योतिष शास्त्र में चद्र ग्रहण को एक महत्वपूर्ण घटना माना गया है. मान्यता है कि मेष से मीन राशि तक के लोगों को चंद्र ग्रहण की घटना प्रभावित करती है.

19 नवंबर 2021, शुक्रवार को लगने वाला चंद्र ग्रहण विशेष है. इस चंद्र ग्रहण से जुड़ी 10 बड़ी बातें आइए यहां जानते हैं-
चंद्र ग्रहण सदी का सबसे बड़ा आंशिक चंद्र ग्रहण है. यह चंद्र ग्रहण 19 नवंबर को प्रात: 11: 34 से आरंभ होगा और शाम 5 बजकर 33 मिनट पर समाप्त होगा.
चंद्र ग्रहण के समय मकर राशि में शनि और गुरु की युति रहेगी.
चंद्र ग्रहण इस बार वृषभ राशि में लग रहा है. ज्योतिष गणना के अनुसार पाप ग्रह राहु वृषभ राशि में गोचर कर रहा है.
चंद्र ग्रहण के समय कृत्तिका नक्षत्र रहेगा. कृत्तिका नक्षत्र के स्वामी सूर्य हैं. इसलिए सिंह राशि वालों पर भी इसका प्रभाव देखा जाएगा.

चंद्र ग्रहण लगने के अगले दिन गुरु का राशि परिवर्तन होने जा रहा है. 20 नवंबर को गुरु मकर राशि को छोड़कर कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे.

19 नवंबर को लगने जा रहे हैं चंद्र ग्रहण के दौरान सूतक काल प्रभावी नहीं होगी. यानि इस चंद्र ग्रहण के समय सूतक नियम लागू नहीं होंगे. चंद्र ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए.
चंद्र ग्रहण का प्रभाव वृषभ राशि, सिंह राशि वालों के साथ उन लोगों पर पर अधिक रहेगा, जिनका जन्म कृत्तिका नक्षत्र में हुआ है.

चंद्र ग्रहण के 15 दिन बाद यानि 4 दिसंबर 2021 को सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है.
चंद्र ग्रहण का प्रभाव भारत पर नहीं है. इसे भारत के पूवोत्तर राज्यों के कुछ ही हिस्सों में देखा जा सकेगा.
चंद्र ग्रहण के अगले दिन मार्गशीर्ष मास का आरंभ हो रहा है. 20 नवंबर को मार्गशीर्ष मास की कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि है.

No comments