Breaking News

बाराती बनकर आए आयकर विभाग के 250 अधिकारी.. फिल्मी अंदाज में मारी रेड

बाराती बनकर आए आयकर विभाग के 250 अधिकारी.. फिल्मी अंदाज में मारी रेड

शादियों के सीजन में सजी धजी गाड़ियों का होना आम है। सजी धजी गाड़ियों से अक्सर बारात आती है। इन गाड़ियो को देखकर लोगों को पता चल जाता है कि किसी की शादी होने वाली है। इसके अलावा शीशे पर दूल्हे दुल्हन का नाम चस्पी हुई गाड़िया तो पक्के तौर पर यही कहती है कि किसी की शादी है, लेकिन अगर इस गाड़ी में आयकर विभाग के अधिकारी हो तो? अरे भई आप कहेंगे कि आयकर विभाग के लोग भी इस तरह की गाड़ी में बैठकर किसी की बारात में गये होंगे।

तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में सजी धजी गाड़िया आई। गाड़ियों के शीशे पर दूल्हे दुल्हन के नाम की पर्ची भी चिपकी थी, जिसमें विकास संग निशा लिखा था। यह गाड़ी जब जिले में आई तो लोगों को लगा किसी की शादी है। गाड़ी स्पीड से अपनी मंजिल की तरफ बढ़ रही थी और फिर गाड़ी थोड़ी देर के लिए रूकी और फिर अपने ही रफ्तार से चलने लगी। अरे भई अब गाड़ी ऐसी जगह जाकर रूकी जहां न किसी की शादी थी और न ही कोई बारात आने वाली थी, ऐसे में सभी लोग शॉक्ड हो गए।बाराती बनकर मंदसौर जिले में 250 आयकर अधिकारी गये। 

ये अधिकारी किसी की शादी में शामिल होने के लिए नहीं गये थे, बल्कि वे तो वहां रेड मारने गये थे और किसी की बारात भी नहीं आने वाली थी। ऐसे में कहा जाए कि बैंड बाजो के साथ आयकर विभाग के अधिकारी रेड मारने के लिए गये तो यह गलत नहीं होगा। दरअसल, आयकर विभाग के 250 अधिकारी अमृत रिफाइनरी के संचालक मनोहर के निवास पर पहुंचे, ऐसे में इन्हें देखकर हर कोई शॉक्ड हो गया।अमृत रिफाइनरी के संचालक मनोहर के निवास पर पहुंचते ही बिना कुछ पूछे और बताए छानबीन शुरू कर दी। वहां मौजूद लोग जब तक यह समझ पाते कि आखिर ये कौन लोग हैं, तब तक इन लोगों ने छानबीन शुरू कर दी। 

मामला सामने आते ही हर कोई आयकर विभाग की तारीफ कर रहा है। दरअसल, आयकर विभाग के अधिकारियों ने ऐसा इसलिए किया, ताकि किसी को भी कानों कान खबर न लगें कि वे लोग रेड मारने के लिए आ रहे हैं और ऐसे में अधिकारियों का यह प्लान काफी हद तक सफल रहा।आयकर अधिकारियों को रेड में क्या कुछ मिला इस बात का अभी खुलासा नहीं हुआ है। हालांकि, आयकर विभाग के अधिकारियों को यह आशंका है कि यहां करोड़ो रुपये की टैक्स चोरी हुई है, जिसकी वजह से वे अभी तक छानबीन कर रहे हैं। और इसके बाद ही मामले को आगे बढ़ाएंगे। आपको बता दें कि मंदसौर के अलावा दलोदा जावरा नीमच में भी आयकर विभाग की एक टीम काम कर रही है।

No comments