Breaking News

5 भारतीय आलराउंडर जो हार्दिक पंड्या के लिए बन सकते हैं खतरा, नंबर 5 हर मामले में बेहतर

5 भारतीय आलराउंडर जो हार्दिक पंड्या के लिए बन सकते हैं खतरा, नंबर 5 हर मामले में बेहतर

आलराउंडर एक ऐसा खिलाड़ी होता है, जो अपने कप्तान की हर परेशानी का हल ढूंढ लेता है. एक आलराउंडर खिलाड़ी होने से टीम का संतुलन बना रहता है. ना सिर्फ बल्ले, बल्कि गेंद और क्षेत्ररक्षण से भी टीम को जीत दिलाने वाला यह खिलाड़ी कभी-कभी अंतिम उम्मीद भी बन जाता है. अपको बता दें कि भारतीय टीम के लिए कई आलराउंडर खिलाड़ी खेल चुके हैं.

लेकिन, तेज गेंदबाजी आलराउंडर के रूप में भारत में सिर्फ तब कपिल देव (Kapil Dev) और अब हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) का नाम ही प्रसिद्ध है. वैसे तो इस बीच हार्दिक पंड्या अधिकतर चोटिल रहते हैं और कभी-कभी विवादों की वजह से प्रशंसको के गुस्से का शिकार भी हो जाते हैं. ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे ही आलराउंडर खिलाड़ियों के बारे में बताने वाले हैं, जो हार्दिक पंड्या के लिए खतरा साबित हो सकते हैं.
ये पांच खिलाड़ी ले सकते हैं Hardik Pandya की जगह

1. विजय शंकर (Vijay Shankar) जब पिछली बार Hardik Pandya को चोट लगी थी. उस समय उनकी जगह टीम में विजय शंकर को ही मौका दिया गया था. जिसके बाद उन्होंने अच्छा प्रदर्शन करके ही टीम में अपनी जगह बनाई थी और उसके बाद विश्व कप टीम का हिस्सा बने थे. विजय शंकर ने अब तक भारतीय टीम के लिए एकदिवसीय क्रिकेट के 12 मैच में 31.85 के औसत से 223 रन बनाये हैं और 4 विकेट भी अपने नाम किए हैं.

टी20 क्रिकेट में इस खिलाड़ी ने अब तक 9 मैच खेले हैं. जिसमें उन्होंने 25.25 के औसत से 101 रन बनाये हैं और इसके साथ ही उन्होंने 5 विकेट भी लिए हैं. हाल में ही विजय शंकर ने चोट से वापसी करते हुए विजय हजारे ट्रॉफी खेली. जहाँ पर उन्होंने लगातार रन बना कर दिखाया है. जो पंड्या की तरह आक्रामक बल्लेबाजी भी कर सकते हैं. जबकि गेंदबाजी में भी अब उनमें सुधार नजर आ रहा है.

2. शिवम दूबे (Shivam Dube) घरेलू क्रिकेट के पिछले कुछ समय से एक तेज गेंदबाजी आलराउंडर ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है और वो खिलाड़ी हैं शिवम दूबे. शिवम ने सभी फ़ॉर्मेट में खुद को साबित करते हुए आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का हिस्सा बने. हालांकि वहां पर इस खिलाड़ी को बहुत जयादा मौके नहीं मिल पाए. शिवम दूबे ने अब तक घरेलू क्रिकेट की लिस्ट ए में 43 मैच खेले.

इन मैचों में 40.21 की औसत से 764 रन बनाये और 36 विकेट भी हासिल किये हैं. जबकि टी20 क्रिकेट में इस खिलाड़ी ने 61 मैच में 20.34 की औसत से 834 रन बनाये और 32 विकेट भी लिए हैं. शिवम भी Hardik Pandya की तरह लंबे छक्के आसानी से लगा सकते हैं. जो उन्होंने कई बार करके दिखाया है. शिवम दूबे की गेंदबाजी में भी विविधिता नजर आती है.

3. कमलेश नागरकोटी (Kamlesh Nagarkoti) पृथ्वी शॉ की कप्तानी में अंडर19 की टीम ने जो विश्वकप अपने नाम किया. उसमें इस खिलाड़ी का योगदान बहुत रहा है. अपनी स्पीड के कारण इस बाएं हाथ के तेज गेंदबाज को भारतीय टीम का भविष्य कहा जा रहा है. सिर्फ इतना ही नहीं कमलेश आखिरी के ओवरों में तेजी से रन बनाने की क्षमता भी रखते हैं.

नागरकोटी ने अब तक घरेलू क्रिकेट में लिस्ट ए के 9 मैच में बल्ले से 26.20 की औसत से 131 रन बनाये हैं और साथ ही गेंद से 25 के औसत से 11 विकेट भी हासिल किये हैं. अब भारतीय टीम के लिए भी ये खिलाड़ी जल्द खेल सकता है. एक गेंदबाज के रूप में भी ये खिलाड़ी टीम का हिस्सा बन कर Hardik Pandya की जगह ले सकता है.

4. कृष्णप्पा गौतम (Krishnappa Gowtham) स्पिनर कृष्णप्पा गौतम भी इस जगह पर अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं. गौतम भी हार्दिक पंड्या की तरह आक्रामक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं. गौतम ने पहले कर्नाटक प्रीमियर लीग में और उससे पहले आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए अच्छा प्रदर्शन करके अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया है.

कृष्णप्पा गौतम ने अब तक घरेलू क्रिकेट में लिस्ट ए में 47 मैच खेले हैं. जिसमें उन्होंने 21.46 की औसत से 558 रन बनाये हैं. जिसके साथ ही उन्होंने 70 विकेट भी हासिल किये हैं. टी20 क्रिकेट में उन्होंने 62 मैच में 15.63 की औसत से 594 रन बनाये और 41 विकेट हासिल किए हैं. आक्रामक खिलाड़ी के होने के नाते Hardik Pandya की जगह इस आलराउंडर को टीम में जगह दी जा सकती है.

5. दीपक चाहर (Deepak Chahar) भारतीय टीम के लिए हैट्रिक विकेट ले चुके दीपक चाहर ने खुद को अब तक एक गेंदबाज के रूप में साबित किया है. सिर्फ यही नहीं वो धाकड़ बल्लेबाजी करने की भी क्षमता रखते हैं. ये बात उन्होंने घरेलू क्रिकेट में साबित भी किया है. दीपक चाहर भी हार्दिक पांड्या का एक अच्छा विकल्प बन सकते हैं.

दीपक चाहर ने अब तक लिस्ट ए के 46 मैचों में नाबाद 63 के सर्वोच्च स्कोर के साथ 386 रन बनाये हैं और साथ में 58 विकेट भी लिए हैं. दीपक अंतिम ओवरों में लंबे छक्के लगा सकते हैं. ये बात उन्होंने आईपीएल में दिखाई भी है. भारत के लिए दीपक चाहर ने 13 टी20 मैचों में मात्र 18 विकेट हासिल किये हैं. यह खिलाड़ी आराम से Hardik Pandya की जगह ले सकता है.

No comments