Breaking News

स्मृति ईरानी ने इन दो चीजों से परहेज करके घटाया वजन, आप भी जानिए यह 'चमत्कारी तरीका'

No-gluten Diet Is Secrets Behind Smriti Irani's Weight

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने आश्चर्यजनक रूप से अपना वजन कम करके सभी को चौंका दिया है। हाल ही में सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीर देखकर लोगों को भरोसा ही नहीं हो रहा है कि इतनी तेजी से भाजपा सांसद ने अपने शरीर में यह परिवर्तन किस तरह से किया है? अगर आप भी अधिक वजन की समस्या से परेशान हैं तो इस लेख में आगे हम आपको उस चमत्कारी तरीके के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसको प्रयोग में लाकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अपना वजन काफी कम कर लिया है।

अधिक वजन की समस्या से मौजूदा समय में बड़ी संख्या में लोग परेशान हैं। वजन बढ़ने से न सिर्फ लुक खराब हो जाता है, साथ ही सेहत के लिए भी इसे काफी गंभीर माना जाता है। वजन कम करने के लिए लोग तमाम तरह के उपाय प्रयोग में लाते रहते हैं, हालांकि उसमें से सफलता कम ही लोगों को मिलती है। आइए आगे की स्लाइडों में जानते हैं कि आखिर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने किस उपाय को प्रयोग में लाकर खुद में यह बदलाव किया है?

वजन कम करने का यह है राज रिपोर्ट की मानें तो स्मृति ईरानी ने अपना वजन कम करने के लिए विशेष आहार योजना का पालन किया है। इसे नो डेयरी- नो ग्लूटेन डाइट कहा जा रहा है। इसका मतलब है कि केंद्रीय मंत्री ने अपने आहार में ग्लूटेन और डेयरी उत्पादों को बिल्कुल हटा दिया है। डेयरी-और ग्लूटेन मुक्त आहार का पालन करना वैसे तो पहले से ही काफी कारगर माना जाता रहा है। आहार से इन चीजों को हटाकर वजन कम करने में कामयाबी मिल सकती है।

नो डेयरी- नो ग्लूटेन डाइट कैसे है कारगर? 
स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक ग्लूटेन एक प्रोटीन है जो कई अनाजों में पाया जाता है। अध्ययनों से पता चलता है कि इससे शरीर को कोई खास लाभ नहीं होता है। वहीं दूध और दूध से बने उत्पाद प्रोटीन और कई अन्य पोषक तत्वों के बेहतर स्रोत माने जाते हैं, लेकिन इसके कई उत्पादों में फैट की मात्रा अधिक होती है जो तेजी से वजन बढ़ाने लगता है। वजन कम करने के लिए कई लोग नो डेयरी- नो ग्लूटेन के साथ नो शुगर वाली डाइट योजना को भी प्रयोग में लाते हैं जिसे और भी कारगर माना जाता है।

ऐसे कर सकते हैं इस डाइट का पालन यदि आप भी वजन कम करने के लिए नो डेयरी- नो ग्लूटेन आहार योजना को पालन में लाना चाहते हैं तो आपको उन खाद्य पदार्थों से परहेज करना है जिनमें डेयरी, डेयरी-डेरिवेटिव और ग्लूटेन की मात्रा पाई जाती है। डेयरी और ग्लूटेन उत्पाद छोड़ने से पाचन और ऊर्जा के स्तर को काफी फायदा होता है। डेयरी पदार्थों से परहेज करने से अतिरिक्त संतृप्त वसा, चीनी की मात्रा को नियंत्रित किया जा सकता है वहीं आहार से ग्लूटेन स्रोतों को हटाने से मूड, ऊर्जा के स्तर यहां तक कि मैटैन हार्मोनल फ़ंक्शन में सुधार हो सकता है। ये सभी कारक वजन घटाने में मदद करते हैं।

ग्लूटेन छोड़ने के इन फायदों के बारे में भी जानिए सिर्फ वजन कम करने में ही नहीं ग्लूटेन से परहेज करना एलर्जी, सूजन, पीसीओएस के लक्षणों को कम करने में भी सहायक है। विशेष रूप से ग्लूटेन छोड़ना उन लोगों के लिए भी फायदेमंद हो सकता है जिन्हें पाचन संबंधी बीमारियां हैं। ग्लूटेन से परहेज के लिए ब्रेड, केक, कैंडीज, कुकीज़ जैसी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।


No comments