Breaking News

आज तुलसी विवाह के खास मौके पर कर सकते हैं ये उपाय, पूरी होगी सभी मनोकामनाएं

आज तुलसी विवाह के खास मौके पर कर सकते हैं ये उपाय, पूरी होगी सभी मनोकामनाएं

कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को देवउठनी एकादशी (Dev Uthani Ekadashi 2021) या प्रबोधिनी एकदाशी मनाई जाती है. इस दिन भगवान विष्णु (Lord Vishnu) चार माह की निद्रा के बाद जागते हैं और अपना कार्यभार संभालते हैं. इस दिन भगवान विष्णु को जगाने के साथ-साथ तुलसी और शालीग्राम का विवाह (Tulsi-Shaligram Vivah 2021) भी किया जाता है. देवउठनी एकादशी का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है. सालभर में आने वाली सभी एकादशियों में देवउठनी का व्रत सबसे बड़ा है. इस साल 14 नवंबर के दिन देवउठनी एकादशी (Dev Uthani Ekadashi 2021 On 14th NOvember) पड़ रही हैं. वहीं, 15 नवंबर के दिन तुलसी-शालीग्राम विवाह किया जाएगा.

कार्तिक मास में तुलसी पूजन (Kartik Month Tulsi Pujan) का विशेष महत्व है. कहते हैं कि विष्णु जी को तुलसी अत्यंत प्रिय है. इसलिए विष्णु भगवान की पूजा के दौरान तुलसी पत्र अवश्य शामिल करने चाहिए. कार्तिक मास की एकादशी के दिन तुलसी पूजन तो किया जाता ही है. साथ ही, कुछ उपायों को करने से भी भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं. आइए जानते हैं तुलसी विवाह के दिन किन उपायों को करने से मनचाहा वर प्रदान होता है.

तुलसी पूजन के दिन करें ये उपाय (Tulsi Pujan Upaye)

- मान्यता है कि पीपल के वृक्ष में भगवान विष्णु का वास होता है. देवोत्थान एकादशी के दिन पीपल के वृक्ष को जल चढ़ाने और शाम के समय वृक्ष के पास दीपक जलाने से भगवान विष्णु आपकी सारी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं.

- कहते हैं कि देवउठनी एकादशी के दिन पूजन के समय श्री हरि को पैसे अवश्य चढ़ाएं. इसके बाद इन पैसों को अपने पर्स में संभालकर रख लें. इससे पर्स में पैसों की आवक में खुद ही बढ़ोत्तरी होने लगेगी.

- देवोत्थान एकादशी के दिन तुलसी जी के पास शुद्ध घी के 11 दीपक जलाकर ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः का जाप करें. इस मंत्र का जाप करते हुए तुलसी जी की 11 परिक्रमा करें. ऐसा करने से मां तुलसी आपके सभी रोग-दोष दूर करेंगी और घर में सुख-समृद्धि का आगमन होगा.

- कहते हैं कि अगर किसी व्यक्ति के विवाह में बाधा आ रही है तो देवोत्थान एकादशी के दिन तुलसी विवाह का आयोजन करना चाहिए. साथ ही, तुलसी मंगलाष्टक का पाठ करने से विवाह में आ रही रूकावटें दूर होती हैं.

- लंबी बीमारी से छुटकारा पाने के लिए देवोत्थान एकादशी के दिन तुलसी पूजन में तुलसी नामाष्टक का पाठ करें.

- नौकरी या करोबार में तरक्की पाने के लिए देवउठनी एकादशी के दिन श्यामा तुलसी की जड़ का एक टुकड़ा लें और उसे पीले कपड़े में बांधकर ऑफिस या दुकान में रख दें. ऐसा करने से आपकी मनचाही इच्छा पूरी होगी.

No comments