Breaking News

अगर जोश में खो बैठे होश तो आजमाएं ये घरेलू उपाय, नहीं लेनी पड़ेगी कोई गोली

अगर जोश में खो बैठे होश तो आजमाएं ये घरेलू उपाय, नहीं लेनी पड़ेगी कोई गोली

माँ बनना हर महिला के लिए सबसे सुखद एहसास होता है। लेकिन आजकल महिलाएँ अपने करियर में सेटल होने के बाद ही माँ बनना पसंद करती हैं। कई बार शारीरिक, पारिवारिक, आर्थिक या किसी अन्य समस्या के कारण भी महिलाएं देर से माँ बनने के बारे में फैसला लेती हैं। लेकिन कई बार सावधानी ना बरतने के कारण महिलाऐं गर्भधारण कर लेती हैं। ऐसे में अक्सर महिलाएँ गर्भनिरोधक गोलियों का इस्तेमाल करती हैं लेकिन इसके साइड इफेक्ट्स होते हैं। ऐसे में आप अनचाहे गर्भ से बचने के लिए कुछ घरेलू नुस्खों का सहारा ले सकती हैं-

आयुर्वेद के अनुसार अनचाही प्रेगनेंसी को रोकने के लिए अंजीर बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसके सेवन से हॉर्मोन्स कंट्रोल होते हैं जिससे अनचाहे गर्भ से सुरक्षा मिलती है। इसके लिए दिन में दो से तीन बार अंजीर खाएँ। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार अनचाहे गर्भ से बचने के लिए अदरक भी फायदेमंद माना जाता है। इसके दिन पानी में कद्दूकस किए हुए अदरक को उबाल लें। इसके बाद पानी को छानकर इसका सेवन करें। इससे अनचाहा गर्भ नहीं ठहरता।

अनचाहे गर्भ से सुरक्षा पाने के लिए पपीता खाना भी लाभकारी है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार इसमें पेपाइन नामक एसिड होता है जो गर्भ को ठहरने से रोकता है। इसके लिए दिन में दो से तीन बार पपीते का सेवन करें या कच्चे पपीते का जूस पिएँ। अगर आप अनचाहे गर्भ से बचना चाहती हैं तो एक गिलास गुनगुने पानी में आधा चम्मच हींग मिलाकर पिएँ। इससे गर्भ नहीं ठहर पाता और अनचाही प्रेगनेंसी से सुरक्षा मिलती है।

अनचाही प्रेगनेंसी को रोकने के लिए इलायची भी फायदेमंद है। इसके लिए एक गिलास पानी में इलायची को रातभर भिगोकर रखें। अगले दिन इसका छिलका उतार कर इसका पानी पी लें। ऐसा दिन में दो से तीन बार करें। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक प्रचुर मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से भी अनचाहा गर्भ नहीं ठहरता है। इससे शुक्राणु नष्ट हो जाते हैं और अनचाही प्रेगनेंसी से बचाव होता है। इसके लिए अनानास, संतरा और खट्टे फलों का सेवन करें।

अगर आप अनचाही प्रेगनेंसी से बचना चाहती हैं तो कटहल का सेवन करें। दरअसल, कटहल की तासीर गर्म होती है जिसके कारण यह गर्भ को ठहरने से रोकता है। इसके लिए आप कटहल की सब्जी का सेवन कर सकती हैं। पुराने गुड़ से भी अनचाही प्रेगनेंसी से बचा जा सकता है। गुड़ की तासीर गर्म होती है और यह गर्भ को ठहरने से रोकता है। इसके लिए आप दिन में दो से तीन बार गुड़ का सेवन करें।

No comments