Breaking News

भारत में कब आएगी तीसरी लहर? एक्सपर्ट्स ने बता दिया टाइम

भारत में कब आएगी तीसरी लहर? एक्सपर्ट्स ने बता दिया टाइम

ओमिक्रॉन वैरिएंट दुनियाभर में तबाही मचा रहा है. इस वायरस से दुनियाभर के तमाम देश परेशान हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि ये वायरस भारत समेत 70 से ज्यादा देशों में फैल चुका है. नीति आयोग ने चेताया है कि अगर ब्रिटेन की तरह ही भारत में भी कोरोना फैला तो तीसरी लहर के दौरान रोजाना 14 लाख तक केसेज आ सकते हैं.

यूरोप के ज्यादातर देशों में कोरोना के नए केसेज रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं. ब्रिटेन में 17 दिसंबर को 92 हजार से ज्यादा केस मिले हैं, जो एक दिन में मिले नए केसेज का रिकॉर्ड है. भारत में भी यह घातक हो सकता है. अब तक भारत के 12 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में 100 से अधिक ओमिक्रॉन केस मिल चुके हैं.

हेल्थ एक्सपर्ट्स कह रहे हैं कि कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट के लक्षण दूसरे स्ट्रेन से बिल्कुल अलग हैं, इसलिए कुछ खास लक्षणों को बिल्कुल इग्नोर न करें. कोरोना (Coronavirus) के तीन मुख्य लक्षण कफ, तेज बुखार और स्वाद व गंध का चले जाना है, ​लेकिन ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron Variant) से संक्रमित होने पर आपको कुछ अलग लक्षण नजर आ सकते हैं. ये कॉमन कोल्ड के लक्षणों जैसा हो सकता है जिसे अक्सर लोग इग्नोर कर देते हैं.

ओमिक्रॉन के तीन बड़े लक्षण
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, साउथ अफ्रीका में जहां ओमिक्रॉन वैरिएंट पहली बार डिटेक्ट हुआ वहां के चिकित्सकों का कहना है कि इस वैरिएंट के मुख्य लक्षण थकान, बॉडी पेन और सिरदर्द है.

हाल ही में हेल्थ मिनिस्ट्री के जॉइंट सेक्रेटरी सचिव लव अग्रवाल और बलराम भार्गव के बाद नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) वीके पॉल ने भी मीडिया से बातचीत की थी. उन्होंने बताया है कि कोरोना से यूरोप के देशों की स्थिति बेहद खराब है, यहां डेल्टा के साथ ओमिक्रॉन वैरिएंट के केस भी तेजी के साथ बढ़ रहे हैं. ऐसे में हमें हर एक स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहना होगा. मास्क और वैक्सीन जरूर लगवाएं.

ओमिक्रॉन के सामान्य लक्षण




तीसरी लहर कब आएगी? (when come Corona third wave in India)
इस बारे में राष्ट्रीय COVID-19 सुपरमॉडल समिति का कहा है कि देश में अभी हर दिन लगभग 75,00 कोरोना मामले आ रहे हैं, लेकिन ये आंकड़ा ओमिक्रॉन के चलते बहुत जल्द बढ़ सकता है. समिति के प्रमुख विद्यासागर ने कहा कि ओमिक्रॉन के चलते देश में कोरोना की तीसरी लहर आएगी, लेकिन ये दूसरी लहर की तुलना में कम प्रभावी होगी. विद्यासागर के अनुसार, ''देश में अगले साल की शुरुआत में तीसरी वेव आ सकती है.

No comments