Breaking News

धर्म और संस्कृति की रक्षा के लिए शस्त्र पूजा जरूरी

धर्म और संस्कृति की रक्षा के लिए शस्त्र पूजा जरूरी

विश्व हिंदू परिषद की दुर्गा वाहिनी और मातृशक्ति संगठन ने संयुक्त रूप से सोमवार को सरस्वती विद्या मंदिर के प्रांगण में दुर्गा अष्टमी पूजन एवं शस्त्र पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया। इस कार्यक्रम में शस्त्र पूजन के बाद कार्यक्रम के औचित्य पर चर्चा की गई।

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि प्रोफेसर सुषमा पांडेय ने कहा कि स्त्री देवी स्वरूपा है। आदि काल से ही स्त्री और पुरुष मिलकर समाज को चलाते हैं। वर्तमान परिवेश में जिस प्रकार हिंदू विरोधी शक्तियां सामने आ रहीं हैं, उसे देखते हुए माताओं-बहनों की भूमिका बढ़ जाती है। हिंदू धर्म व संस्कृति की रक्षा के लिए शस्त्र की शिक्षा भी जरूरी है। महिलाओं को मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत बनना पड़ेगा। कार्यक्रम में चारू चौधरी एवं सुधा मोदी ने भी संबोधित किया। रागिनी श्रीवास्तव ने आभार जताया। कार्यक्रम का संचालन वसुधा पांडेय ने किया। इस मौके पर मनीषा चतुर्वेदी, रीता शर्मा, स्वीटी जायसवाल, मधु पोद्दार, मेघना रणदीप कौर, परमेश्वर कुमार, दुर्गेश त्रिपाठी, जिलाध्यक्ष परमानंद, रोहित कुमार समेत कई लोग मौजूद रहे।

कमल शक्ति अभियान पर चर्चा हुई भाजपा के बेनीगंज स्थित कार्यालय पर नगर मंडल कार्यसमिति की बैठक हुई। इसमें कमल शक्ति अभियान पर चर्चा की गई। इस बैठक में महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता ने सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने की बात कही। इस दौरान रानी मिश्रा, विजयलक्ष्मी मिश्रा, ओमप्रकाश शर्मा, बृजेश मणि, मीना श्रीवास्तव, चंदा सिन्हा, रत्नेश मौर्या, उषा चौहान, सुभद्रा गुप्ता, रचना गुप्ता आदि मौजूद रहीं।

No comments