Breaking News

हिमाचल: मामा और बुआ के बेटों ने 'बहन' की इज्जत लूटकर ले ली थी जान, मिली ये सजा

हिमाचल: मामा और बुआ के बेटों ने 'बहन' की इज्जत लूटकर ले ली थी जान, मिली ये सजा

मंडी। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले स्थित अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुंदरनगर अनुजा सूद की अदालत ने भाई बहन के पवित्र रिश्ते को कलंकित करने वाले एक मामले में दो दोषियों को आजीवन कारावास व जुर्माने की सजा सुनाई। दुष्कर्म व तेजधार हथियार से हत्या करने का आरोप सिद्ध होने पर दोनों दोषियों को अदालत ने अलग-अलग सजा सुनाई है।

शर्मनाक बात तो यह है कि दोनों रिश्ते में पीडिता के भाई लगते हैं। एक मामा व दूसरा बुआ का बेटा है। इन दोनों ने अपनी बहन से दुराचार करने के बाद हाथों और गले को तेजधार हथियार से रेतकर उसकी हत्या कर दी थी। इसके बाद आरोपियों ने पीड़िता को रास्ते से 500 मीटर नीचे फेंक दिया था, जहां खून से सनी उसकी लाश बरामद की गई थी।

आरोपियों के नाम निर्मल सिंह और सुभाष चंद है, ये दोनों ही तहसील थुनाग के निवासी हैं। मामले की जांच के दौरान इस बात का पता चला था कि दोनों ने टोके और छुरी से बहन की हत्या की थी। रासायनिक परीक्षण से छानबीन के दौरान यह बात सामने आई थी कि हत्या से पहले मृतका के साथ दुष्कर्म हुआ था। वहीं, अब कोर्ट के आदेशों के तहत दोनों दोषियों की सजा एक साथ चलेंगी।

No comments