Breaking News

जंगली लहसुन Wild Garlic के फायदे जानकर रह जाएंगे दंगl

जंगली लहसुन के फायदे जानकर रह जाएंगे दंगl

Wild Garlic Benefits: जंगली लहसुन एक हरे रंग का पौधा होता है, जिसके पत्तों का इस्तेमाल कई शारीरिक समस्याओं में औषधि के रूप में किया जाता है। हालांकि, जंगली लहसुन के फायदे लहसुन से अलग होते हैं। इस हरे रंग के पौधे में सफेद रंग के पुष्प भी निकलते हैं। जंगली लहसुन के पत्तों का काढ़ा बनाकर पीना कई स्वास्थ्य समस्याओं में फायदेमंद होता है। तो आइए जानते हैं इससे होने वाले फायदों के बारे में..

• सूजन दूर करे
गठिया रोग से ग्रस्त लोग पैरों के दर्द और सूजन दूर करने के लिए जंगली लहसुन के पत्तों का रस लगा सकते हैं। त्वचा पर घाव अथवा फोड़ा ठीक करने के लिए भी जंगली लहसुन का रस लगाना फायदेमंद होता है। इसके अलावा सिर दर्द, अनिद्रा और पेट में अल्‍सर की समस्या में राहत पाने के लिए भी जंगली लहसुन के फायदे देखे जा सकते हैं।

• बेहतर पाचन के लिए
आंतों की सफाई के लिए तथा कब्ज की समस्या में जंगली लहसुन काफी फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है। वहीं पेट फूलने की समस्या से निजात पाने के लिए भी जंगली लहसुन का सेवन बहुत लाभकारी होता है। दस्त होने पर अथवा पेट से जुड़ी किसी समस्या में आप जंगली लहसुन के पौधे की पत्तियों को उबालकर इसका काढ़ा बनाकर पी सकते हैं।

• स्वस्थ हृदय के लिए
शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने तथा ह्रदय स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए जंगली लहसुन काफी फायदेमंद माना जाता है। जंगली लहसुन का सेवन शरीर में रक्त शुद्धीकरण करने के साथ ही श्वसन प्रणाली को भी बेहतर बनाता है।

• इम्यूनिटी बूस्टर करे
जो लोग अक्सर बीमार रहते हैं तथा जिनकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है, उनके लिए विटामिन सी, प्रोटीन, विटामिन बी, विटामिन ए से भरपूर जंगली लहसुन का सेवन कारगर साबित हो सकता है। इसके लिए आप जंगली लहसुन के साथ हल्दी, शहद, तुलसी मिलाकर इनका काढ़ा बनाकर पी सकते हैं।

• बुखार उतारने के लिए
टाइफाइड या निमोनिया में बुखार उतारने के लिए भी जंगली लहसुन फायदेमंद माना जाता है। ऐसे में आप बुखार उतारने के ल‍िए जंगली लहसुन का काढ़ा बनाकर पी सकते हैं। एंटीबैक्टीरियल गुणों से युक्त जंगली लहसुन का सेवन संक्रमण से बचाने में सहायक होता है। इसलिए बुखार होने पर आप सुबह शाम जंगली लहसुन का काढ़ा बनाकर पी सकते हैं।

No comments