Breaking News

कोरोना वेक्सीन लगवाने के बाद बच्चों को भूलकर भी न दें ये दवाइयां

कोरोना वेक्सीन लगवाने के बाद बच्चों को भूलकर भी न दें ये दवाइयां

प्रदेश भर में 15 से 18 वर्ष के बच्चों को कोरोना वेक्सीन लगाई जा रही है. भोपाल में कुल 1,53,553 बच्चों का टीकाकरण किया जाना है. अभी तक करीब 90 हजार बच्चों को टीके लगाए जा चुके हैं. इस बीच कोवैक्सीन टीका लगवाने के बाद बच्चों को पैरासिटामोल न देने की सलाह देने की बात सामने आई है.

एडवायजरी में भारत बायोटेक ने कहा कि कोवैक्सिन लगवाने के बाद पैरासिटामॉल टैबलेट लेने की कोई जरूरत नहीं है- वैक्सीन बनाने वाली कंपनी यानि भारत बायोटेक ने ये सुझाव दिया है. कंपनी ने इस संबंध में एक एडवायजरी भी जारी की है. एडवायजरी में भारत बायोटेक ने कहा कि कुछ टीकाकरण केंद्रों पर बच्चों को कोवैक्सिन के साथ पैरासिटामोल देने का हमें फीडबैक मिला है. जानकारी के अनुसार बच्चों को 500 एमजी की तीन पैरासिटामोल टैबलेट लेने के लिए कहा जा रहा है.इस संबंध में कंपनी का स्पष्ट कहना है कि कोविड की दूसरी वैक्सीन के साथ पैरासिटामॉल लेने की सलाह दी जा रही हो पर कोवैक्सिन लगवाने के बाद पैरासिटामॉल टैबलेट लेने की कोई जरूरत नहीं है.

कोवैक्सीन टीका लगवाने के बाद बच्चों को डॉक्टर के परामर्श के बिना पैरासिटामोल न दें- भारत बायोटेक ने कहा है कि कोवैक्सीन टीका लगवाने के बाद बच्चों को डॉक्टर के परामर्श के बिना पैरासिटामोल न दें. कोवैक्सीन (Covaxin) लगवाने के बाद पैरासिटामोल या दर्द निवारक दवा की कोई जरूरत ही नहीं है. एडवायजरी में कंपनी के मुताबिक क्लिनिकल परीक्षण में 10 से 20 प्रतिशत लोगों ने कोवैक्सीन के बाद किसी तरह के साइड इफेक्ट होने की बात बताई थी. हालांकि इनमें से भी ज्यादातर को हल्की समस्या ही हुई और वे कोई भी दवा लिए बिना 1—2 दिन में ठीक भी हो गए.

इधर शुक्रवार को भी स्कूलों में टीके लगाने का काम होगा. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि करीब 18 हजार बच्चों को टीके लगाए जाएंगे.

बच्चों के टीकाकरण की स्थिति

तारीख स्कूली बच्चे
3 जनवरी 26,736
4 जनवरी 18,542
5 जनवरी 32,110
6 जनवरी 10,851

No comments