Breaking News

मंडी में शराब पीने से पांच लोगों की संदिग्ध हालत में मौत, संदेह के आधार पर दो को हिरासत में लिया

मंडी में शराब पीने से पांच लोगों की संदिग्ध हालत में मौत, संदेह के आधार पर दो को हिरासत में लिया

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में शराब पीने से पांच लोगों की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। परिजनों ने आरोप लगाया है की जहरीली शराब से इन सभी की मौत हुई है, पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।
जानकारी के अनुसार, सुंदरनगर के स्लापड में शराब के सेवन के बाद चार लोगों की संदिग्ध हालात में मौत हो गई और एक अन्य ने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। परिजनों का आरोप है कि जहरीली शराब के सेवन से इनकी मौत हुई है। पुलिस ने शव कब्जे में ले लिए हैं। इन्होंने शराब के साथ किस खाद्य पदार्थ का सेवन किया था, इसकी भी जांच की जा रही है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आशीष शर्मा ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारण का पता लग पाएगा। पुलिस मामले की जांच कर रही है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि पिछले कई दिनों से सलापड़ क्षेत्र में चोरी छिपे चंडीगढ़ से शराब लाकर बेची जा रही थी।

चंडीगढ़ में बनी जहरीली शराब का नाम 999 है। इन्होंने इसी शराब का सेवन किया था। बताया जा रहा है क्षेत्र में इस शराब की मांग ज्यादा हो गई थी, इससे ज्यादा नशा होने की बात कही जा रही है।

इनकी हुई मौत मरने वालों में पंचायत समिति सुंदरनगर के पूर्व अध्यक्ष सतीश ठाकुर का भाई भी शामिल है। शवों की शिनाख्त सुदेश कुमार, लाल सिंह व चेतराम के रूप में हुई है।

आठ लाख की आर्थिक सहायता देगी सरकार विधायक राकेश जमवाल ने बताया जहरीली शराब पीने से मारे गए मृतकों के परिजनों को आठ लाख की आर्थिक सहायता दी जाएगी। चार लाख की राशि प्रदेश के मुख्यमंत्री की तरफ से तथा चार लाख जिला प्रशासन की तरफ से दिए जाएंगे। मृतकों के परिजनों को 50 हजार की फौरी सहायता प्रदान कर दी गई है। वहीं उपचाराधीन लोगों का सारा खर्चा सरकार वहन करेगी।

ठेका सील, दो लोग गिरफ्तार एसपी शालिनी अग्निहोत्री के नेतृत्व में पुलिस बटालियन मौके पर शराब की तलाश में सर्च अभियान चला रही है। संदेह के आधार पर दो लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। अब तक शराब के 25 सैंपल भरे गए हैं। सलापड़ में शराब ठेके को भी सील कर दिया गया है। आबकारी विभाग और पुलिस संयुक्त तौर पर कार्रवाई कर रहे हैं।

No comments