Breaking News

शादी से पहले जरूर करवा लें पार्टनर के ये 4 मेडिकल टेस्ट, नहीं तो बाद में..

शादी से पहले जरूर करवा लें पार्टनर के ये 4 मेडिकल टेस्ट, नहीं तो बाद में..

Medical Tests Before Marriage: शादियों का सीजन चल रहा है. भारतीय शादियों की बात की जाए तो यहां शादियां काफी रीति- रिवाजों के साथ की जाती है. शादी से पहले लड़के और लड़की की कुंडली मैच की जाती है. कुंडली मिलने के बाद ही रिश्ता तय किया जाता है. शादी से पहले लड़के और लड़की में कई तरह की चीजें देखी जाती हैं जैसे बर्ताव, कम्पैटिबिलिटी आदि. लेकिन एक चीज ऐसी है जिसपर किसी का ध्यान नहीं जाता और वह है मेडिकल फिटनेस. शादी से पहले मेडिकल फिटनेस (Medical Tests Before Wedding) की जांच कराने से कपल्स के बीच का रिश्ता मजबूत होने के साथ ही स्वस्थ भी बनता है.

तो अगर आप भी किसी के साथ अपनी पूरी जिंदगी बिताने का सपना देख रहे हैं तो उससे पहले आपको अपने पार्टनर के मेडिकल स्टेटस के बारे में पता होना काफी जरूरी होता है. ऐसे में शादी से पहले सभी लोगों को अपने पार्टनर के ये 4 मेडिकल टेस्ट (Medical Tests) जरूर कराने चाहिए, ताकि आपको आने वाली नई जिंदगी में किसी भी तरह की समस्या का सामना ना करना पड़े. आइए जानते हैं इन टेस्ट्स के बारे में-

इनफर्टिलिटी टेस्ट- पुरुषों के स्पर्म काउंट और महिलाओं की ओवरी हेल्थ के बारे में जानने के लिए इनफर्टिलिटी टेस्ट करवाना काफी जरूरी होता है क्योंकि शरीर में इनफर्टिलिटी से जुड़े कोई भी लक्षण पहले से नजर नहीं आते, इसके बारे में टेस्ट के जरिए ही जानकारी प्राप्त की जा सकती है.अगर आप भविष्य में बेबी प्लानिंग या फिर आपकी नॉर्मल सेक्सुअल लाइफ के लिए यह काफी जरूरी होता है.

ब्लड ग्रुप कंपैटिबिलिटी टेस्ट- ये कोई बहुत जरूरी टेस्ट नहीं होता है. लेकिन अगर आप भविष्य में फैमिली प्लानिंग करना चाहते हैं तो आपको ये टेस्ट करवाना चाहिए. यह जरूरी है कि आपका और आपके पार्टनर का आरएच फैक्टर एक जैसा हो. अगर आप दोनों के ब्लड ग्रुप अनुकूल नहीं होते तो इससे प्रेग्नेंसी के दौरान आपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

जेनेटिक बीमारियों से जुड़ा टेस्ट- शादी से पहले कपल्स को जेनेटिक टेस्ट जरूर करवाना चाहिए. आनुवांशिक बीमारियां एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में आसानी से जा सकती हैं. ऐसे में जरूरी है कि शादी से पहले जेनेटिक टेस्ट जरूर कराएं. जेनेटिक बीमारियों में स्तन कैंसर, पेट का कैंसर, किडनी डिजीज और डायबिटीज शामिल हैं. इन बीमारियों का पता अगर पहले ही लग जाए तो इनका समय पर इलाज किया जा सकता है जिससे आगे कोई परेशानी ना हो.

सेक्शुअली ट्रांसमिटेड डिजीज टेस्ट- आजकल के समय में शादी से पहले यौन संबंध बनाना काफी आम हो गया है. ऐसे में जरूरी है कि आप सेक्शुअली ट्रांसमिटेड डिजीज का टेस्ट करवा लें. इन बीमारियों में एचआईवी, एड्स, गोनोरिया, हर्प्स, हेपेटाइटिस सी शामिल हैं. ये कुछ ऐसी बीमारियां हैं जो असुरक्षित यौन संबंध की वजह से फैलती हैं. इनमें से ज्यादातर बीमारियां जानलेवा साबित हो सकती हैं. ऐसे में एसटीडी टेस्ट जरूर कराएं. अगर इस टेस्ट को कराने से आपके पार्टनर की रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो आप भविष्य होने वाली बड़ी परेशानी से पहले ही बच सकते हैं.

No comments