Breaking News

सोने से पहले सुनते हैं आप भी संगीत? अभी सुधार लें ये आदत, वरना

सोने से पहले सुनते हैं आप भी संगीत? अभी सुधार लें ये आदत, वरना

गाने सुनना (Music) किसे पसंद नहीं होता है? सभी लोग अपने मूड को रिफ्रेश करने के लिए गाने सुनते हैं. कई लोग सोते वक्त भी गाने सुनते हैं. अगर आप भी ऐसा कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि एक शोध में सामने आया है कि सोने से पहले गाने सुनने वाले लोगों की नींद में भी गाने चलते रहते हैं. दरअसल, सोते समय हमारे मस्तिष्क में संगीत की प्रक्रिया उस समय भी चलती रहती है, जब वो बंद होता है. रिपोर्ट के मुताबिक, शोध के नतीजों को 'साइकोलॉजिकल साइंस' नामक पत्रिका में प्रकाशित किया गया है.

क्यों की गई ये शोध दरअसल, नींद पर रिसर्च करने वाले अमेरिकी की बायलर यूनिवर्सिटी में मनोविज्ञान और तंत्रिका विज्ञान के एसोसिएट प्रोफेसर माइकल स्कलिन ने शोध किया था. उन्होंने यह जानने के लिए शोध किया था कि नींद पर संगीत का किस तरह का असर पड़ सकता है. उन्होंने बताय कि एक रात उनकी नींद अचानक रात में खुल गई थी, तो उनके मस्तिष्क में संगीत का वही धुन बज रहा थी, जो उन्होंने सोने से पहले सुना था. इसके बाद ही उन्होंने इस विषय पर शोध करने की ठानी.

नींद हो सकती है खराब प्रोफेसर स्कलिन ने बताया कि सभी जानते हैं कि संगीत सुनने से अच्छा महसूस होता है. उन्होंने कहा कि खासकर युवा वर्ग तो नियमित रूप से सोते समय संगीत सुनते हैं, लेकिन कई बार ऐसा होता है कि सोने की कोशिश के दौरान भी मस्तिष्क में संगीत चलता रहता है. इससे नींद के खराब होने की संभावना रहती है.

संगीत सुनने का समय भी रखता है महत्वपूर्ण स्कलिन ने बताया कि सोते समय हमारे मस्तिष्क में संगीत की प्रक्रिया उस समय भी चलती रहती है, जब वो बंद होता है. वह एक परीक्षण के आधार पर इस निष्कर्ष पर पहुंचे. उन्होंने बताया कि अध्ययन में 50 लोगों को शामिल किया गया था. इस दौरान उन्होंने सोने से पहले कई तरह के संगीत सुनाए और उससे नींद पर होने वाले प्रभावों के बारे में पता लगाया. उन्होंने बताया कि इस दौरान सामने आया है कि जो लोग अधिक संगीत सुनते हैं, उनकी नींद और भी बदतर हो सकती है. उन्होंने कहा कि संगीत सुनने का समय भी महत्वपूर्ण होता है, इसलिए सोने से पहले संगीत न सुने.

No comments