Breaking News

फोन पर स्क्रीन गार्ड लगाने से पहले जान लें ये बात, ना दोहराएं ये गलती

फोन पर स्क्रीन गार्ड लगाने से पहले जान लें ये बात, ना दोहराएं ये गलती

स्मार्टफोन का अब ये ऐसा दौर है कि जब हम खुद से ज्यादा फोन को सुरक्षित रखते हैं. ज्यादातर लोग नया फोन खरीदते ही उस पर टेम्पर्ड ग्लास लगवा लेते हैं, ताकि फोन की स्क्रीन को सुरक्षित किया जा सके. लेकिन कम ही लोग हैं जो इस बात को जानते हैं कि स्क्रीन गार्ड मोबाइल को नुकसान पहुंचाता है. इससे न सिर्फ कॉलिंग में समस्या आती है बल्कि यूजर्स को लगता है कि उसका फोन ख़राब हो गया है.

दरअसल, नए स्मार्टफोन्स में मॉडर्न टच डिस्प्ले दिया जा रहा है. जिसके नीचे की तरफ एम्बिएंट लाइट सेंसर और प्रोक्सिमिटी सेंसर मौजूद होते हैं. लेकिन जब हम अपने फोन पर स्क्रीनगार्ड लगा लेते हैं तो ये सेंसर ब्लॉक हो जाते हैं. काम करना बंद कर देते हैं. इस वजह से फोन कॉल के दौरान स्क्रीन लाइट परेशान करने लगती है.

बात करते करते आपके फोन में कोई दूसरी एप खुल जाती है. इसके अलावा ऑन-स्क्रीन फिंगरप्रिंट होने पर स्मार्टफोन अनलॉक करने में परेशानी आती है. फोन देर से अनलॉक होता है.

क्या है इसका समाधान? दरअसल, इस तरह की समस्याएं ज्यादातर उन स्मार्टफोन्स में आती हैं जिन पर हल्की क्वालिटी का गार्ड लगा होता है. इसलिए एक्सपर्ट अच्छी कंपनी का प्रोटेक्टर लगाने की सलाह देते हैं. जब आप फोन खरीदें तो उसी कंपनी का प्रोटेक्टर भी खरीद लें. क्योंकि कंपनियों को पता है कि उन्होंने सेंसर कहां लगाया है. जिसे ध्यान में रखकर ही वह कंपनी प्रोटेक्टर बनाती है.


No comments