Breaking News

हिमाचल में फिर बिगड़े मौसम के तेवर, पहाड़ों पर फिर से होगी बर्फबारी

हिमाचल में फिर बिगड़े मौसम के तेवर, पहाड़ों पर फिर से होगी बर्फबारी

हिमाचल प्रदेश में लगातार बिगड़ते मौसम ने लोगों के लिए बड़ी परेशानी खड़ी कर दी है. पिछले 24 घंटों के दौरान हुई बर्फबारी और बारिश के चलते सैकड़ाें रास्ते बंद हो गए हैं. वहीं कई इलाकों में बिजली की आपूर्ति भी बाधित हुई है. इसी के साथ कुछ इलाके ऐसे भी हैं जहां पर पानी की सप्लाई नहीं हो पा रही है. इधर मौसम विभाग का अनुमान है कि पूरे प्रदेश में 3 मार्च तक मौसम खराब रह सकता है. 

1 मार्च को मैदानी इलाकों में कुछ राहत मिलेगी लेकिन मध्य और उच्च पर्वतीय इलाकों में बारिश के साथ ही बर्फबारी की भी संभावनाएं हैं. हालांकि बदलते मौसम के साथ ही सोमवार की सुबह शिमला के लिए कुछ राहत भरी थी और यहां पर अच्छी धूप खिली लेकिन दोपहर बाद से ही बादल छाए रहने से ठंड और गलन का एहसास हुआ.

नेशनल हाईवे भी बंद: स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार सोमवार तक प्रदेश में बारिश और बर्फबारी के चलते तीन नेशनल हाईवे, एक स्टेट हाईवे और 228 अन्य मार्ग बंद पड़े थे. वहीं प्रदेशभर में 15 ट्रांसफार्मर और 14 पेयजल योजनाएं प्रभावित हैं. चंबा जिले में 22 संपर्क मार्ग, 2 ट्रांसफार्मर और पेयजल योजनाएं ठप हैं, किन्नौर में 2 और कुल्लू में 32 सड़के बंद हैं और 8 ट्रांसफार्मर ठप हैं. कुल्लू में एनएच 305 जलोड़ी पास और एनएच 3 रोहतांग दर्रे के पास बंद पड़ा हुआ है. 

शिमला जिले में 12 सड़कें और 4 ट्रांसफार्मर और सोलन जिले में एक सड़क बंद है. लाहौल-स्पिती में 142 संपर्क मार्ग, एनएच 505 और एनएच 03 और एक स्टेट हाई वे बर्फबारी के चलते बंद पड़ा है, यहां एक ट्रांसफार्मर और 6 पेय जल योजनाएं प्रभावित हैं. राज्य सरकार के मुताबिक प्रदेश में सोमवार शाम होने तक कुछ क्षेत्रों में संपर्क मार्गों को आवाजाही के लिए बहाल कर दिया गया है लेकिन सैकड़ों मार्ग अब भी बंद हैं.

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में जनवरी में रिकार्ड बारिश हुई है.
बीते 10 सालों बाद इस साल जनवरी में सामान्य से 92 फीसदी अधिक बारिश हुई है. जनवरी महीने में लाहौल-स्पीति और किन्नौर में ही सामान्य वर्षा हुई लेकिन अन्य सभी स्थानों पर सामान्य से अधिक बारिश हुई. फरवरी महीने में सामान्य से माइनस 24 फीसदी कम बारिश रिकार्ड की गई है.

No comments