Breaking News

कान से जुड़े इन लक्षणों को भूलकर भी न करें नजरअंदाज, नहीं तो हो सकता है स्थायी बहरापन

कान से जुड़े इन लक्षणों को भूलकर भी न करें नजरअंदाज, नहीं तो हो सकता है स्थायी बहरापन

हमारे शरीर में हर अंग एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इन अंगों की देखभाल करना आपका कर्तव्य है। कान हमारे शरीर के सबसे महत्वपूर्ण अंगों में से एक है। आप कान से सुन सकते हैं। कान हमारे शरीर के सबसे नाजुक अंगों में से एक है । कान का परदा पतला है। ईयरड्रम पर थोड़ा सा प्रभाव ईयरड्रम के फटने का कारण बन सकता है और भविष्य में स्थायी बहरापन का कारण बन सकता है। 

अगर आपको कान की कोई समस्या है, तो इसे अक्सर नज़रअंदाज कर दिया जाता है। जब समस्या बढ़ जाती है, तो इसका इलाज किया जाता है, लेकिन इसे कम करके नहीं आंका जाना चाहिए। डॉक्टरों का कहना है कि अगर आपको कान की छोटी-मोटी समस्याएं जैसे कान से पानी बहना, खुजली और दर्द का अनुभव हो तो भी आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। इस समस्या को नजरअंदाज किया तो भविष्य में गंभीर बीमारी हो सकती है. कान की समस्याओं की उपेक्षा के कारण अक्सर कान के परदे फट जाते हैं । डॉ. कमलजीत सिंह के अनुसार, कभी भी बाहर से अपने कान साफ ​​​​नहीं करें, क्योंकि इससे कान में संक्रमण हो सकता है । अक्सर हम देखते हैं कि लोग सड़क के किनारे कान साफ ​​करते हैं, ऐसे लोग लोगों के कान साफ ​​कर रहे हैं लेकिन अगर आप लोगों के पास जाकर अपना काम साफ करते हैं, तो इससे आपको भविष्य में कान की कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

डॉक्टर के अनुसार अगर कान में खुजली हो तो ऐसी स्थिति में कभी भी कोई टोकरी या रुई न फेंके। अगर ज्यादा खुजली हो रही हो तो कान के बाहरी हिस्से पर रूई की मदद से कुछ देर रुई को अंदर रखकर खुजली से छुटकारा पाया जा सकता है। अगर आपको कान में कोई हलचल दिखाई देती है, तो आपको बिना किसी झिझक के तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। घर पर कान ठीक करने की कोशिश न करें। यदि कान से मवाद निकलता है, तो आपको किसी कान विशेषज्ञ को दिखाना चाहिए। ऐसी जगह पर ज्यादा देर तक इंतजार न करें जहां बहुत ज्यादा शोर हो, इससे भी कान में चोट लग सकती है। गाना ज्यादा जोर से नहीं सुनना चाहिए। अगर आपको पहले भी कान की समस्या रही हो या कान की कोई समस्या रही हो, तो भी हर छह महीने में कान की जांच करानी चाहिए।

डॉक्टर्स का कहना है कि अगर कान में दर्द हो, कान में भारीपन महसूस हो, कान में बार-बार खुजली हो तो इसे नजरअंदाज न करें। यदि आप नहीं सुन सकते हैं, तो यह कभी-कभी आपके कान में सीटी की तरह लग सकता है। तो ये सभी लक्षण आपको इस बात का संकेत देते हैं कि आपको कान में संक्रमण है। साथ ही ठंड को कभी न भूलें। काना से जुड़ी ज्यादातर समस्याएं इसी सर्दी के कारण होती हैं इसलिए आपको भी ध्यान रखना चाहिए कि सर्दी न लगे।

डॉक्टर्स के मुताबिक उम्र के साथ अक्सर इंसान की सुनने की क्षमता कम हो जाती है, हमारे कानों की क्षमता कम हो जाती है। ऐसा करना एक सामान्य बात है लेकिन अगर आप युवा हैं, आप युवा हैं और आपको ठीक से सुनाई नहीं दे रहा है तो यह एक गंभीर मामला है। अगर आपको सुनाई नहीं दे रहा है, आपका कान हमेशा भारी हो रहा है, तो कान की उचित जांच करानी चाहिए, इन सभी मामलों में लापरवाही न बरतें। आपको तुरंत एक कान के डॉक्टर को दिखाना चाहिए और उचित उपचार की तलाश करनी चाहिए।

आपके कान से अधिकतर समय कोई पदार्थ या मवाद निकलता रहता है, इसलिए इसे नज़रअंदाज़ न करें। बहुत से लोग सोचते हैं कि यह समस्या आम है लेकिन अगर कान से बार-बार पानी निकलता है, तो सफेद निर्वहन डॉक्टर के पास अवश्य जाना चाहिए और डॉक्टर द्वारा निर्धारित उपचार समय पर किया जाना चाहिए, अन्यथा आपके कान का परदा खराब हो सकता है।

No comments