Breaking News

हडि्डयों और सिर में दर्द के साथ बार-बार यूरिन आए तो समझ लें शरीर में बढ़ रहा इस विटामिन का स्तर

हडि्डयों और सिर में दर्द के साथ बार-बार यूरिन आए तो समझ लें शरीर में बढ़ रहा इस विटामिन का स्तर

पैर में दर्द के साथ कई बार हडि्डयों में होने वाले दर्द का कारण विटामिन डी की होती है, लेकिन आपको जानकर अश्चर्य होगा कि जब शरीर में विटामिन डी अधिक होता है तो भी ऐसी समस्याएं नजर आती हैं। विटामिन डी की अधिकता के कई और संकेत अगर आपको नजर आएं तो आप इसे कम करने का प्रयास शुरू कर दें।

अमूमन लोगों में विटामिन डी की कमी होती है, लेकिन कई बार विटामिन डी के सप्लीमेंट्स लगातार लेते रहने या विटामिन डी रिच फूड के कारण शरीर में इसकी अधिकता हो जाती है। विटामान डी की कमी या ज्यादा होने पर संकेत लगभग एक जैसे ही होते हैं, इसलिए कुछ और संकेतों से मिलान कर आप इसकी कमी या अधिकता को पहचान सकते हैं।

विटामिन डी की अधिकता के शरीर में संकेत
विटामिन डी की अधिकता होने पर जी मचलना, बार-बार पेशाब आना, भूख में कमी होना, बहुत ज्यादा प्यास लगना, कब्ज की दिक्कत और मांसपेशियों में कमजोरी, जोड़ों में दर्द, पेट में साइड की तरफ दर्द, सिर में दर्द के साथ थकान और कमजोरी भी महसूस हो सकती है।

विटामिन डी की अधिकता से होने वाली समस्याए

हाइपरलकसीमिया
हाइपरलकसीमिया एक ऐसी स्थिति है जिसमें रक्त में कैल्शियम की अधिक मात्रा हो जाती और विटामिन डी के उच्च स्तर के कारण शरीर में कैल्शियम की मात्रा को बढ़ा देता है। इससे बहुत अधिक कैल्शियम होने से भूख में कमी, कब्ज, मितली, उच्च रक्तचाप और बहुत कुछ जैसे कई दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

किडनी के लिए हानिकारक
अधिक विटामिन डी किडनी की बीमारियों का खतरा बढ़ा देता है। इससे स्टोन बनने से लेकर किडनी के फिल्टरनेशन पर भी असर पड़ता है।

पाचन संबंधी समस्याएं
ज्यादा मात्रा में विटामिन डी का सेवन पाचन की समस्याएं पैदा होने लगती हैं। शरीर में विटामिन डी और कैल्शियम का बढ़ा हुआ स्तर पेट दर्द, कब्ज और दस्त जैसी समस्या बढ़ जाती है।

हड्डियों को कमजोर बनाता है
हड्डी के स्वास्थ्य के लिए विटामिन डी की भूमिका काफी प्रसिद्ध है, लेकिन इस विटामिन की बहुत अधिक मात्रा आपकी हड्डियों को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकती है। विटामिन डी की अधिकता जोड़ों के दर्द और आस्टियोपोरोसिस का कारण भी बन जाती है।

सिर में दर्द
किडनी के ठीक तरीके से फिल्टरनेशन न करने की वजह विटामिन डी और कैल्शिम की अधिकता बनती है, इससे बॉडी में टॉक्सिन बढ़ जाता है और सिर में दर्द होने की समस्या बढ़ जाती है।

No comments