Breaking News

कब-कब पड़ेंगे बड़े मंगल? जानिए इन दिनों किन उपायों से बजरंगबली हर मनोकामना करेंगे पूर्ण

कब-कब पड़ेंगे बड़े मंगल? जानिए इन दिनों किन उपायों से बजरंगबली हर मनोकामना करेंगे पूर्ण

ज्येष्ठ मास की शुरुआत 17 मई से हो रही है और इसकी समाप्ति 14 जून को होगी। इस महीने में आने वाले प्रत्येक मंगलवार को बुढ़वा मंगल या बड़ा मंगल के नाम से जाना जाता है। पहला बड़ा मंगल 17 मई को पड़ रहा है। ज्येष्ठ में आने वाले सभी मंगलवार भगवान हनुमान की पूजा के लिए विशेष माने जाते हैं। कहते हैं जो व्यक्ति सच्चे मन से श्री राम भक्त हनुमान की अराधना करता है उसके जीवन के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं। जानिए ज्येष्ठ महीने में आने वाले मंगलवार को क्यों कहा जाता है बुढ़वा मंगलवार।

Bada Mangal 2022: कब-कब पड़ेंगे बड़े मंगल? जानिए इन दिनों किन उपायों से बजरंगबली हर मनोकामना करेंगे पूर्ण

मान्यता अनुसार भीम को जब अपनी शक्तियों और बल पर घमंड हो गया था तो बजरंगबली ने बूढ़े वानर का रूप धारण कर भीम का घमंड तोड़ा था। जिस दिन ये वाक्या हुआ था उस दिन मंगलवार था। इसलिए इस दिन को बुढ़वा मंगल और बड़ा मंगल के नाम से जाना जाने लगा। जानिए ज्येष्ठ के महीने में कब-कब पड़ रहा है बड़ा मंगल?
ज्येष्ठ मास में कब-कब पड़ रहा है बुढ़वा मंगल?
17 मई 2022, मंगलवार
24 मई 2022, मंगलवार
31 मई 2022, मंगलवार
07 जून 2022, मंगलवार
14 जून 2022 मंगलवार

बुढ़वा मंगल पर करें ये काम, हर मनोकामना होगी पूर्ण: ज्येष्ठ महीने में आने वाले मंगलवार व्रत का विशेष महत्व माना जाता है। इस दिन सच्चे मन से भगवान हनुमान की भक्ति करना और जरूरतमंदों को दान करना बड़ा ही फलदायी होता है। इसी के साथ इस दिन बजरंगबाण, सुंदरकांड और हनुमान चालीसा का पाठ भी जरूर करना चाहिए। इससे जीवन में आ रही तमाम परेशानियां दूर होने की मान्यता है।

बुढ़वा मंगल की पूजा विधि: सुबह-सुबह स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण कर लें। इसके बाद घर के मंदिर की साफ-सफाई करें। हनुमान जी की प्रतिमा पर लाल फूल चढ़ाएं। उन्हें लाल चंदन का टीका लगाएं। फिर हनुमान चालीसा का पाठ करें। शाम के समय फिर से भगवान हनुमान की पूजा करें। हनुमान जी को प्रसाद चढ़ाकर व्रत का पारण कर लें।

No comments