Breaking News

घर में कछुए को रखने से चमक उठेगी आपकी किस्मत, सही दिशा का रखें ख्याल

घर में कछुए को रखने से चमक उठेगी आपकी किस्मत, सही दिशा का रखें ख्याल

Vastu Tips : हिंदू शास्त्रों में कछुए को सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक माना जाता है, जो घर में सुख, समृद्धि लाने के साथ साथ धन की प्राप्ति के लिए भी जिम्मेदार होता है। ऐसे में कई लोग अपने घर, ऑफिर और वाहन आदि में कुछ कछुए की प्रतिमा रखते हैं, ताकि उनके घर में सुख और समृद्धि बनी रहे।

हालांकि कछुए को सही दिशा और जगह पर रखना बेहद जरूरी होता है, तभी यह आपके और आपके परिवार के लिए गुड लक लेकर आएगा। ऐसे में अगर आप भी जल्दी कामयाबी और पैसा कमाना चाहते हैं, तो कछुए की प्रतिमा को सही जगह पर स्थापित करें।
उत्तर दिशा में रखें मेटल का कछुआ

आजकल घर को सजाने के लिए कई प्रकार की चीजें बाजार में मिल जाती हैं, जिसमें से एक है मेटल का कछुआ। यह कछुआ विभिन्न रंगों में मिल जाता है, जिसे सही दिशा में रखने से घर में सुख, समृद्धि और धन आता है। ऐसे में मेटल के कछुए को रखने को नॉर्थ या नॉर्थ वेस्ट दिशा में रखना चाहिए, जिससे घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है।

क्रिस्टल का कछुआ

हिंदू शास्त्रों में क्रिस्टल के कछुए का काफी महत्वपूर्ण माना जाता है, जिसके कई खूबसूरत डिजाइन बाजार में उपलब्ध है। ऐसे में अगर आप क्रिस्टल का कछुआ घर लाते हैं, तो सुख और समृद्धि के लिए उसका मुंह हमेशा साउथ वेस्ट या नॉर्थ वेस्ट की तरफ रखना चाहिए।

मिट्टी का कछुआ

अगर आप विभिन्न धातुओं से बना कछुआ नहीं खरीद सकते हैं, तो आपको मिट्टी से बना कछुआ खरीदना चाहिए। इस कछुए की कीमत बहुत ही कम होती है, लेकिन यह घर में गुड लक लेकर आता है। ऐसे में मिट्टी के कछुए का मुंह हमेशा नॉर्थ ईस्ट, सेंटर या फिर साउथ वेस्ट दिशा में होना चाहिए, जिससे आपके घर पर सकारात्मक ऊर्जा बनी रहेगी।

लकड़ी का कछुआ

भारतीय बाजारों में लकड़ी का कछुआ भी आसानी से मिल जाता है, जो बहुत ही खूबसूरत डेकोरेटिव आइटम होता है। घर में लकड़ी से बने कछुए का मुंह हमेशा ईस्ट और साउथ ईस्ट दिशा की तरफ होना चाहिए, जिससे घर में धन और संपत्ति की कोई कमी नहीं होती है।
रिश्तों को बेहतरीन बनाता है कछुआ

अगर आप घर में कछुआ या उसके जोड़े को रखते हैं, तो इससे आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहेगी और परिवार के सदस्यों के बीच रिश्ते मधुर होंगे। इसके अलावा घर में कछुआ रखने से खुशहाली बनी रहती है, जबकि घर के मालिक की उम्र भी लंबी होती है।

No comments