Breaking News

Google ने ट्रिपलआइटी के छात्र प्रथम प्रकाश को दिया जबरदस्त पैकेज कि सभी दे रहे बधाइयां

Google ने ट्रिपलआइटी के छात्र प्रथम प्रकाश को दिया जबरदस्त पैकेज कि सभी दे रहे बधाइयां

संगमनगरी प्रयागराज के इंजीनियरिंग छात्र को गूगल ने 1.46 करोड़ रुपये का सालाना पैकेज दिया है। भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (ट्रिपलआइटी) से बीटेक-एमटेक का पांच वर्षीय डुअल डिग्री कोर्स अंतिम वर्ष के छात्र झूंसी के प्रथम प्रकाश गुप्ता की इस उपलब्धि ने पूरे शहर को गौरव से भर दिया है। गूगल से सीईओ सुंदर पिचाई को आदर्श मानने वाले प्रथम का कहना है कि वे जिस तरह सुंदर पिचाई ने भारत का गौरव बढ़ाया है, उसी तरह वे भी भारत के मान को बढ़ाएंगे।

शुरू से ही मेधावी रहे प्रथम प्रकाश ने झूंसी के कालेज से की थी 12वीं

पढ़ाई में शुरू से ही टापर रहे प्रथम प्रकाश ने बताया कि झूंसी के न्यू आरएसके स्कूल से ही उन्होंने बारहवीं की पढ़ाई पूरी की। इसमें उन्होंने 93.4 प्रतिशत अंक हासिल किए। इसके बाद 2017 में ट्रिपलआइटी में एडमिशन लिया। प्रथम ने कहा कि बचपन से ही उनका सपना साफ्टवेयर डेवलपर बनने का था, इसलिए उन्होंने आइटी ब्रांच को चुना। अंतिम वर्ष की परीक्षा अंतिम दौर में है। एक महीने में उनको डिग्री मिल जाएगी। प्रथम बताते हैं कि इससे पूर्व अमेजन कंपनी ने बर्लिन के लिए उनका चयन 1.08 करोड़ रुपये के सालाना पैकेज पर किया था पर अब वे गूगल ज्वाइन करेंगे। प्रथम ने कहा कि उनके पिता प्रकाश चंद्र गुप्ता टाटा स्टीम में जनरल मैनेजर पद से सेवानिवृत्त हो चुके हैं और मां सरिता गुप्ता झूंसी के न्यू आरएसके प्राइमरी विंग में प्रिंसिपल हैं। प्रथम ने कहा कि मम्मी-पापा और ट्रिपलआइटी के शिक्षकों को अपनी इस उपलब्धि का श्रेय देना चाहता हूं।

पांच महीने चली चयन प्रक्रिया

अपनी चयन प्रक्रिया के बारे में बताते हुए प्रथम प्रकाश ने कहा कि यह प्रक्रिया काफी लंबी थी। दिसंबर में गूगल के करियर पोर्टल पर आवेदन किया था। इसके बाद चयन प्रक्रिया दिसंबर से शुरू हो गई। कई चरणों की इंटरव्यू प्रक्रिया के बाद अप्रैल के आखिर में गूगल ने 1.46 करोड़ का पैकेज आफर किया।

15 अगस्त को नौकरी करेंगे ज्वाइन

प्रथम ने कहा कि गूगल की ओर से उनसे जाब ज्वाइन करने के लिए तारीख मांगी गई थी। अंग्रेजों ने 15 अगस्त को भार छोड़ा था और मैं गूगल लंदन में 15 अगस्त को ज्वाइन करूंगा। मेरी पहली नौकरी ज्वाइन करने की यह तारीख इसलिए यादगार रहेंगी कि यह दिन भारत का स्वतंत्रता दिवस है। प्रथम ने कहा कि सोशल मीडिया पर समय बिताने के बजाय एक्सट्रा करीकुलर गतिविधियों में शामिल होना बहुत पसंद है।

No comments