Breaking News

अगर हथेली में दिखें ये निशान तो समझ लीजिए मृत्यु है निकट

अगर हथेली में दिखें ये निशान तो समझ लीजिए मृत्यु है निकट

जन्म से पहले व्यक्ति जिस तरह 9 महीने तक गर्भ में रहता है और धीरे-धीरे बढ़ता है, उसी तरह मौत से लगभग 9 महीने पहले की अवधि में व्यक्ति के शरीर में बहुत से बदलाव होते हैं. यह मौत आने के संकेत होते हैं. जब व्यक्ति की मृत्यु निकट आती है तो उसको कुछ अलग ही अनुभव होने लगता है. पुराणों में इस बारे में विस्तार से वर्णन किया गया है. लेकिन लोग इन संकेतों पर ध्यान नहीं दे पाते.

टूटने लगते हैं चक्र
ऐसा कहा जाता है कि जब मृत्यु निकट आती है तो नाभि चक्र टूटने लगता है. जन्म के समय व्यक्ति का शरीर इसी चक्र से बनना शुरू होता है और यहीं से उसके प्राण निकलते हैं. चक्र टूटने के दौरान शरीर में बहुत से बदलाव होने लगते हैं. अगर आप उन्हें महसूस कर लें तो आपको पता चल जाएगा कि आपकी मृत्यु निकट है. गरुड़ पुराण में ऐसे ही कुछ संकेतों का वर्णन किया गया है.

मरने से पहले व्यक्ति को अपनी नाक दिखाई देना बंद हो जाती है.
मौत से पहले व्यक्ति को तेल या पानी में अपनी परछाई नहीं दिखती. इसी वजह से कहा जाता है कि जब मृत्यु निकट आती है तो व्यक्ति की परछाईं भी उसका साथ छोड़ देती है.

मृत्यु से पहले व्यक्ति के हाथ की लकीरें हल्की पड़ने लगती हैं. ऐसा कहा जाता है कि मृत्यु निकट होने पर व्यक्ति को सपने में अजीब चीजें भी दिखाई देती हैं.

मरने से पहले व्यक्ति को अपने आसपास आत्माएं महसूस होने लगती हैं, जो उनके पूर्वजों की होती हैं और उसके परलोक में आने का जश्न मनाने लगती हैं.

ऐसा भी कहा जाता है कि मरने से पहले व्यक्ति की सांसें उल्टी चलने लगती हैं. उसे यमदूत भी दिखाई देने लगते हैं और उसे अपने आसपास मौजूद लोग नजर नहीं आते.

No comments