Breaking News

मानसून में आने वाला बुखार उतारने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

fever-in-monsoon

मॉनसून में सर्दी, खांसी और बुखार की समस्या आम हो जाती है। इस मौसम में कई तरह के बैक्टीरिया और वायरस एक्टिव हो जाते हैं, जो वायरल बुखार का कारण बन सकते हैं। अगर बुखार या जुकाम की समस्या मौसम में बदलाव की वजह से है, तो आप इसे कुछ घरेलू उपायों से ठीक कर सकते हैं। हालांकि अगर बुखार किसी बीमारी या वायरस की वजह से है, तो आपको डॉक्टर की ही सलाह लेनी चाहिए। इससे कई बार शरीर में कमजोरी भी बढ़ जाती है। बुखार आने पर शरीर का तापमान बढ़ जाता है। ऐसे में बुखार से छुटकारा पाने के लिए आप कुछ घरेलू उपायों की मदद ले सकते हैं। ध्यान रखें अगर इन उपायों से 1-2 दिन में बुखार से आराम नहीं मिलता है, तो आपको बिना देरी किए डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

गिलोय गिलोय का सेवन कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में सहायक है। गिलोय बुखार का आयुर्वेदिक इलाज माना जाता है। गिलोय का सेवन करने के लिए गिलोय को कूटकर एक ग्लास पानी में अच्छे से उबाल लें। पानी इतना उबालें कि वह आधा रह जाए। इस पानी को गर्म-गर्म चाय की तरह पिएं। स्वाद अटपटा लगे तो थोड़ा शहद डाल सकते हैं। यह बुखार को कम करने में सहायक है। ध्यान रखें कि अगर बुखार बार-बार बुखार आ रहा है या ठीक नहीं हो रहा है तो तुरंत किसी डॉक्टर से संपर्क करें।
 
अदरक अदरक में एंटीवायरल और एंटीबैक्टीरियल गुण होने के कारण इसका सेवन बुखार को कम करने में सहायक है। अदरक का पेस्ट को शहद में मिलाकर खाने से बुखार, खांसी और शरीर के दर्द की समस्या में जल्दी राहत मिलती है। इस मिश्रण का दिन भर में 2 से 3 बार सेवन किया जा सकता अदरक बंद गले और सर्दी जुकाम में भी राहत पहुंचाने का काम करता हैं।

तरल पदार्थ लें शरीर में डिहाइड्रेशन की वजह से कई समस्याएं हो सकती हैं। बुखार को कम करने के लिए पर्याप्त तरल पदार्थ लेते रहें। कई बार बुखार में बहुत पसीना आता है, जिस कारण शरीर बहुत कमजोर हो जाता है। शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए 9 से 12 गिलास पानी पिएं। अपनी पसंद के अनुसार फ्रेश जूस, नारियल पानी और सूप भी ले सकते हैं।

तुलसी की पत्तियां बुखार में तुलसी का सेवन करके बुखार को कम किया जा सकता है। तुलसी कई समस्याओं से बचाने में सहायक है। बुखार में तुलसी की पत्तियों को आसानी से चबा कर खा सकते हैं या पानी में 7 से 8 तुलसी की पत्तियों को उबाल कर ठंडा करके पी सकते हैं। तुलसी की पत्तियों के साथ लौंग को भी पानी में डाला जा सकता है। दोनों चीजें शरीर में इंफेक्शन होने से रोकती हैं।

धनिया की चाय धनिया बुखार को कम करने में मददगार हो सकता है। इसके सेवन से शरीर का तापमान कम होता है। धनिया की चाय बनाने के लिए 2 कप दूध लें। उसमें एक चम्मच धनिया और चीनी मिला कर अच्छे से उबालें। नॉर्मल होने के बाद इसे आसानी से पीया जा सकता है।

सावधानियां बुखार तेज या जल्दी-जल्दी आने पर ये इन उपायों का प्रयोग न करें और डॉक्टर से संपर्क करें। बुखार के साथ कोई अन्य लक्षण दिखने पर इन उपायों के बजाय डॉक्टर की सलाह का पालन करें।


No comments