Breaking News

हरतालिका तीज के व्रत में भूलकर भी ना हो जाएं ये 5 गलतियां, जीवनभर पड़ेगा पछताना

hartalika-teej-2022-do-not-make-these-5-mistakes-in-hartalika-teej-vrat

Hartalika Teej 2022 Date: हरतालिका तीज का व्रत इस साल 30 अगस्त को रखा जाएगा. हिंदू धर्म में इस व्रत का विशेष महत्व बताया गया है. हरतालिका तीज के दिन विवाहित महिलाएं पति की लंबी उम्र के लिए निर्जला उपवास करती हैं. यह व्रत भगवान शिव और माता पार्वती को समर्पित है. इसलिए माता पार्वती को सुहाग की वस्तुएं अर्पित की जाती हैं और उनसे पति की दीर्घायु और जीवन में सुख-शांति की कामना की जाती हैं. हरतालिका तीज के कुछ खास नियम भी होते हैं, जिन्हें गंभीरता से निभाना जरूरी बताया गया है. ऐसे ही कुछ नियमों की लोग अनदेखी कर देते हैं और जानें-अनजाने बड़ी गलतियां कर बैठते हैं. आइए जानते हैं कि हरतालिका तीज के व्रत में ऐसी कौन सी गलतियां करने से बचना चाहिए.

1. हरतालिका तीज का व्रत जीवन में एक बार रख लिया तो इसका त्याग नहीं किया जा सकता है. इस व्रत का एक बार संकल्प लेने के बाद इसे प्रत्येक वर्ष रखना जरूरी है. आप किसी साल इसे छोड़ नहीं सकते हैं. एक बार इसका संकल्प ले लिया तो प्रत्येक वर्ष इसे रखना जरूरी है.

2. हरतालिका तीज का व्रत रखने वाली महिलाओं को क्रोध या गुस्सा करने से बचना चाहिए. इस दिन किसी दूसरे को अपशब्द कहने से बचें. क्रोध या अपशब्दों से ईश्वर के प्रति आपकी तपस्या भंग हो सकती है. इस दिन वाद-विवाद से भी दूर रहें.

3. हरतालिका तीज का व्रत रखने वाली महिलाओं को दिन में नींद लेने से बचना चाहिए. यहां तक कि रात को सोने की बजाए भगवान शिव की आराधना करें और उनके चमत्कारी मंत्रों का उच्चारण करते रहें.

4. हरतालिका तीज का व्रत निर्जला रखा जाता है. यानी इस दिन महिलाएं जल की एक बूंद भी गले के नीचे नहीं उतारती हैं. हरतालिका तीज के व्रत में खाने-पीने की चीजों से पूर्णत: परहेज करना पड़ता है. इसमें व्रत पारण के बाद ही कुछ खाया जा सकता है.

5. घर में कई स्त्रियां इस व्रत को नहीं रखती हैं. इसके बावजूद उन्हें कई मामलों को लेकर बड़ा सतर्क रहना पड़ता है. इस दिन महिलाएं मांस या मदिरा का सेवन नहीं कर सकती हैं. घर में तामसिक भोजन का प्रयोग ना करें.

No comments