Breaking News

अगर आप अपने स्मार्टफोन को सैनिटाइजर से करते है साफ तो जाने ले ये जरूरी बातें

अगर आप अपने स्मार्टफोन को सैनिटाइजर से करते है साफ तो जाने ले ये जरूरी बातें

सैनिटाइजर का इस्तेमाल अपने मोबाइल फोन को भी इससे साफ कर रहे हैं, लेकिन इसके अब गंभीर परिणाम दिख रहे हैं. फोन जल्द खराब होने का खतरा हो रहे है।खुद को वायरस से बचाने के लिए लोग मास्क पहनने के साथ ही सैनिटाइजर अपने हाथों पर लगा रहे हैं। वहीं अक्सर हमारे हाथों में रहने वाला मोबाइल फोन भी इस वायरस का कारण बन सकता है और इसलिए कई लोग इस पर भी सैनिटाजर लगा रहे हैं, लेकिन इसके कारण मोबाइल फोन में खराबी की शिकायतें सामने आई हैं।

कई लोगों ने अपने फोन में खराबी की शिकायत की, जिनका कारण डिवाइस को साफ करने के लिए हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल माना जा रहा है।
मोबाइल रिपेयरिंग की दुकानों में ऐसे मामले आए हैं, जिनमें फोन की स्क्रीन से लेकर इसके ईयरफोन जैक और कैमरा लेंस तक खराब हुए हैं।

सैनिटाइजर में एल्कोहॉल होता है, जिसके कारण ये वायरस को खत्म करने में मदद करता है, लेकिन मोबाइल फोन पर सैनिटाइजर लगाने के कारण ये स्पीकर और माइक्रोफोन वाली जगहों से हैंडसेट के अंदर पहुंच जाता है और उसमें मौजूद सर्किट और चिप को नुकसान पहुंचाता है।

फोन को साफ करना भी जरूरी है, क्योंकि ये लगातार हमारे हाथों में रहता है और कई बार ये खतरनाक वायरस और बैक्टीरिया का वाहक बन जाता है। ऐसे में बेहद समझदारी और सतर्कता से इसकी सफाई जरूरी है।

इसके लिए एक छोटा सा कपड़ा लेकर उसपर एक बूंद सैनिटाइजर डालना चाहिए और फिर एक सीध में फोन की स्क्रीन और उसके बैक पैनल को साफ करना चाहिए। कभी भी इसे माइक्रोफोन, स्पीकर या चार्जिंग/इयरफोन जैक के पास न ले जाएं।

इसके अलावा मेडिकल स्टोर से जाकर मेडिकल वाइप्स लिए जा सकते हैं, जिनमें सैनिटाइजर जैसे लक्षण होते हैं. ये आम तौर पर हाथ साफ करने में इस्तेमाल होते हैं, लेकिन पूरी सतर्कता के साथ फोन की सफाई में भी इनका इस्तेमाल हो सकता है. ये एक आसान जरिया भी है.

No comments