Breaking News

15 August-2022 history: 1947 से लेकर 2022 तक, आजाद भारत के 75 साल-75 कमाल!

independence-day-history- 15 August-2022

भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय ने एक वीडियो में उद्धृत किया कि भारत 15 अगस्त 2022 को अपनी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मनाएगा

हमें आजादी मिले 75 साल हो गए हैं। इन सालों में आजादी ने देश की तस्वीर और तकदीर दोनों बदली है। इसमें न सपनों की सीमा है, न ही कोई लक्ष्य धुंधला है। देश हरित क्रांति के जरिए अनाज पैदा करने में आत्मनिर्भर हुआ तो मिसाइल अग्नि-5 बनाकर पूरे चीन को जद में ले लिया। क्रिकेट में तीन वर्ल्ड कप जीते तो ओलिंपिक में गोल्डन डेज भी आए। पोखरण के जरिए परमाणु शक्ति हासिल की तो पाकिस्तान को हर युद्ध में रौंदा भी है।

आइए इस 15 अगस्त पर आजादी के बाद की गर्व महसूस कराने वाली 75 यादगार और स्वर्णिम तस्वीरों को एक-एक कर देखते हैं-

1947: संविधान सभा को पहली बार नेहरू ने तिरंगा सौंपा

1947: संविधान सभा को पहली बार नेहरू ने तिरंगा सौंपा

देश की आजादी से 22 दिन पहले 22 जुलाई 1947 को दिल्ली के कॉन्‍स्‍टीट्यूशन क्लब में संविधान सभा की बैठक हुई। जवाहरलाल नेहरू ने तिरंगे को राष्‍ट्रध्‍वज के रूप में अपनाने का प्रस्‍ताव रखा, जो स्वीकार कर लिया गया।

1947: पहली बार लाल किले पर तिरंगा फहराया

1947: पहली बार लाल किले पर तिरंगा फहराया

लाल किले पर पहली बार 15 अगस्त को नहीं, बल्कि 16 अगस्त 1947 को सुबह 8.30 बजे प्रधानमंत्री नेहरू ने तिरंगा फहराया था। लाल किले पर सबसे ज्यादा 17 बार जवाहरलाल नेहरू ने और 16 बार इंदिरा गांधी ने ध्वजारोहण किया।

1948: देश की पहली स्टीम शिप लॉन्च

1948 में देश की पहली स्टीम शिप लॉन्च हुई। ये शिप विशाखापट्‌टनम के हिंदुस्तान शिपयार्ड में बनकर तैयार हुई। इसका नाम जलउषा रखा गया।

1948: लंदन ओलिंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने ब्रिटेन को हराकर गोल्ड जीता

1948 लंदन ओलिंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने ब्रिटेन को 4-0 से हराकर गोल्ड मेडल जीता। यह आजादी के बाद भारत का पहला गोल्ड था। भारतीय हॉकी टीम का ये लगातार चौथा ओलिंपिक गोल्ड मेडल था।

1948: हैदराबाद का सरेंडर, भारतीय फौज ने 5 दिन के ऑपरेशन पोलो में की थी फतह

13 सितंबर 1948 को भारतीय सेना ने हैदराबाद पर हमला कर दिया। यह ऑपरेशन पोलो था। 17 सितंबर की शाम को हैदराबाद की सेना ने हथियार डाल दिए। 5 दिन चली कार्रवाई में 1373 रजाकार और हैदराबाद के 807 जवान मारे गए। भारतीय सेना के 66 जवान शहीद हुए। जब सरदार पटेल हैदराबाद पहुंचे तो निजाम उन्हें रिसीव करने एयरपोर्ट आए।

1949: महिंद्रा एंड महिंद्रा ने बनाई देश की पहली जीप

1949: महिंद्रा एंड महिंद्रा ने बनाई देश की पहली जीप

1949 में महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी ने देश की पहली जीप बनाई। इसे असेंबल करने का काम 1947 में शुरू हुआ, लेकिन प्रोडक्शन 1949 में हुआ। इसका नाम Willys CJ3A Jeep था।

1950: देश की पहली रिपब्लिक परेड राजपथ पर नहीं, नेशनल स्टेडियम में हुई थी

26 जनवरी 1950 को भारत को अपना संविधान मिला। पहली रिपब्लिक डे परेड राजपथ पर नहीं, दिल्ली के इरविन एंफीथिएटर में निकाली गई थी। अब यहां ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम है। इंडोनेशियाई राष्ट्रपति सुकर्णो पहले मुख्य अतिथि थे।

1950: सुप्रीम कोर्ट की स्थापना हुई, पहले इसका नाम चेंबर ऑफ प्रिंसेज था

28 जनवरी 1950 को सुप्रीम कोर्ट अस्तित्व में आया। संसद भवन के 'चेंबर ऑफ प्रिंसेज' में पहली बार SC की बेंच बैठी थी। पहले चीफ जस्टिस हीरालाला जे कानिया थे, जबकि पहली महिला चीफ जस्टिस बीवी फातिमा थीं।

1951: पहली बार दिल्ली में एशियन गेम्स हुए, भारत ने 51 मेडल जीते थे

1951 में 4 से 11 मार्च के बीच नई दिल्ली में पहले एशियाई खेल हुए। इनमें 11 देशों के 489 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। जापान ने सबसे ज्यादा 24 स्वर्ण के साथ कुल 60 मेडल हासिल किए। भारत 15 स्वर्ण पदकों के साथ कुल 51 मेडल जीतकर दूसरे नंबर पर रहा।

1951: संसद ने पहली पंचवर्षीय योजना को मंजूरी दी

पीएम जवाहरलाल नेहरू ने 1951 में पहली पंचवर्षीय योजना संसद में पेश की। मकसद खेती का विकास करना था। इस योजना में ही भाखड़ा, हीराकुद, दामोदर घाटी बांध जैसे प्रोजेक्ट शामिल थे।

1952: आजाद भारत का पहला आम चुनाव, कांग्रेस ने जीतीं 364 सीटें

1951-52 में भारत का पहला लोकसभा चुनाव हुआ। उस वक्त 35 करोड़ की आबादी में 85% लोग अशिक्षित थे। इस चुनाव में कांग्रेस ने 364 सीटें जीतीं। महिलाओं ने भी चुनाव में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

1953: टाटा की एअर इंडिया का राष्ट्रीयकरण हुआ

1953 में एअर इंडिया का राष्ट्रीयकरण हुआ। जहांगीर रतनजी दादाभाई (जेआरडी) टाटा ने 1932 में इसकी स्थापना की थी। तब इसे टाटा एयरलाइंस कहा जाता था। इसमें सरकार की 49%, टाटा की 25% और बाकी जनता की हिस्सेदारी थी।

1954: देश का पहला एटॉमिक एनर्जी रिसर्च सेंटर ट्रॉम्बे में बना

1954 में भारत ने अपना पहला एटॉमिक एनर्जी सेंटर मुंबई के ट्रॉम्बे में शुरू किया। ये भारत के न्यूक्लियर प्रोग्राम की शुरुआत थी। बाद में इसका नाम भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर रख दिया गया। इस प्लांट को शुरू करने में सबसे बड़ा योगदान होमी जहांगीर भाभा का था।

1955: आजाद भारत को पहला बैंक मिला

1955 में देश को अपना पहला बैंक मिला। इसका नाम स्टेट बैंक ऑफ इंडिया रखा गया। पहले इसका नाम द इम्पीरियल बैंक ऑफ इंडिया था। उस समय यह भारतीय उपमहाद्वीप का सबसे पुराना और सबसे बड़ा कॉमर्शियल बैंक था।

1956: IIT बॉम्बे की स्थापना, नेहरू ने रखी बुनियाद

1956 में भारत में IIT बॉम्बे की स्थापना हुई। पीएम नेहरू ने इसकी बुनियाद रखी थी। हालांकि खड़गपुर IIT को पहला IIT कहा जाता है, लेकिन पहले वह इंजीनियरिंग कॉलेज था। इस समय भारत में 23 IIT हैं।

1957: दुनिया में जमीन पर बने सबसे लंबे डैम हीराकुद की नींव रखी

1957 में दुनिया में जमीन पर बने सबसे लंबे डैम हीराकुद की नींव रखी गई। यह डैम ओडिशा में महानदी पर बना है। 13 जनवरी 1957 को पीएम नेहरू ने इसका उद्घाटन किया था। यह पहली पंचवर्षीय योजना के तहत बनाया गया था।

1958: मिल्खा सिंह ने टोक्यो एशियन गेम्स में पाकिस्तान के अब्दुल खालिक को हराया

1958 में मिल्खा सिंह ने टोक्यो एशियन गेम्स में पाकिस्तान के अब्दुल खालिक को हराकर 200 मीटर की रेस में गोल्ड मेडल जीता। उस वक्त अब्दुल खालिक एशिया में सबसे तेज धावक थे। मिल्खा सिंह ने 21.6 सेकेंड में रेस पूरी की थी, जबकि अब्दुल खालिक ने 21.7 सेकेंड में।

1960: अब्दुल कलाम ने रॉकेट असेंबल किया, पहली नौकरी DRDO में की

1960 में एपीजे अब्दुल कलाम ने देश का पहला साउंडिंग रॉकेट असेंबल किया। जिसका परीक्षण 1963 में केरल के थुंबा में हुआ। यहीं से भारत में स्पेस प्रोग्राम की शुरुआत हुई। 1960 में मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से ग्रेजुएशन करने के बाद कलाम ने बतौर साइंटिस्ट DRDO जॉइन किया था। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत होवरक्राफ्ट बनाकर की।

1960: रामानाथन विंबलडन सिंगल्स के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय

रामानाथन कृष्णन देश के पहले टेनिस खिलाड़ी बने जो 1960 विंबलडन के सिंगल्स के सेमीफाइनल तक पहुंचे। सेमीफाइनल में कृष्णन का सामना वर्ल्ड नंबर 1 ऑस्ट्रेलिया के नील फ्रेजर से हुआ। रामानाथन ये मैच हार गए थे।

1961: पहला विमानवाहक पोत INS विक्रांत नौसेना में शामिल

1961 भारतीय नौसेना में पहला विमानवाहक पोत INS विक्रांत शामिल हुआ। ये तब किसी एशियाई देश का पहला विमानवाहक पोत था। फिलहाल दुनिया में भारत के अलावा अमेरिका, ब्रिटेन, रूस, फ्रांस और चीन के पास विमानवाहक पोत बनाने की क्षमता है।

1961:गोवा में 450 साल बाद पुर्तगालियों ने महज 36 घंटे में समर्पण किया

1961 में गोवा को पुर्तगालियों के कब्जे से मुक्त कराने के लिए भारतीय सेना ने ऑपरेशन विजय शुरू किया। करीब 450 साल तक शासन करने वाले पुर्तगालियों ने महज 36 घंटे में भारतीय सेना के सामने समर्पण कर दिया।

1962: भारत-चीन युद्ध के दौरान लड़कियों को भी हथियार चलाने की ट्रेनिंग दी गई

1962 में भारत-चीन युद्ध में इंदिरा गांधी ने अपनी ज्वेलरी नेशनल डिफेंस फंड में डोनेट की थी। लड़कियों को हथियार चलाने की ट्रेनिंग भी दी गई थी। असम राइफल्स के जवानों की पत्नियों ने अपने पतियों के हथियार उठाकर हमलावरों को कड़ा संदेश दिया।

1963: लता मंगेशकर ने " ऐ मेरे वतन के लोगों" गाया, तो नेहरू की आंखें हुई नम

1962 के युद्ध में हार के बाद लोगों का मनोबल बढ़ाने के लिए 1963 में 27 जनवरी को दिल्ली के नेशनल स्टेडियम में लता मंगेशकर ने "ऐ मेरे वतन के लोगों..." गीत गाया। मंच पर प्रधानमंत्री नेहरू और राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन भी मौजूद थे। गीत सुनकर नेहरू भावुक हो गए थे।

1964: भारत ने टोक्यो ओलिंपिक में पाकिस्तान को हराकर गोल्ड जीता

2 नवंबर 1964 में भारत ने टोक्यो ओलिंपिक में पाकिस्तान को 0-1 से हराकर ओलिंपिक गोल्ड मेडल जीता। भारतीय टीम को चरणजीत सिंह ने लीड किया था। वतन वापसी पर राष्ट्रपति डॉ. राधाकृष्णन ने भारतीय टीम को राष्ट्रपति भवन में बुलाकर सम्मानित भी किया था।

1965: युद्ध में पाकिस्तान के खिलाफ भारत की फतह

1965: युद्ध में पाकिस्तान के खिलाफ भारत की फतह

1965 के युद्ध में पाकिस्तान बुरी तरह हार गया। पाकिस्तान के पास ताकतवर शरमन टैंक थे। तस्वीर में एक तबाह शरमन टैंक के साथ भारतीय सेना के अफसर नजर आ रहे हैं। इस युद्ध में अब्दुल हमीद ने पाकिस्तान के 9 टैंक तबाह किए थे। जिसके लिए उन्हें मरणोपरांत परमवीर चक्र दिया गया।

1966: जंग में हार के बाद पाकिस्तान ताशकंद समझौते को मजबूर हुआ

1965 की जंग में हार के बाद पाकिस्तान ताशकंद समझौते के लिए मजबूर हो गया। यह समझौता 10 जनवरी 1966 को मौजूदा उज्बेकिस्तान के ताशकंद शहर में हुआ। तब ये सोवियत संघ का हिस्सा था। एक दिन बाद पीएम शास्त्री का अचानक निधन हो गया था।

1966: इंदिरा गांधी देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनीं

लाल बहादुर शास्त्री के निधन के बाद 19 जनवरी 1966 को इंदिरा गांधी ने प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। वह देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनीं। 1959 में वह कांग्रेस की पहली बार अध्यक्ष बनी थीं। वे 1964 में लाल बहादुर शास्त्री की कैबिनेट में मंत्री भी रही थीं।

1967: पहला स्वदेशी रॉकेट रोहिणी-75 लॉन्च

20 नवंबर 1967 को भारत ने अपना पहला रॉकेट रोहिणी-75 लॉन्च किया। इसे थुम्बा इक्वेटोरियल रॉकेट लॉन्चिंग स्टेशन (TERLS) से लॉन्च किया गया। इसे साउंडिंग रॉकेट की “रोहिणी” सीरीज के तहत बनाया गया। चार साल पहले अमेरिका ने इसी तरह का अपना नाइक-अपाचे रॉकेट लॉन्च किया था।

1967: स्वामीनाथन ने हरित क्रांति की शुरुआत की, अनाज में भारत आत्मनिर्भर बना

1967 में एमएस स्वामीनाथन ने ग्रीन रेवोल्यूशन यानी हरित क्रांति की शुरुआत की। इससे अनाज में भारत आत्मनिर्भर बना। भारत को इसके बाद से किसी दूसरे देश से अनाज नहीं मंगाना पड़ा। भारत दाल के उत्पादन में दुनिया में नंबर-1 और धान में दूसरे नंबर पर है।

1969: इंडिया का अपना पहला स्पेस रिसर्च सेंटर ISRO बना

1969 में इंडियन स्पेस रिसर्च सेंटर यानी ISRO की स्थापना हुई। तस्वीर अहमदाबाद में ISRO के पहले एक्सपैरिमेंट सैटेलाइट कम्युनिकेशन अर्थ स्टेशन की है। पीएम इंदिरा गांधी, विक्रम साराभाई के साथ पहुंची थीं। पिछले 50 साल में इसरो 101 स्पेसक्राफ्ट अंतरिक्ष में भेज चुका है।

1970: देश में श्वेत क्रांति यानी दुग्ध क्रांति की शुरुआत हुई

13 जनवरी 1970 को देश में ऑपरेशन फ्लड यानी श्वेत क्रांति की शुरुआत हुई। तस्वीर में बॉम्बे कुर्ला में डेयरी का उद्घाटन करते तब के कृषि मंत्री जगजीवन राम। 1996 तक चली इस क्रांति के दौरान भारत दुनिया का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक देश बन गया।

1971: पाकिस्तान के जनरल नियाजी ने अपनी पिस्तौल सरेंडर कर दी

16 दिसंबर 1971 को बांग्लादेश युद्ध में पाकिस्तान ने 13 दिन के अंदर घुटने टेक दिए। पाकिस्तानी जनरल एके नियाजी ने लेफ्टिनेंट जनरल जेएस अरोड़ा को अपनी पिस्तौल सौंप कर सरेंडर किया। उनके साथ 93 हजार पाकिस्तानी सैनिक भी थे।

1972: किरण बेदी देश की पहली महिला IPS अफसर बनीं

1972 में किरण बेदी देश की पहली महिला IPS ऑफिसर बनीं। 2007 में उन्होंने समय से पहले रिटायरमेंट लेकर राजनीति में एंट्री ली। बाद में पुड्डुचेरी की राज्यपाल भी रहीं।

1973: सैम मानेक शॉ फील्ड मार्शल के खिताब से नवाजे गए

1971 के युद्ध में भारतीय फौज की अगुआई करने वाले जनरल सैम मानेक शॉ को फील्ड मार्शल का खिताब दिया गया। यह भारतीय सेना में किसी व्यक्ति को दिया गया सर्वोच्च पद है। इसी साल उन्हें देश का पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ भी बनाया गया। बाद में ये पोस्ट खत्म कर दी गई।

1974: पहला परमाणु परीक्षण, नाम ऑपरेशन स्माइलिंग बुद्धा

18 मई 1974 को भारत ने अपना पहला परमाणु परीक्षण राजस्थान के पोखरण में किया। 18 मई को बुद्ध पूर्णिमा का दिन था। इसी वजह से ऑपरेशन का नाम स्माइलिंग बुद्धा रखा गया था। इस परीक्षण की अगुआई एटॉमिक एनर्जी कमीशन के चेयरमैन होमी सेथना ने की थी।

1975: देश के पहले उपग्रह आर्यभट्‌ट का सफल प्रक्षेपण

19 अप्रैल 1975 को पहले स्वदेशी उपग्रह आर्यभट्‌ट को रूसी रॉकेट के जरिए कामयाबी से अंतरिक्ष में पहुंचाया गया। 360 किलोग्राम के इस उपग्रह का नाम प्राचीन भारत के खगोलविद् आर्यभट्ट के नाम पर रखा गया था। इसरो ने बेंगलुरु की पिन्या में यह उपग्रह तैयार किया था।

1976: परवीन बाबी टाइम मैगजीन के कवर पर छपने वाली पहली बॉलीवुड हिरोइन

1976: परवीन बाबी टाइम मैगजीन के कवर पर छपने वाली पहली बॉलीवुड हिरोइन

1976 में अभिनेत्री परवीन बाबी की तस्वीर टाइम मैगजीन ने कवर पर छापी। वह टाइम के कवर पर जगह पाने वाली बॉलीवुड की पहली हिरोइन थीं। अमिताभ बच्चन और बॉबी ने आठ फिल्मों में एक साथ काम किया। इनमें अमर अकबर एंथनी, दीवार, नमक हलाल, शान जैसी सुपरहिट फिल्में शामिल हैं।

1977: तीन बार के फीफा वर्ल्ड कप चैंपियन पेले पहली बार भारत में खेलने आए

1977 में तीन बार के फीफा वर्ल्ड कप चैंपियन और ब्राजील के फुटबॉलर पेले पहली बार भारत आए। पेले यहां न्यूयॉर्क कॉस्मॉस के लिए मोहन बागान के खिलाफ खेलने उतरे। मैच कोलकाता के ईडन गार्डन में हुआ। 80 हजार से ज्यादा दर्शक पेले को देखने पहुंचे थे।

1979: मदर टेरेसा को शांति का नोबेल प्राइज मिला

1979 में मदर टेरेसा को 'मानवता की मदद के लिए काम करने' के लिए नोबेल शांति पुरस्कार मिला। उनका जन्म 26 अगस्त 1910 को मैसिडोनिया के स्काप्जे में हुआ था। वे 18 साल की उम्र में सिस्टर्स ऑफ लोरेटो में शामिल हुईं। 1929 में कोलकाता के लोरेटो कॉन्वेंट पहुंचीं।

1980: मारुति 800 कार भारत के मार्केट में लॉन्च

1980 में पहली बार मारुति 800 कार भारत के बाजार में आई। इसकी पहला मॉडल 1975 में तैयार हुआ, लेकिन यह सिर्फ ट्रायल के लिए था। यह भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाली कार है।इस मॉडल की करीब 27 लाख कार भारत में बिकी थीं।

1980: प्रकाश पादुकोण ऑल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैम्पियनशिप जीतने वाले पहले भारतीय

23 मार्च 1980 प्रकाश पादुकोण दुनिया के सबसे पुराने बैडमिंटन टूर्नामेंट ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन का खिताब जीतने वाले पहले भारतीय बने। 24 साल के पादुकोण ने मेंस सिंगल्स फाइनल में इंडोनेशिया के लियेम स्वी किंग को 15-3, 15-10 को हराकर जीत हासिल की थी।

1981: IT कंपनी इंफोसिस की पुणे में स्थापना

1981 में इंफोसिस की पुणे में स्थापना हुई। 2020 में इंफोसिस देश की दूसरी सबसे बड़ी IT कंपनी बन गई। पहले नंबर पर टीसीएस है। इसकी स्थापना एनआर नारायण मूर्ति ने 10 हजार रुपए से की थी। यह रुपए मूर्ति ने अपनी पत्नी सुधा मूर्ति से लिए थे।

1982: दूरदर्शन ने पहली बार 15 अगस्त को कलर शो पेश किया

1982 में दूरदर्शन ने पहली बार 15 अगस्त को कलर लाइव टेलीकास्ट किया। इसके साथ ही देश में रंगीन टेलीविजन शुरू हुआ। इसके बाद 1982 में दिल्ली में हुए एशियन गेम्स भी दूरदर्शन ने रंगीन लाइव टेलीकास्ट किए।

1983: भारत ने पहली बार ODI क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता

1983 में इंडिया ने पहली बार 43 रनों से वेस्टइंडीज को हराकर ODI क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता। 183 रन का टारगेट देने वाली भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज को 140 रन पर ऑलआउट कर दिया था। भारत लौटने पर प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने खिलाड़ियों का स्वागत किया।

1984: पीटी उषा ने लॉस एंजिलिस ओलिंपिक में चाैथी पोजिशन हासिल की

8 अगस्त 1984 को पीटी उषा लॉस एंजिलिस ओलिंपिक की 400 मीटर रेस में चौथी पोजिशन हासिल करने वाली पहली भारतीय बनीं। रोम की क्रिस्टियाना कोजोकारू ने उन्हें 1/100 सेकंड से मात देते हुए ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया था। इसके बाद उन्हें उड़न परी कहा जाने लगा।

1984: राकेश शर्मा अंतरिक्ष में पहुंचने वाले पहले भारतीय बने

3 अप्रैल 1984 को वायु सेना के कैप्टन राकेश शर्मा अंतरिक्ष पहुंचने वाले पहले भारतीय बने। उनके साथ सोवियत संघ के 2 एस्ट्रोनॉट्स भी थे। उस वक्त प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने जब उनसे पूछा- वहां से हिंदुस्तान कैसा लग रहा? तो राकेश ने जवाब दिया- सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तां हमारा। ये तस्वीर मॉस्को स्थित ट्रेनिंग सेंटर की है।

1984: कोलकाता में चली देश की पहली मेट्रो ट्रेन

24 अक्‍टूबर 1984 को भारत की पहली मेट्रो कोलकाता में चली। यह मेट्रो लाइन 3.4 किमी लंबी थी। इसकी आधारशिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 1974 में रखी थी।

1985: भारत में पहली बार ISD टेलीफोन सर्विस शुरू हुई

1985 में भारत में पहली बार इंटरनेशनल सब्सक्राइबर डायलिंग (ISD) सर्विस शुरू हुई। पहली फोन कॉल दिल्ली और इटली के बीच हुई। भारत में सबसे पहले 1881 में ओरिएंटल टेलीफोन कंपनी लिमिटेड इंग्लैंड ने कोलकाता, मुंबई, चेन्नई और अहमदाबाद में टेलीफोन एक्सचेंज स्थापित किए थे।

1986: देश का सबसे पॉपुलर टेलीविजन सीरियल रामायण रिलीज

टीवी पर रामायण सीरीज 1987 में दूरदर्शन पर रिलीज हुई। रामानंद सागर इसके लेखक, निर्माता और निर्देशक थे। यह सीरीज वाल्मीकि रामायण और तुलसी दास रामचरित मानस पर आधारित है। ये इंडिया में अब तक का सबसे पॉपुलर और बड़ा शो है।

1987: भारत ने पहली बार क्रिकेट वर्ल्ड कप होस्ट किया

1987 में चौथे क्रिकेट विश्व कप की मेजबानी भारत को मिली। कुछ मैच पाकिस्तान में भी हुए थे। ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 7 रनों से हराकर वर्ल्डकप जीत लिया। पहली बार सारे मैच 50 ओवर के हुए। इससे पहले 60 ओवर के वन डे मैच होते थे।

1988: 26 साल बाद भारतीय प्रधानमंत्री चीन गए



1989: देश की पहली मिसाइल अग्नि-1 का सफल टेस्ट

22 मई 1989 को देश की पहली मिसाइल अग्नि-1 का चांदीपुर रेंज से सफल टेस्ट हुआ। यह एक हजार किलो के न्यूक्लियर वॉर कैरी कर सकती है। इसे ट्रेन और रोड के जरिए एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा सकता है। इसकी मारक क्षमता 700 से 1000 किमी है।

1992: सत्यजीत रे पहले भारतीय बने जिन्हें ऑस्कर मिला

1992 में सत्यजीत रे पहले भारतीय बने, जिन्हें ऑस्कर अवॉर्ड मिला। उन्हें एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज (AMPAS) की तरफ से लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए मानद ऑस्कर दिया गया। 2 मई 1921 जन्मे सत्यीज ने 23 अप्रैल, 1992 को अंतिम सांस ली।

1993: पंजाब में आतंकवाद सबसे निचले स्तर पर पहुंचा

कंवर पाल सिंह गिल 90 के दशक में पंजाब के डीजीपी बने। एक साल के भीतर पंजाब में आतंकियों की संख्या 1500 से घटकर 50 हो गई। पंजाब में अलगाववाद को कुचलने का श्रेय गिल को ही मिला। वे देशभर में सुपर कॉप के नाम से फेमस हो गए।

1994: ऐश्वर्या राय मिस वर्ल्ड चुनी गईं, सुष्मिता सेन मिस यूनिवर्स बनीं

1994 में ऐश्वर्या राय ने मिस वर्ल्ड का खिताब जीता था। मिस इंडिया के आखिरी राउंड में ऐश्वर्या से पूछा गया- पति की खूबियों के लिए आप The bold के Ridge Forrester और Santra Barabara के Mason Capwell में से किस किरदार को चुनेंगी। ऐश ने जवाब दिया- Mason Capwell

1994 में सुष्मिता सेन और ऐश्वर्या राय दोनों ने ही मिस इंडिया पेजेंट में हिस्सा लिया था। सुष्मिता सेन ने ताज हासिल किया था। 1994 में ही वो मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में पहुंचीं। सुष्मिता ने पहली बार भारत की ओर से मिस यूनिवर्स का ताज अपने नाम किया था।

1995: विदेश संचार निगम लिमिटेड ने पहली बार इंडिया में इंटरनेट लॉन्च किया

15 अगस्त 1995 को विदेश संचार निगम लिमिटेड ने पहली बार देश में इंटरनेट लॉन्च किया नवंबर 1998 में सरकार ने निजी ऑपरेटरों को इंटरनेट सेवाएं उपलब्ध कराने की अनुमति दे दी।

1997: कल्पना चावला स्पेस में जाने वाली पहली भारतीय महिला

1997 में कल्पना चावला स्पेस में जाने वाली पहली भारतीय महिला बनीं। 19 नवंबर 1997 को कोलंबिया स्पेस शटल (STS-87) के जरिए चावला का पहला अंतरिक्ष मिशन शुरू हुआ था। वो दूसरी बार 2003 में स्पेस में गईं। लौटते वक्त स्पेस शटल दुर्घटना ग्रस्त हो गया।

1998: भारत ने पोखरण में परमाणु परीक्षण किया

11 मई 1998 को भारत ने राजस्थान के पोखरण में तीन परमाणु परीक्षण किए। भारत ने इसे ऑपरेशन शक्ति नाम दिया था। उसके बाद 13 मई को दो और न्यूक्लियर टेस्ट किए। इन परीक्षणों का नेतृत्व पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम ने किया था।

1999: कारगिल वॉर में भारत की फतह

भारत ने 1999 के कारगिल वॉर में पाकिस्तान को करारी शिकस्त दी थी। भारतीय फौज ने इसे ‘ऑपरेशन विजय’ नाम दिया था। युद्ध में कैप्टन विक्रम बत्रा ने 5 दुश्‍मन सैनिकों को पॉइंट ब्लैक रेंज में मार गिराया था। इसके लिए उन्हें मरणोपरांत परमवीर चक्र मिला।

2000: कर्णम मल्लेश्वरी ओलिंपिक में मेडल लाने वाली पहली महिला

सिडनी ओलिंपिक में 19 सितंबर 2000 को 69 किलो की वेट लिफ्टिंग कैटेगरी में कर्णम मल्लेशवरी ने कांस्य पदक जीता था। ऐसा करने वालीं वो पहली भारतीय महिला बनीं। 240KG में उन्होंने स्नैच कैटेगरी में 110KG और क्लीन एंड जर्क में 130KG भार उठाया।

2001: लता मंगेशकर को भारत रत्न

21 मार्च 2001 को लता मंगेशकर को भारत रत्न मिला। लता को 1972, 1975 और 1990 में राष्ट्रीय पुरस्कार, 6 बार फिल्म फेयर पुरस्कार और 1989 में दादा साहब फाल्के पुरस्कार मिला। 92 साल की उम्र में स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने दुनिया को अलविदा कह दिया।

2007: पहला टी-20 वर्ल्ड कप भारत के नाम

भारतीय क्रिकेट टीम ने महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में 2007 में पहला टी-20 वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रच दिया। भारत ने पाकिस्तान को फाइनल में 5 रन से मात दी थी। भारत के 5 विकेट पर 157 रन के जवाब में पाकिस्तान की टीम 19.4 ओवर में 152 रन ही बना सकी।

2008: भारत ने पहले अंतरिक्ष यान को चांद पर भेजा, झंडा वाला चौथा देश बना

22 अक्टूबर 2008 को भारत ने अपने पहले चंद्र मिशन 'चंद्रयान-1' का सफल प्रक्षेपण किया। यह अभियान मानव रहित था। इसे पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल की मदद से सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से प्रक्षेपित किया गया। भारत चंद्रमा पर अपना झंडा लगाने वाला चौथा देश बन गया।

2008: ओलिंपिक में व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा में भारत ने पहला गोल्ड जीता

2008 में अभिनव बिंद्रा ने भारत को व्यक्तिगत स्पर्धा में पहला ओलिंपिक गोल्ड दिलाया था। बीजिंग ओलिंपिक में पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल इवेंट में अभिनव ने अंतिम शॉट में 10.8 के स्कोर के साथ गोल्ड अपने नाम किया। तब भारत ने 2 कांस्य भी अपने नाम किए थे।

2009: देश को स्वदेशी सबमरीन अरिहंत मिली

2009 में भारत ने पहली स्‍वदेशी पनडुब्‍बी को लॉन्च किया। इसका नाम INS विक्रांत रखा गया। INS अरिहंत स्वदेशी तरीके से विकसित पहली परमाणु पनडुब्बी है। इसकी तैयारी 1970 के दशक में ही शुरू की गई थी। ऐसा करने वाला भारत छठा देश बन गया था।

2009: जय हो के लिए गुलजार और रहमान को ऑस्कर

2009 में भारतीय संगीतकार एआर रहमान को फिल्‍म 'स्‍लमडॉग मिलियनेयर' के लिए सर्वश्रेष्‍ठ संगीतकार का ऑस्‍कर अवार्ड मिला। ऑस्कर में 'स्लमडॉग' फिल्म ने 8 अवॉर्ड जीतकर इतिहास रच दिया।

फिल्म ‘स्लमडॉग मिलियनेयर’ में ‘जय हो’ सॉन्ग के लिए गीतकार गुलजार को ऑस्कर अवार्ड से सम्मानित किया गया। हालांकि ऑस्कर सेरेमनी में वह शामिल नहीं हुए, जिसकी वजह से इस अवार्ड को उनकी फिल्म की टीम ने लिया।

2010: इंडिया ने पहली बार दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में 100 पदक जीते

2010 में भारत में पहली बार दिल्ली में कॉमन वेल्थ गेम्स हुए। भारत ने इसमें रिकॉर्ड 101 मेडल के साथ दूसरा स्थान हासिल किया था। इनमें 38 गोल्ड, 27 सिल्वर और 36 ब्रॉन्ज मेडल थे। यह पहली बार था, जब कॉमन वेल्थ के इवेंट में भारत को 100 से ज्यादा मेडल हासिल हुए।

2011: दूसरी बार इंडिया ने ODI क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता

2 अप्रैल 2011 को टीम इंडिया ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में श्रीलंका को 6 विकेट से हराकर 28 साल बाद दूसरी बार वनडे वर्ल्ड कप पर जीता। इससे पहले 1983 में हमें ताज मिला था। युवराज सिंह को मैन ऑफ द सीरीज और धोनी को मैन ऑफ द मैच मिला।

2012: देश को पहली इंटर कॉन्टिनेंटल मिसाइल मिली, 5500 से 8000 किमी मारक रेंज

19 अप्रैल 2012 को देश को पहली इंटर कॉन्टिनेटल मिसाइल अग्नि-5 मिली। इसकी मारक क्षमता 5500 से 8000 किमी तक है। मतलब पूरा चीन इसकी जद में है। इसका परीक्षण ओडिशा के व्हीलर आइलैंड से किया गया।

2013: मंगल पर यान भेजने वाला एशिया का पहला और दुनिया का चौथा देश

2013 में मंगल पर अंतरिक्ष यान भेजने वाला भारत एशिया का पहला देश बन गया। इसरो ये कामयाबी हासिल करने वाली दुनिया की चौथी स्पेस एजेंसी बन गई। 'टाइम' मैगजीन ने मंगलयान को 2014 के सर्वश्रेष्ठ आविष्कारों में शामिल किया था।

2015: दुनिया ने पहला योग दिवस मनाया

11 दिसंबर 2014 को UN ने 21 जून को इंटरनेशनल योग-डे मनाने की घोषणा की। इसके बाद 2015 में पहली बार 21 जून को योग दिवस मनाया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करीब 35 हजार लोगों के साथ योग किया। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने इसका उद्घाटन किया था।

2016: भारत ने पाकिस्तान में की सर्जिकल स्ट्राइक

28-29 सितंबर 2016 की रात को भारतीय सेना की स्पेशल फोर्स ने LOC पार कर POK में सर्जिकल स्ट्राइक की। इस हमले में भारतीय सेना ने आतंकियों के 6 लॉन्च पैड तबाह कर दिए। 45 आतंकी मारे गए थे। यह स्ट्राइक उरी आतंकी हमले का बदला लेने के लिए की गई थी।

2018: इसरो ने एक साथ रिकॉर्ड 104 सैटलाइट लॉन्च किए

15 फरवरी 2017 को ISRO ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। ISRO ने अंतरिक्ष अभियान में एक साथ 104 सैटेलाइट लॉन्च किए। इससे पहले सिंगल मिशन में सबसे ज्यादा सैटलाइट लॉन्च करने का रिकॉर्ड रूस के नाम था, जिसने 2014 में 37 सैटेलाइट लॉन्च किए थे।

2018: स्टैच्यू ऑफ यूनिटी दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा

2018 में दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी बनकर तैयार हो गई। सरदार वल्लभ भाई पटेल की इस प्रतिमा की कुल ऊंचाई 182 मीटर है। जबकि आधार सहित इसकी कुल ऊंचाई 240 मीटर (790 फीट) है। यह प्रतिमा अमेरिका की स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से भी ऊंची है।

2021: नीरज ने जैवलिन थ्रो में भारत काे पहला गोल्‍ड दिलाकर इतिहास रचा

नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 में भारत के लिए जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीता। एथलेटिक्स में 100 साल में यह भारत का ये पहला गोल्ड मेडल था। नीरज ने 87.03 मीटर दूर भाला फेंककर यह कामयाबी हासिल की।

No comments