Breaking News

हिमाचल में बारिश का कहर, 15 की मौत व 6 लापता

kangra-himachal-pradesh-flood-photos-and-videos-cloudburst-in-mandi-chamba-and-kangra

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश से 15 लोगों की मौत हो गई है व 6 लापता हैं। मंडी में 10, चंबा में तीन और कांगड़ा में दो लोगों की मृत्यु हो गई है। मंडी जिला के गोहर की काशन पंचायत में घर गिरने से प्रधान सहित आठ लोग मलबे में दब गए, इनके शव बरामद कर लिए गए हैं। मंडी के ओल्‍ड कटौला में एक मकान भूस्‍खलन की चपेट में आने से परिवार के छह सदस्‍य लापता हो गए। 

सुबह एक बच्‍ची का शव बरामद कर लिया गया है। चंबा जिला के चुवाड़ी में पति-पत्‍नी और बेटा बाढ़ की चपेट में आकर काल का ग्रास बन गए। शाहपुर के गोरड़ा में नौ साल का बच्‍चा घर के नीचे दब गया। धीरा में डंगा गिरने से एक व्‍यक्ति की मौत हो गई।हिमाचल को पंजाब से जोडऩे वाली रेललाइन का चक्की खड्ड पर पुल बह गया है। दो सप्ताह पहले पुल क्षतिग्रस्त हो गया था और तब से ट्रेनें बंद थीं। पठानकोट राजमार्ग पर कांगड़ा के बनोई में चार जगह भूस्खलन हुआ है।



जिला मंडी के गोहर क्षेत्र की काशन पंचायत के प्रधान का घर भूस्‍खलन की चपेट में आ गया। रेस्‍क्‍यू आपरेशन में जुटा प्रशासन व स्‍थानीय लोग।

मंडी के कोटरोपी के पास पहाड़ी दरकने से मंडी-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग का कुछ हिस्सा धंसा। भूस्खलन से चंडीगढ़ मनाली व मंडी-पठानकोट राजमार्ग सहित सौ से अधिक सड़कें बंद हैं। बसें व अन्य वाहन कई घंटे से फंसे हैं। मंडी में पराशर मार्ग पर बागी नाला में बादल फटने से कई वाहन बह गए। अगले तीन दिन तक भारी वर्षा का अलर्ट है।





शिमला के ठियोग में पेट्राेल पंप पर गिरे पत्‍थरों के नीचे दबकर क्षतिग्रस्‍त हुए वाहन।



शिमला जिला के ठियोग में सड़क किनारे खड़े वाहनों पर गिरी चट्टानें। जिला शिमला में पचास के करीब मार्गों पर यातायात बंद है



जिला मंडी के धर्मपुर में स्थित बस अड्डा में पहुंचा खड्ड का पानी। बस अड्डे से आवाजाही ठप हो गई है। जिला मंडी में बारिश से भारी नुकसान हुआ है।



मनाली चंडीगढ़ हाईवे पर मंडी जिला के नौ मील में ट्रक पर गिरी चट्टान। गनीमत रही है कि हादसे में ड्राइवर की जान बच गई है।



जिला मंडी के थुनाग में बादल फटने के बाद आई बाढ़ में कई वाहन बह गए। इस घटना में पचास के करीब दुकानों को भी नुकसान पहुंचा है।



भूस्‍खलन की चपेट में आए मकान में दबे लोगों को निकालने का प्रयास करते प्रशासन और स्‍थानीय लोग। शनिवार सुबह व बीती रात को हुई इस बारिश से सबसे ज्‍यादा नुकसान मंडी जिला में हुआ है।

No comments