Breaking News

डॉ. ने बताई भूख न लगने, पेट भरा-भरा रहने, गैस-कब्ज की सबसे बड़ी वजह, तुरंत करें ये काम

भूख न लगने, पेट भरा-भरा रहने, गैस-कब्ज की सबसे बड़ी वजह, तुरंत करें ये काम

Ayurveda में शरीर में पाचन और चयापचय के कामकाज को 'अग्नि' (Agni) के रूप में जाना जाता है। बेहतर स्वास्थ्य के लिए खाए हुए भोजन को पचाना, अवशोषित करना और समावेश करना करना है जरूरी है और शरीर में यह काम अग्नि द्वारा किया जाता है। अग्नि भोजन को ऊर्जा में बदलती है, जो शरीर के सभी महत्वपूर्ण कार्यों के लिए जिम्मेदार है।

जब अग्नि संतुलित होती है तो व्यक्ति को अच्छी भूख लगती है, भोजन के बाद हल्कापन महसूस होता है, ऊर्जा, स्पष्टता में बढ़ोतरी होती है। लेकिन अगर किसी व्यक्ति के शरीर में अग्नि का कामकाज बाधित हुआ, तो उसके शरीर में पूरा चयापचय गड़बड़ा जाता है। इस उसका स्वास्थ्य खराब हो सकता है। उस व्यक्ति को भूख कम लगती है, वह भारी और सुस्त महसूस करता है और उसकी ऊर्जा कम हो जाती है।

शरीर में अग्नि के क्या-क्या काम हैं? आयुर्वेद के अनुसार, अग्नि का काम शरीर में भोजन को पचाना और अवशोषित करना है। इसके अलावा इसका काम शरीर का तापमान बनाए रखना, मानसिक स्पष्टता प्रदान करना, पोषण का संचार करना, स्वस्थ चमक पैदा करना और जीवन शक्ति प्रदान करना है। आयुर्वेद डॉक्टर रेखा राधामणि बता रही हैं कि जब अग्नि का कामकाज बाधित होता है, तो आपको अपने शरीर में क्या-क्या लक्षण महसूस हो सकते हैं।

जीभ पर सफेद परत बनना

अग्नि का कामकाज खराब होने से पेट खराब हो सकता है और उसका असर आपकी जीभ पर नजर आ सकता है। ऐसा होने से आपकी जीभ पर एक सफेद मोटी परत जम सकती है। अगर ओरल हाइजीन का ध्यान रखने के बावजूद ऐसा हो रहा है, तो समझ लें आपका पेट खराब हो चुका है।

कम या ज्यादा भूख लगना

अगर खाने-पीने का बराबर ध्यान रखने के बावजूद आपको बार-बार भूख लग रही है या भूख नहीं लग रही है, तो समझ लें कि अग्नि का संतुलन बिगड़ गया है जिसमें तुरंत सुधार की जरूरत है।
अग्नि बिगड़ने से खराब हो सकता है पेट

गैस या एसिडिटी

अगर आप अक्सर एसिडिटी, गैस, पेट फूलना, हीटबर्न, ऐंठन जैसी पेट की समस्याओं से पीड़ित रहते हैं, तो इसका मतलब है कि आपके शरीर में अग्नि सही तरह काम नहीं कर रहा है। ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर से मिले।

कब्ज या दस्त

अग्नि के बिगड़ने से पेट खराब होता है जिससे आपको दस्त या कब्ज जैसे रोग हो सकते हैं। अगर हेल्दी डाइट और एक्टिव लाइफस्टाइल के बावजूद आपको इस तरह की समस्याएं हैं, तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए।
आपको क्या करना चाहिए?

डॉक्टर के अनुसार अगर आपको ऊपर बताए लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो यह समय है कि आप अपने पाचन स्वास्थ्य पर ध्यान दें। ध्यान रहे कि सभी बीमारियां अग्नि के बिगड़ने यानी पेट खराब होने पर ही शुरू होती हैं।

No comments