Breaking News

गठिया के दर्द से मिल सकता है छुटकारा, बाबा रामदेव ने बताया कुछ ऐसा नुस्खा

get-rid-of-arthritis-or-gathia-pain-with-herbal-home-remedies

गठिया की बीमारी इन दिनों आम बनती जा रही है। न केवल बुजुर्ग बल्कि कम उम्र के लोगों में भी ये समस्या देखी जाने लगी है। गठिया को अर्थराइटिस भी कहा जाता है, इसमें जोड़ों की परेशानी होने लगती है। कई बार जोड़ों में दर्द के साथ सूजन भी आ जाती है। इसका ज्यादा असर घुटनों और पीठ या कूल्हों पर पड़ता है। जिसके कारण चलना-फिरना भी मुश्किल हो जाता है। डॉक्टरों की दवाओं के अलावा गठिया में बाबा रामदेव की जड़ी बूटी और उनके नुस्खे काफी कारगर साबित होते हैं। आइए जानें…

गठिया को वात रोग भी कहा जाता है, जिसे आयुर्वेद में बड़ी समस्या माना जाता है। आयुर्वेद में 80 प्रकार के वात रोग बताए गए हैं। सबसे पहले जिन लोगों को गठिया की समस्या है उन्हें खट्टी चीजें जैसे अचार, नींबू आदि से परहेज करना चाहिए। इसके अलावा नियमित योग करने से भी गठिया के दर्द में फायदा मिलता है। इनके अलावा कुछ चीजों के सेवन से गठिया की बीमारी धीरे-धीरे कम हो सकती है।

हल्दी से होता है फायदा
जिन लोगों को गठिया की परेशानी है वो हल्दी, मेथी और सौंठ का पाउडर बनाकर रख लें और नियमित रूप से इसका सेवन करें। ये गठिया के दर्द से राहत देता है। अगर हो सके तो इसमें अश्वगंधा भी मिला कर सेवन करें।

गुग्गुलु से ठीक हो सकता है गठिया
गुग्गुलु एक प्रकार का गोंद होता है जो एक पेड़ से निकलता है। इसे गठिया या अर्थराइटिक के दर्द के लिए रामबाण माना जाता है। इससे न केवल गठिया में होने वाला दर्द खत्म होता है, बल्कि सूजन भी खत्म हो जाती है। ये पुराने से पुराने गठिया में भी असरदार माना जाता है।

क्यों होता है गठिया?
गठिया शरीर के मेटाबोल्जिम में प्यूरिन नामक प्रोटीन के विकार के कारण होता है। जिसके कारण खून में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है। जो गठिया का रूप ले लेता है। अगर समय रहते इसका इलाज न किया जाए तो घुटनो, कूल्हो आदि इंप्लांट करने की भी नौबत आ सकती है।

No comments