Breaking News

लंदन वनडे कप में पुजारा ने बनाए 624 रन, अपनी तूफानी बल्लेबाज का श्रेय धोनी को दिया

लंदन वनडे कप में पुजारा ने बनाए 624 रन, अपनी तूफानी बल्लेबाज का श्रेय धोनी को दिया

भारतीय टीम के ताबड़तोड़ बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Chesteshwar Pujara) वैसे तो टेस्ट स्पेशलिस्ट के नाम से मशहूर है, लेकिन पिछले कई दिनों से रॉयल लंदन वन डे कप (Royal London One Day Cup) में इस बल्लेबाज का बल्ला आग उगलता नजर आ रहा है।

दरअसल, रॉयल लंदन वन डे कप में चेतेश्वर पुजारा (Chesteshwar Pujara) ने 9 मैचों में 624 रन बना डाले है, जिसके बाद इस टूर्नामेंट में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए है। इस कड़ी में पुजारा ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी का क्रेडिट एक टीम को देते हुए बयान जारी किया।

Cheteshwar Pujara ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी का CSK टीम को दिया श्रेयCheteshwar Pujara ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी का CSK टीम को दिया श्रेय

दरअसल टीम इंडिया के ताबड़तोड़ बल्लेबाज Cheteshwar Pujara पिछले कई दिनों से रॉयल लंदन वनडे कप में अपने बल्ले से तूफान मचाते हुए नजर आ रहे है। जहां उन्होंने 9 मैचों में 624 रन ठोक कर हर जगह वाह-वाही लूट ली है। वहीं हाल ही में द क्रिकेट पॉडकास्ट से बात करते हुए, पुजारा ने अपनी तूफानी पारी को लेकर एक खुलासा किया कि उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से 2021 में आईपीएल खेलने का मौका नहीं मिला और इस साल नीलामी में किसी टीम ने नहीं खरीदा था। इसके साथ ही उन्होंने कहा,

यह निश्चित रूप से मेरे खेल का एक अलग ही पक्ष है. इसमें तो कोई शक ही नहीं है. इंग्लैंड में पिच अच्छी थी। थोड़ी सपाट थी लेकिन उन विकेटों पर भी आपको अच्छे स्ट्राइक रेट से रन बनाने के लिए आक्रामक होकर खेलना होता है। आपकी सोच सकारात्मक होना जरूरी है। यह एक ऐसी चीज है जिस पर मैंने हमेशा काम किया है। मैं एक साल पहले धोनी की सीएसके का हिस्सा था और जब मैंने कोई मैच नहीं खेला और लोगों को तैयारी करते देखा, तो मैंने खुद से कहा कि अगर मैं छोटे फॉर्मेट में खेलना चाहता हूं, तो मुझे हर हाल में बड़े शॉट खेलने होंगे और अपने विकेट को कीमती बनाना होगा.’

रॉयल लंदन कप में पुजारा का ऐसा रहा प्रदर्शनCheteshwar Pujara ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी का CSK टीम को दिया श्रेय

बता दें रॉयल लंदन वन-डे कप में चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने 107, 174, 49*, 66 और 132 के स्कोर के साथ तीन शतक और एक अर्धशतक लगाया। उन्होंने उसी क्लब के लिए काउंटी चैम्पियनशिप डिवीजन टू में 1094 रन बनाए। वहीं पुजारा के हालिया प्रदर्शन ने ये साबित भी किया है कि उनकी बल्लेबाजी अप्रोच में बदलाव आया है और कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी यदि आने वाले समय में दिनेश कार्तिक की तरह ही टीम इंडिया में उनकी भी वापसी होती है।

No comments