Breaking News

गहरी नींद की आयुर्वेदिक दवा। नींद आने की दवा पतंजलि दवा

गहरी नींद की आयुर्वेदिक दवा। नींद आने की दवा पतंजलि दवा

नींद आने की दवा पतंजलि – हर व्यक्ति के लिए 24 घंटे में 6 से 8 घंटे की नींद आवश्यक है. हमारी दिनचर्या में नींद एक प्राकृतिक है जो हर किसी के लिए जरुरी है. यदि हम भरपूर नींद नहीं लेते तो कई तरह के बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है. नींद हमारे शरीर और मस्तिष्क को आराम देती है और हमें ऊर्जा प्रदान करती है जो कि स्वस्थ जीवन जीने के लिये आवश्यक है.

गहरी व सम्पूर्ण नींद से हमारे मन और शरीर को सम्पूर्ण विश्राम मिलता है जिससे हम खुद को ताजा एवं ऊर्जावान महसूस करते हैं. वहीँ अधूरी या गहरी नींद न होने के कारण व्यक्ति में दुख, दुर्बलता, कमजोरी, आलस्य जैसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं. अच्छे स्वस्थ शरीर के लिए पर्याप्त नींद लेना अति आवश्यक हैं.

नींद ना आना आजकल एक आम समस्‍या बन चुकी है. अच्‍छी नींद लाने के लिए लोग नींद की गोलीयो का सहारा लेने लगते हैं. लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि नींद की गोलियों का हमारे शरीर पर कितना बुरा असर पड़ता है. ऐसे में क्या इलाज़ करना चाहिए जिससे नींद भी आ जाए और कोई बुरा प्रभाव भी ना पड़े. इसलिए आज के इस पोस्ट में हम आप लोगों को नींद के लिए पतंजलि की आयुर्वेदिक दवाओं ( नींद आने की दवा पतंजलि ) के बारे में बताने वाले हैं. तो चलिए जानते हैं…
नींद आने की 3 पतंजलि दवा

यहाँ हम आपको पतंजलि में अनिंद्रा की समस्या को दूर करने के लिए 3 मेडिसिन के बारे में बता रहे हैं. अगर आप वैध की सलाह के मुताबिक इन दवाओं का सेवन करते हैं तो अनिंद्रा की समस्या दूर हो सकती है. तो नींद आने की दवा पतंजलि निम्न है…दिव्य मेधा क्वाथ – 300 ग्राम

दिव्य मेधा क्वाथ स्वामी रामदेव की पतंजलि दिव्य फार्मेसी में निर्मित आयुर्वेदिक दवा है. यह दवा मस्तिष्क संबंधी बीमारियों के लिए है. इसको बनाने के लिए केवल जड़ी बूटियों का प्रयोग हुआ है. यह मस्तिष्क को पोषण देती है तथा याददाश्त और एकाग्रता में वृद्धि करती है.

इसके अतिरिक्त पतंजलि मेधा क्वाथ बहुत सी अन्य दिमाग से जुडी बिमारियों जैसे की पुराना सिर दर्द, माइग्रेन, अनिद्रा, अवसाद, कमजोर स्मृति आदि के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यह दिमाग को आराम देता है और नकारात्मकता को रोकने में फायदेमंद है. यह अनिद्रा का इलाज करने में एक कारगर औषधि है.दिव्य मेधा वटी – 40 ग्राम

दिव्य मेधा वटी पतंजलि दिव्य फार्मेसी की एक आयुर्वेदिक दवा है. दिव्य मेधा वटी के फायदे में स्मृति हानि, सिरदर्द, अनिद्रा, सूजन और मिर्गी सहित विभिन्न मस्तिष्क विकारों में मिलता है. यह नकारात्मक विचारों और ऊब के कारण अत्यधिक सपने देखने और अवसाद से निपटने में भी कारगर है.

यह लोगों में आत्मविश्वास, उत्साह और ताकत को बढ़ावा देता है. इसका उपयोग छात्रों और बुद्धिजीवियों के लिए मानसिक टॉनिक के रूप में किया जाता है. पतंजलि दिव्य मेधा बोटी क्लासिक आयुर्वेदिक तरीके से बनाई जाती है. इसमें बहुत सारी जड़ी-बूटियाँ होती हैं और इसलिए यह प्रकृति का वरदान है. मेधा बोटी को अतिरिक्त ऊर्जा के साथ एक रासायनिक मुक्त हर्बल गुणकारी माना जाता है.दिव्य ब्राह्मी वटी – 40 ग्राम

सदियों से आयुर्वेदाचार्य ब्राह्मी वटी के इस्तेमाल से रोगों को ठीक करने का काम कर रहे हैं. आयुर्वेद में यह बताया गया है कि ब्राह्मी वटी मानव मस्तिष्क के लिए अमृत के समान औषधि है. यह हिमालय की तराइयों में पाए जाने वाले ब्राह्मी पौधे से तैयार किया जाता है. ब्राह्मी वटी तनाव से छुटकारा दिलाने में मदद करती है, सांसों की बीमारी, विष के प्रभाव को ठीक करती है. इसके साथ ही यह रोग प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune system) को मजबूत करती है.

पतंजलि दिव्य ब्राह्मी वटी मष्तिस्क तथा स्मरण शक्ति को स्वस्थ बनाती है. जो मरीज नींद ना आने की परेशानी से ग्रस्त हैं उनको ब्राह्मी वटी का प्रयोग करना चाहिए. इसके लिए किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक से ब्राह्मी वटी के इस्तेमाल की जानकारी जरूर लें.

नोट – आज का यह पोस्ट नींद आने की दवा पतंजलि केवल जानकारी के लिए है. यह कोई चिकित्सा सलाह नहीं है. किसी भी दवा का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श आवश्यक है.

No comments