Breaking News

शीघ्रपतन की समस्या से हैं परेशान? इलाज के लिए अपनाएं ये 5 आयुर्वेदिक उपाय

ayurvedic-remedies-to-prevent-premature-ejaculation-in-hindi

प्रीमेच्योर इजेकुलेशन यानी शीघ्रपतन पुरुषों में होने वाली एक सामान्य समस्या है। इस समस्या में संभोग के दौरान या ऑर्गेज्म पहले ही स्पर्म निकल जाता है। यह समस्या किसी भी उम्र के पुरुष को हो सकती है। मानसिक तनाव होना शीघ्रपतन का सबसे प्रमुख कारण है। 

इसके अलावा, खानपान की गलत आदतों खराब जीवनशैली एंटीबायोटिक दवाओं का अधिक सेवन या शराब और नशीले पदार्थों के सेवन के कारण भी शीघ्रपतन की समस्या हो सकती है। अगर शारीरिक संबंध बनाने की 1 मिनट के अंदर ही वीर्य निकल जाता है तो आपको शीघ्रपतन की समस्या हो सकती है। शीघ्रपतन की समस्या से निपटने के लिए आयुर्वेदिक उपायों का सहारा ले सकते हैं। आयुर्वेद में शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने के कई उपाय बताए गए हैं। आइए जानते हैं शीघ्रपतन से निजात पाने के आयुर्वेदिक उपाय (Sheegrapatan Ke Ayurvedic Upay) -

शीघ्रपतन रोकने के 5 आयुर्वेदिक उपाय - Ayurvedic Remedies For Premature Ejaculation In Hindi

शीघ्रपतन की समस्या में आयुर्वेदिक इलाज कारगर हो सकता है। आइए जानते हैं शीघ्रपतन को रोकने के कुछ आयुर्वेदिक उपाय -

जायफल (Nutmeg)

आयुर्वेद में जायफल का इस्तेमाल शीघ्रपतन के इलाज के लिए किया जाता है। शीघ्रपतन की समस्या को ठीक करने के लिए आप जायफल का सेवन कर सकते हैं। इसके लिए एक गिलास दूध में पांच ग्राम जायफल पाउडर मिलाकर पीएं। इसके नियमित रूप से इस दूध का सेवन करने से आपको शीघ्रपतन की समस्या से जल्द राहत मिलेगी।

अश्वगंधा (Ashwagandha)

आयुर्वेद में अश्वगंधा का विशेष महत्व बताया गया है। अश्वगंधा का इस्तेमाल कई तरह की स्वास्थ्य और यौन संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। अगर आप शीघ्रपतन की समस्या से परेशान हैं तो इसका सेवन कर सकते हैं। इसके लिए अश्वगंधा चूर्ण को दूध या पानी के साथ लें। यह शीघ्रपतन की समस्या को ठीक करने में लाभकारी होता है। नियमित रूप से इसका सेवन करने से शीघ्रपतन की समस्या ठीक हो सकती है।

आंवला (Gooseberry)

आंवले का सेवन करने से सेहत को कई लाभ मिलते हैं। आंवले का सेवन शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने के लिए भी किया जा सकता है। इसके लिए आप आंवले के चूर्ण में थोड़ा सा देसी घी मिलाएं। दोपहर के खाने के बाद इस मिश्रण का सेवन करें। कुछ दिनों तक लगातार इसका सेवन करने से आपको काफी आराम मिल सकता है। आयुर्वेद में शीघ्रपतन की समस्या से निजात पाने के लिए आंवले का सेवन करने की सलाह दी जाती है।

तेल मालिश (Oil Massage)

आयुर्वेद में तेल मालिश के कई लाभ बताए गए हैं। तेल से शरीर की मालिश करने से कई विकारों में लाभ होता है। शीघ्रपतन की समस्या से निजात पाने के लिए आप दालचीनी और काले तिल का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप इस तेल से पेट के निचले हिस्से की मालिश कर सकते हैं। इससे रक्त संचार बेहतर तरीके से होगा और शीघ्रपतन की समस्या को ठीक करने में मदद मिलेगी।

मूसली (Musli)

आयुर्वेद में सफेद मूसली को बहुत लाभकारी माना जाता है। अगर आपको शीघ्रपतन की समस्या है तो आप सफेद मूसली का सेवन कर सकते हैं। इसके नियमित सेवन से यौन शक्ति बढ़ती हुई और शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने में मदद मिलती है। इसके लिए आप रात में दूध के साथ सफेद मूसली के पाउडर का सेवन कर सकते हैं। नियमित रूप से इसका सेवन करने से वीर्य जल्दी से नहीं निकलता है और शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिलता है।

No comments