Breaking News

खाना खाते समय सीने में होने वाले दर्द को ना करें नजरअंदाज, हो सकता है बड़ा नुकसान

do-not-ignore-the-pain-in-chest

हम सभी के साथ कभी ना कभी ऐसा जरूर हुआ होगा जब खाना खाते वक्त हमें सीने या गले में तेज दर्द हुआ हो. दरअसल, कई बार खाने की किसी चीज का कोई बड़ा टुकड़ा या कोई गर्म खाद्य पदार्थ आपके गले में फंस जाता है जिसके तुंरत बाद आपको सीने में तेज दर्द या जलन महसूस होती है. ये बहुत ही सामान्य है जो लगभग हर किसी के साथ होता है. ऐसा कुछ सेकंड के लिए होता है.

इसके बाद हम पानी पी लेते हैं और हमारा दर्द दूर हो जाता है. लेकिन कई बार ये दर्द सामान्य नहीं होता और किसी बड़ी बीमारी का संकेत हो सकता है. अगर खाना निगलते हुए लगातार दर्द हो रहा है तो ये भोजन की नली में सूजन, एसिड बनने या एक प्रकार के हर्निया का लक्षण हो सकता है. इस खबर में हम आपको बताएंगे कि अगर आपको भी इस परेशानी से गुजरना पड़ रहा है तो इसके पीछे क्या वजह हो सकती हैं. साथ ही आपको बताएंगे कि आप बिना डॉक्टर के भी इस परेशानी को कैसे दूर सकते हैं.

खाने के दौरान क्यों होता है सीने में दर्द
खाना निगलने के दौरान सीने में दर्द की कई वजहें हो सकती हैं जिनमें सबसे प्रमुख वजह जलन और अंदरूनी अंगों की चोट हो सकती है. कई बार पेट से जुड़ी भोजन की नली में सूजन या चोट होती है जिसकी वजह से आपको खाना निगलने में परेशानी होती है. इसके अलावा अगर आप कुछ बहुत गर्म, बहुत हार्ड या खाने का कोई बड़ा पीस निगलने की कोशिश करते हैं तो आपको दर्द महसूस होता है.

कई बार गर्भावस्था में भी ऐसा होता है या कुछ गलत खाने पर लगातार उल्टियों की वजह से भी सीने में मरोड़ उठती है. वायरल संक्रमण की वजह से भी दर्द हो सकता है. ज्यादा हालत खराब होने या दर्द के ज्यादा समय तक रहने की स्थति में तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए. कई मामलों में फूड पाइप में चोट अधिक गंभीर हो सकती है जो आगे चलकर घाव बन जाती है. अगर कोई व्यक्ति खाना निगलते समय सीने में दर्द के बाद ज्यादा तकलीफ महसूस करता है तो उसे बहुत गंभीरता से लेते हुए इलाज कराना चाहिए.

दवाओं की वजह से भोजन की नली में होती है जलन
कुछ दवाओं की वजह से भी भोजन की नली में जलन शुरू हो जाती है. लंबे समय तक एक तरह की दवा लेने पर भी कई घंटों या 10 दिनों तक दर्द हो सकता है. दवाओं की वजह से सीने में दर्द, जलन और निगलने में परेशानी हो सकती है. वहीं, कई बार दवा को कम पानी के साथ निगलने के चक्कर में या लेटे हुए दवा खाने के दौरान भी ये स्थति बन सकती है.

अगर किसी दवा की वजह से आपको दर्द हो रहा होता है और आप उस दवा की पहचानकर उसे खाना बंद कर देते हैं तो आपकी परेशानी ठीक हो जाती है लेकिन बेहतर होगा कि आप डॉक्टर के परामर्श के बाद ही दवा बंद करें.

एसिड रिफ्लक्स
कई बार एसिड रिफ्लक्स की वजह से भी आपको सीने में दर्द या जलन हो सकती है. एसिड रिफ्ल्क्स वो स्थिति है जिसमें पेट के एसिड्स लौटकर फूड पाइप में आ जाते हैं. इसकी वजह से भी व्यक्ति को सीने में तेज जलन और दर्द हो सकता है. इस तरह के हालात में लोगों को मेडिकल से दवा लेकर राहत मिल सकती है.

हाइटल हर्निया

इस तरह के हर्निया की समस्या तब उत्त्पन्न होती है जब पेट का कोई हिस्सा, मांसपेशी या ऊतक किसी छेद की सहायता से बाहर आने लगता है. पेट में हर्निया होना सामान्य कंडीशन है. इसकी वजह से कई बार खाना खाने में परेशानी, जलन, दर्द, थकान या मुंह का स्वाद बिगड़ जाता है. इसका इलाज बीमारी के कारण, प्रकार और गंभीरता पर निर्भर करता है.

अगर किसी को हल्की-फुल्की दिक्कत है तो उसे खाने के पैटर्न में बदलाव और सुधारकर ठीक किया जा सकता है. अगर दिक्कत ज्यादा है तो इसके लिए दवाएं या फिर सर्जरी की मदद ली जाती है.

इसोफेजियल मोटिलिटी डिसॉर्डर
एसोफेजियल मोटिलिटी डिसऑर्डर (EMD) भोजन की नली का एक विकार है जो खाना निगलने में कठिनाई, दर्द, ऐंठन की वजह बनता है। ये तब होता है जब भोजन नली की मांसपेशियां काम नहीं कर रही होती और वो भोजन को मुंह से पेट तक ले जाने में असमर्थ हो जाती हैं. इस प्रकार के विकार असामान्य हैं, लेकिन वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि इससे कुछ लोगों में सीने का दर्द और खाना निगलने में कठिनाई पैदा कर सकते हैं।

क्रॉहन्स रोग
क्रॉन्हन्स एक प्रकार की आंत की बीमारी है. ये आंत को नुकसान पहुँचाती है लेकिन कई मामलों में ये भोजन की नली और पेट पर भी असर डाल सकती है. इसकी वजह से सीने में दर्द, जलन, उल्टी, वजन घटना, खाना खाने में दिक्कत जैसे कई परेशानी हो सकती हैं.

ईोसिनोफिलिक इसोफैगिटिस
ईोसिनोफिलिक इसोफैगिटिस एक दुर्लभ क्रॉनिक डिसीस है जो भोजन की नली में सूजन का कारण बनती हैं। ईसिनोफिलिक इसोफैगिटिस के लक्षण
भोजन निगलने में परेशानी
एसिड बनना
पेट में जलन

डॉक्टर ईोसिनोफिलिक इसोफैगिटिस डिसॉर्ड के कारणों को लेकर निश्चित नहीं है लेकिन ये किसी एलर्जी की वजह से हो सकता है. हैरानी की बात है कि इसका कोई इलाज नहीं है लेकिन स्टेरॉयड जैसी कुछ दवाएं इससे राहत दिला सकती हैं. इसके साथ कुछ तरह के खाद्य पदार्थ को डाइट से हटाकर भी मरीज को आराम मिल जाता है.

इसोफेजियल कैंसर
कुछ मामलों में भोजन की नली में दर्द एसोफैगल कैंसर की वजह से हो सकता है. खाना निगलने में परेशानी इस प्रकार के कैंसर के सबसे आम लक्षणों में एक है. इसके अलावा छाती में दर्द, वजन घटना, आवाज भारी हो जाना, लंबे समय से खांसी, उल्टी और भोजन की नली में खून का बहना ये सब एसोफैगल कैंसर के लक्षण हैं जो समय के साथ बिगड़ते जाते हैं. लेकिन जल्दी पता लगने पर बीमारी को ठीक किया जा सकता है. अगर कैंसर केवल नली तक सीमित है तो सर्जरी और एंडोस्कोपी से ठीक किया जा सकता है लेकिन अगर ये फैल गया है तो इस स्थिति में कीमोथेरेपी और ईम्यूनोथेरेपी अपनाई जाती है.

रिस्क फैक्टर

कभी-कभी साफ नहीं हो पाता कि खाना निगलते समय दर्द क्यों हो रहा है. लेकिन इसकी कुछ सामान्य वजहें हो सकती हैं.

भोजन की नली पर दबाव: अगर किसी व्यक्ति को लगातार खांसी होती है, बार-बार उल्टी होती है तो इन सबकी वजह से फूड पाइप की मांसपेशियों पर दबाव पड़ता है. इससे हर्निया का खतरा बढ़ सकता है.
दवाएं: कई तरह की दवाएं जो फूड पाइप की मांसपेशियों में दर्द पैदा कर सकती हैं.
गर्भावस्था: गर्भावस्था में एसिड्स की वजह से ये कंडीशन बन सकती है. बार-बार उल्टी होने से भी फूड पाइप में जलन और दर्द हो सकता है.
मोटापा: अधिक वजन की वजह से भी हर्निया, एसिड रिफ्ल्क्स जैसी परेशानी हो सकती है. इसलिए वजन को कम कर इस परेशानी से बचा जा सकता है.
धूम्रपान और शराब: धूम्रपान, धुएं को इनहेल करने और शराब की वजह से भी फूड पाइप में दिक्कत हो सकती है.
फैमिली हिस्ट्री: ये बीमारी पारिवारिक कारणों की वजह से भी हो सकती है. अगर आपके परिवार में किसी को ये दिक्कत है तो संभव है कि आपको भी ये परेशानी हो सकती है.

लक्षण दिखने पर क्या करें
अगर आपको खाने खाते वक्त हल्की-फुल्की दिक्कत हो रही है तो आप नीचे दिए गए टिप्स की मदद से उसे दूर कर सकते हैं लेकिन दिक्कत ज्यादा हो तो डॉक्टर के पास जाएं.

एक-साथ ज्यादा ना खाएं, थोड़े-थोड़े अंतराल में भोजन करें. खाने को अच्छी तरह चबाकर खाए. हार्ड चीजों के बजाय नर्म खान खाने की कोशिश करें. एसिडिक, तीखा और झनझनाहट पैदा करने वाले खाद्य पदार्थों से परहेज करें. कैफीन, सिगरेट और शराब का सेवन ना करें. भोजन के बाद तुरंत बिस्तर पर ना जाएं. ऐसे खाद्य पदार्थों की पहचान करें जिनसे परेशानी बढ़ती है और उन्हें तुरंत छोड़ दें. दवा को खूब सारे पानी के साथ लें और संभव हो तो भोजन के साथ दवा खाने की कोशिश करें ताकि दवा का नली से संपर्क कम से कम हों.

इस स्थिति में डॉक्टर के पास जाएं
अगर किसी व्यक्ति को लगातार खाना खाते समय सीने में दर्द हो रहा है तो इस कंडीशन में उसे डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिए. इसके अलावा बार-बार उल्टी, भूख नहीं लगना, खाने या पीने में दिक्कत, मल में खून और अचानक से वजन घटने की स्थिति में भी तुरंत जांच करानी चाहिए.

कुल मिलाकर अगर आपको खाना निगलते समय छाती में बार-बार दर्द होता है तो संभव है कि आपकी भोजन की नली में कोई दिक्कत हो रही है. ये दवाओं, कुछ तरह के खाद्य पदार्थों या पेट में एसिड बनने की वजह से सकता है जिसमें घबराने की कोई बात नहीं है. अगर परेशानी लंबे समय तक रहती है तो आप डॉक्टर से परामर्श लेकर इलाज करा सकते हैं.

No comments