Breaking News

“यार इज्जत की पूरी धज्जी उड़ा दी”, श्रीलंका ने किया ऑस्ट्रेलिया की उम्मीदों को चकनाचूर, तो फैंस ने लिए कंगारू टीम के जमकर मजे

“यार इज्जत की पूरी धज्जी उड़ा दी”, श्रीलंका ने किया ऑस्ट्रेलिया की उम्मीदों को चकनाचूर, तो फैंस ने लिए कंगारू टीम के जमकर मजे

Australia Team: टी20 विश्व कप में आज यानि 5 अक्टूबर को इग्लैंड और श्रीलंका के बीच एक रोमांचक मुकाबला खेला गया। इस मैच से ऑस्ट्रेलिया टीम की काफी उम्मीदे जुड़ी थीं। अगर लंकाई टीम इंग्लैंड को शिकस्त देती तो इससे सबसे बड़ा फायदा कंगारू टीम (Australia Team) को होने वाला था। क्योंकि आरोन फिंच एंड कंपनी को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए इंग्लैंड का हारना जरूरी था। लेकिन, काफी करीबी मैच में अंग्रेजी टीम ने 4 विकेट से जीत दर्ज करते हुए सीधे सेमीफाइनल के लिए क्वॉलीफाइ कर लिया है। ऐसे में अब फैंस ऑस्ट्रेलिया टीम का जमकर मजाक उड़ा रहे हैं। इसका अंदाजा आप सोशल मीडिया पर आ रही प्रतिक्रियाओं को देखकर लगा सकते हैं।

इग्लैंड ने जीता 4 विकेट से मुकाबला

श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इग्लैंड के सामने निर्धारित 20 ओवरो में 142 रनों का टारगेट रखा। टारगेंट का पीछा करते हुए इंग्लिश टीम की शुरूआत शानदार रही। कप्तान बटलर और एलेक्स हेल्स के बीच 75 रनो की सलामी साझेदारी देखने को मिली। वहीं सलामी जोड़ी के जाने के बाद इग्लैंड टीम को थोड़ा परेशानी का सामना तो करना पड़ा। लेकिन बाद में स्टोक्स की शानदार पारी ने इग्लैंड टीम को 4 विकेट से जीत दिलाई। इसी जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलियाई टीम (Australia Team) का टूर्नामेट में सफर भी खत्म हो गया हैं।

सेमीफाइनल में पहुची इग्लैंड की टीम

श्रीलंका से मुकाबला जीतने के बाद इंग्लिश टीम ने ग्रुप-1 के सेमीफाइनल में जगह बनाने में कामयाब रही हैं। वहीं इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलियाई टीम (Australia Team) टूर्नामेंट से बाहर हो गई हैं। मुकाबले में शानदा गेंदबाजी करने के लिेए आदिल रशिद को प्लेयर ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया । उन्होंने 4 ओवरो में गेंदबाजी करते हुए 4 की शानदार इकॉनोमी रेट से 16 रन लुटाकर 1 विकेट झटाका।

1 comment

XZWDYY2PskcV said...

The capability to quickly produce varieties of|these kind of|most of these} components mixed with an open ecosystem is unmatched. Jacob went on to earn his PhD in Powder Material Science at Colorado School of Mines. There he gained the expertise needed to know the benefits and high precision machining drawbacks of subtractive manufacturing. One day Jacob was mixing particles and casting metal and he had an insightful yet limiting thought, “these wonderful processes cannot be commercialized.” Later that day, he and a friend went out for a drink. They ended up speaking about life after graduation and totally different technologies.